आइसोलेशन डायरीज़: माँ के हाथों का खाना और मनी हाईस्ट जैसी चीज़ों में व्यस्त हैं साथियान गणानाशेखरन

भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी साथियान गणानाशेखरन ने लॉकडाउन के बाद खेलने की इच्छा जताई। 

जहां कोरोना वायरस (COVID-19) ने पूरी दुनिया पर ब्रेक लगा दिया है, वहीं खेल जगत भी इससे अछूता नहीं रह पाया। सेल्फ-आइसोलेशन का पालन कर रहे खिलाड़ी भी अपना समय व्यतीत करने के लिए कुछ मुनासिब तकनीकों का पालन कर रहे हैं।

भारतीय टेबल टेनिस के सितारे साथियान गणानाशेखरन (Sathiyan Gnanasekaran) जो कि भारत रैंकिंग में भारत की ओर से सबसे ऊपरी स्थान पर काबिज़ हैं, वे भी अपने घर में रह कर इस लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं। हंगेरियन ओपन में अचंता शरत कमल (Achanta Sharath Kamal) के साथ सिल्वर मेडल जीतने वाले साथियान अपने ओलंपिक डेब्यू के लिए पूरी तरह से तैयार थे, लेकिन कोरोना वायरस के चलते उन्हें भी अपने कारवां को बीच मझदार में रोकना पड़ा।

ओलंपिक चैनल ने इस सितारे से बातचीत कर जाना कि इस मुश्किल दौर में वह अपना समय कैसे बिता रहे हैं और खुद को वह कैसे व्यस्त रख रहे हैं।

इतने लंबे तक समय आप पहले कभी घर पर रहे हैं?

मुझे याद भी नहीं है कि मैंने कभी इतना लंबा समय घर पर रहकर बिताया हो। शायद बारहवीं की परीक्षा के समय में मैं घर पर रहा था। इस बात को भी 10 साल बीत चुके हैं। 

किसी नए कौशल को सीखने की इच्छा जताई?

मैं योग और ध्यान को अभ्यास में ला रहा हूं। मैंने इसे सीखने के लिए एक क्लास में दाख़िला लिया है लेकिन फिलहाल मैं इसमें ज़्यादा समय नहीं दे पा रहा हूं। इसके अलावा मैं अपनी माँ का हाथ बटाता हूं।

कोई ऐसा काम जिसमे आपको लगता है कि आप सक्षम नहीं हैं?

खाना बनाना। मैंने कई बार खाना बनाने को सोचा और उसमे मुझे सफलता नहीं मिली। मैं खाना खाने में अच्छा हूं (माज़ाकिया अंदाज़ में), लेकिन इसे बनाने और सीखने में अभी समय है। हालांकि जल्द ही मैं इस कौशल को भी सीख लूंगा। मैं ज़्यादा नाच गाना नहीं कर सकता और इसी वजह से मुझे ऐसा करने के लिए कोई कहता भी नहीं है।

लॉकडाउन के समय आपका डाइट प्लान क्या है?

इस मामले में मैं सही जा रहा हूं। मेरी माँ को यह आभास है कि एक खिलाड़ी के जीवन में पोषण या सही आहार का महत्व क्या है। ज़्यादातर मैं घर का बना साउथ इंडियन खाना ही खाता हूं। चावल, सब्ज़ी और फलों का सेवन बढ़ गया है। लॉकडाउन एक तरह से मेरे लिए फ़ायदेमंद बन गया है। मैं घर पर होता हूं और माँ के हाथ का खाना खाता हूं। खानपान एक ऐसी चीज़ है जिसका मैं मज़ा ले रहा हूं।

घर में आपका पसंदीदा वर्कआउट क्या है?

मैं छत पर अपनी माँ के साथ व्यायाम करता हूं। वे स्वास्थ को बहुत अहमियत देती हैं और इसे लेकर वे मुझसे ज़्यादा उत्साहित होती हैं।

हम स्किपिंग करते हैं। इसे करने के लिए बड़ी जगह की ज़रूरत नहीं पड़ती और यह आपको चुस्त बनाता है। मैं ध्यान रखता हूं कि मैं ज़्यादा से ज़्यादा पसीना बहाऊं। बचपन में मैं स्किपिंग बहुत करता था और अब इसे दोबारा करना अच्छा है।

किसी नए टीवी शो या किसी किताब में आपने रूचि दिखाई?

मैं और मेरी माँ रोज़ाना नेटफ्लिक्स पर फिल्म देखते हैं। मुझे मनी हाईस्ट बहुत पसंद आया। मुझे तीनों सीज़न बहुत अच्छे लगे।

इसके अलावा आज कल मैं बायोग्राफी भी पढ़ रहा हूं, ख़ासतौर से साइना नेहवाल (Saina Nehwal) और अभिनव बिंद्रा (Abhinav Bindra) की। टोक्यो 2020 के लिए यह मेरे लिए प्रेरणादायक हैं।

किसे सबसे ज़्यादा वीडियो कॉल करते हैं?

जी हाँ, मैं अपने सबसे अच्छे दोस्त प्रभाकर के साथ वीडियो कॉल पर बात करता हूं। हम दोनों ने टेबल टेनिस एक साथ शुरू किया था। वे तमिलनाडु और रेलवे के लिए खेल चुके हैं।

हम वैसे भी कॉल पर बात करते हैं। वो इस समय हैदराबाद में अपने रिश्तेदार के घर पर रह रहे हैं।

आइसोलेशन ख़त्म होने के बाद आप सबसे पहले क्या करेंगे?

मैं सबसे पहले टेबल टेनिस खेलूंगा। मैं अपने शरीर को दोबारा से खेल में लाऊंगा। ज़ाहिर तौर पर घर में इतनी जगह नहीं होती कि आप खुल कर खेल पाएं।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!