बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफिकेशन - अम्मान | तीसरा दिन - लाइव ब्लॉग

एशिया और ओशिनिया क्वालिफायर्स के तीसरे दिन के हर एक मुक़ाबले का लाइव अपडेट, वीडियो हाइलाइट्स, और प्रतिक्रियाएं देखें। ओलंपिक चैनल आपके लिए ‘रोड टू टोक्यो 2020’ से संबंधित सभी एक्शन लेकर आ रहा है।

लेखक रितेश जायसवाल ·

नमस्कार! आप सभी का जॉर्डन के अम्मान में चल रहे एशिया/ओशिनिया ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट के तीसरे दिन स्वागत है।

आप इस टूर्नामेंट का लाइव टेलीकास्ट यहीं ओलंपिक चैनल पर देख सकते हैं। इसके आलावा पहली बार खासतौर पर आपके लिए हिंदी में बॉक्सिंग की कमेंट्री भी यहां उपलब्ध है।

लाइव ब्लॉग – तीसरा दिन – गुरुवार, 5 मार्च

नए अपडेट हासिल करने के लिए कृपया पेज रिफ्रेश करें... सभी समय भारतीय समयानुसार (IST)

इसी के साथ एक और बेहतरीन दिन का अंत हो गया। सभी 24 मुकाबलों में मुक्केबाज़ों ने अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की। इसी के साथ हम भी आपसे विदा लेते हैं, कल फिर हम आपके लिए कुछ दिलचस्प मुकाबलों की हर एक अपडेट लेकर हाज़िर होंगे।

23:19 - पाउलो औकुसो (ऑस्ट्रेलिया) बनाम दिल्शोद रूज़मेतोव (उज़्बेकिस्तान) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

शाम के सत्र के आखिरी मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के पाउलो औकुसो और उज़्बेकिस्तान के दिल्शोद रूज़मेतोव के बीच में मुकाबला हुआ। तीनों राउंड में दोनों ही मुक्केबाज़ों के बेहतरीन प्रदर्शन से काफा उलटफेर देखने को मिला। जजों ने अंत में भी स्प्लिट निर्णय 3-2 से ऑस्ट्रेलिया के पाउलो औकुसो के पक्ष में सुनाया।

23:08 - शिनेबायर नारमंदाख (मंगोलिया) बनाम मान्ह चोंग (वियतनाम) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

मेंस लाइट-हेवीवेट में यह मुकाबला मंगोलिया के शिनेबायर और वियतनाम के मान्ह चोंग के बीच शुरू हुआ। पहले दो राउंड में दोनों ही मुक्केबाज़ो ने आक्रामाक रुख अपनाते हुए एक-दूसरे पर कुछ अच्छे पंच थ्रो किए। तीसरे राउंड में नारमंदाख के सिर पर लगे कट से खून निकलने पर रेफरी ने बाउट बीच में ही रोक दी। नेचुरल चोट लगने की वजह से रेफरी ने RSC नहीं दिया। जजों ने स्प्लिट निर्णय वियतनाम के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

सचिन कुमार ने बॉक्सिंग क्वालिफ़ायर्स के पहले मुकाबले में किया शानदार प्रदर्शन

22:52 - डी आयोपो (सामोआ) बनाम सचिन कुमार (भारत) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

सचिन कुमार को यहां तक पहुंचने के लिए ट्रायल्स से गुज़रना पड़ा, जहां उन्होंने सर्विसेज़ स्पोर्ट्स कंट्रोल बोर्ड (Services Sports Control Board) के बृजेश यादव (Brijesh Yadav) को 6-3 से शिकस्त दी।

हरियाणा स्टेट बॉक्सिंग टूर्नामेंट के स्वर्ण पदक विजेता सचिन को पहले राउंड में बाई मिला था और वह राउंड ऑफ़ 16 में सामोआ के NSW ख़िताब विजेता डी आयोपो के सामने रिंग में हैं।

पहला राउंड: राउंड ऑफ-16 के पहले राउंड में सचिन कुमार ने शानदार शुरुआत की। उनके प्रतिद्वंदी ने ज्यादातर क्लिंचिंग करने की कोशिश की। सचिन कुछ बेहतरीन राइट स्ट्रेट लगाने में कामयाब रहे और जजों ने unanimous निर्णय इस भारतीय मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

दूसरा राउंड: भारतीय मुक्केबाज़ सचिन कुमार लगातार दूसरे राउंड में भी सामोआ के डी आयोपो पर भारी रहे और जजों ने एक पक्षीय निर्णय 5-0 से उनके पक्ष में सुनाया।

तीसरा राउंड: अपने अंतिम तीन मिनट में भी सचिन ने अपने प्रतिद्वंदी को कोई मौका नहीं दिया। अपने गार्ड मजबूत रखते हुए उन्होंने एक शानदार राइट हुक और लेफ्ट क्रॉस पंच लगाया। साफतौर पर वह डी आयोपो पर भारी रहे। जजों ने अंततः unanimous निर्णय (5-0) (30-27, 30-27, 30-27, 30-27, 30-27) से सचिन के पक्ष में सुनाया। 

अब क्वार्टर-फाइनल में सचिन कुमार का मुकाबला चीन के डैक्सांग चेन से 8 मार्च को सुबह के सत्र में होगा।

22:36 - एर्किन अद्येल्बेक ऊलू (किर्गिस्तान) बनाम डैक्सांग चेन (चीन) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

राउंड ऑफ-16 का यह मुकाबला मेंस लाइट-हेवीवेट में किर्गिस्तान के एर्किन और चीन के डैक्सांग के बीच शुरू हुआ। दोनों ही मुक्केबाज़ों के 3-3 मिनट के तीन सेट खत्म करने के बाद जजोंने ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-27, 29-28, 30-27, 30-27, 30-27) से चीन के मुक्केबाज़ के पक्ष में दिया।

22:21 - यूइतो मोरिवाकी (जापान) बनाम सेयेदशाहिन मौसावी (ईरान) - मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

यह मुकाबला ईरान के सेयेदशाहिन मौसावी और जापान के यूइतो मोरिवाकी के बीच में शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में दोनों मुक्केबाज़ों ने आक्रामक रुख अपनाया और जलद ही थक गए। अंततः जजों ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-27, 30-27, 29-28, 30-27, 30-27) से ईरान के मौसावी के पक्ष में सुनाया।

22:10 - वीरप्पन जोंगजोहो (थाईलैंड) बनाम टैंगलेथन तौहेटा एर्बिएक (चीन) - मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

मेंस मिडिलवेट का यह मुकाबला थाईलैंड के वीरप्पन जोंगजोहो और चीन के टैंगलेथन तौहेटा एर्बिएक के बीच शुरू हुआ। दो राउंद के बीच दोनों ही मुक्केबाज़ों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया। तीसरे राउंड में चीन के बॉक्सर ने एक शानदार पंच जड़ा और उनके प्रतिद्वंदी जोंगजोहो धराशाई हो गए। रेफरी ने इसे KO (नॉक आउट) करार दिया और एर्बिएक विजेता रहे।

21:54 - जिन्जेआ किम (दक्षिण कोरिया) बनाम अबिलखान अमानकुल (कज़ाकिस्तान) - मेंस मिडिलवेट (69-75 किग्रा)

मेंस मिडिलवेट में यह मुकाबला दक्षिण कोरिया के जिन्जेआ किम और कज़ाकिस्तान के अबिलखान अमानकुल के बीच शुरू हुआ। राउंड ऑफ-16 के इस मुकाबले के तीनों राउंड में दोनों ही मुक्केबाज़ों ने शानदार प्रदर्शन किया। हालांकि कज़ाकिस्तान के अमानकुल हावी रहे और जजों ने एक पक्षीय निर्णय 5-0 से अबिलखान अमानकुल के पक्ष में सुनाया।

उज़्बेकिस्तान के फनत काखरामोनोव ने बनाई क्वार्टर-फाइनल में जगह 

21:36 - जैन्सेन पौटोआ (सामोआ) बनाम फनत काखरामोनोव (उज़्बेकिस्तान) - मेंस मिडिलवेट (59-75किग्रा)

मेंस मिडिलवेट का यह मुकाबला सामोआ के जैन्सेन पौटोआ और उज्बेकिस्तान के फनत काखरामोनोव के बीच शुरू हुआ। ब्लू कॉर्नर पर काबिज़ उज़्बेकिस्तान के फनत काखरामोनोव तीनों ही राउंड में अपने प्रतिद्वंदी पर हावी रहे। जजों ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-27, 30-25, 30-27, 30-27, 30-27) से काखरामोनोव के पक्ष में सुनाया।

21:20 - अतिचाइ फोम्सैप (थाइलैंड) बनाम हैरिसन गारसाइट (ऑस्ट्रेलिया) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

राउंड ऑफ-16 का यह मुकाबला थाईलैंड के अतिचाइ फोम्सैप और ऑस्ट्रेलिया के मुक्केबाज़ हैरी गारसाइट के बीच शुरू हुआ। पहले राउंड में गारसाइट ने अपने प्रतिद्वंदी मुक्केबाज़ पर बढ़त बनाई और फैसला 4-1 के स्प्लिट निर्णय से गारसाइट के पक्ष में रहा। दूसरे राउंड में ठीक इसका उल्टा परिणाम देखने को मिला और स्प्लिट निर्णय 3-2 से फोम्सैप के पक्ष में रहा। 

तीसरे राउंड में दोनों के सिर आपसे में टकराने की वजह से रेफरी ने मुकाबला बीच में ही रोक दिया और जजों ने स्प्लिट निर्णय (4-1) (27-30, 29-28, 29-28, 29-28, 30-27) से ऑस्ट्रेलिया के मुक्केबाज़ गारसाइट के पक्ष में सुनाया।

21:05 - जेम्स पैलिशे (फिलीपींस) बनाम इनुर अब्दूराइमोव (उज़्बेकिस्तान) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

दूसरे मुकाबले की शुरुआत फिलीपींस के जेम्स पैलिशे और उज़्बेकिस्तान के इनुर अब्दूराइमोव के बीच शुरू हुई। ब्लू कॉर्नर पर काबिज़ उज्बेकिस्तान के मुक्केबाज़ अब्दूराइमोव ने तीनों ही राउंड में अपनी पकड़ बनाए रखी। जजों ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (29-28, 30-27, 29-28, 30-27, 30-27) से अब्दूराइमोव के पक्ष में सुनाया।

राउंड ऑफ-16 के मुकाबले में जीत दर्ज करने के बाद भारत के मनीष कौशिक: “मैंने पहले इस प्रतिद्वंदी का सामना किया है और मैंने उसे शिकस्त दी है। हालांकि इसबार रणनीति अलग थी और मुझे खुशी है कि यह काम कर गई। वह शुरुआत में बहुत तेज थे और मेरे लिए यह मुश्किल था लेकिन आखिरकार वह थक गया और मुझे जीत मिल गई।”

20:48 - मनीष कौशिक (भारत) बनाम छु-एन लाइ (चीनी ताइपे) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

भारत के सभी 13 मुक्केबाज़ों को एशियन बॉक्सिंग क्वालिफ़ायर्स में जगह बनाने के लिए बॉक्सिंग फ़ेडरेशन ऑफ़ इंडिया (BFI) के द्वारा कराए गए नेशनल ट्रायल्स से गुज़रना पड़ा था। हालांकि सभी मुक्केबाज़ों में मनीष कौशिक और अमित पंघल अपवाद रहे। इन दोनों मुक्केबाज़ों ने 2019 AIBA वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप में पदक जीतकर सीधे क्वालिफ़ायर में जगह बनाई है।

2018 कॉमनवेल्थ गेम्स में कांस्य पदक जीतने वाले मनीष कौशिक को पहले राउंड में बाई मिला। अब उनका सामना एक और बाई हासिल करने वाले चीनी ताइपे मुक्केबाज़ छु-एन लाई से है, जो पिछली बार रियो ओलंपिक में 17वें स्थान पर रहे थे।

पहला राउंड: राउंड ऑफ-16 का पहला राउंड शुरू होते ही रेड कॉर्नर पर काबिज़ मनीष कौशिक ने ताबड़तोड़ मुक्केबाज़ी शुरू की। हालांकि उनके प्रतिद्वंदी और अनुभवी मुक्केबाज़ छु-एन लाइ ने शानदार पंच लगाए। 

दूसरा राउंड: फिर एक बार तीन मिनट का राउंड शुरू होते ही मनीष ने अपनी लम्बाई और रेंज का फायदा उठाते हुए राइट अपरकट और लेफ्ट हुक लगाने की कोशिश की। जजों ने स्प्लिट निर्णय 4-1 से कौशिक के पक्ष में सुनाया।

तीसरा राउंड: दोनों ही राउंड में भारतीय मुक्केबाज़ को आगे बढ़ता देख ताइपे के मुक्केबाज़ ने आक्रामक रुख अपनाते हुए कई पंच थ्रो करने की कोशिश की लेकिन उनके पंच की ताकत में कमी नज़र आई। इसी बीच मनीष ने एक अच्छा राइट स्ट्रेट पंच लगाया। जजों ने अंततः unanimous (एक पक्षीय) निर्णय (5-0) (30-27, 30-27, 30-27, 29-28, 29-28) से भारतीय मुक्केबाज़ कौशिक के पक्ष में सुनाया।  

राउंड ऑफ-8 में मनीष कौशिक का मुकाबला 9 मार्च को मंगोलिया के मुक्केबाज़ छिंज़ोरिग बातरसुख से होगा।

राउंड ऑफ-16 के मुकाबले में जीत हासिल करने बाद छिंज़ोरिग बातरसुख: “यह एक अच्छा मुकाबला था और मुझे खुशी है कि मैं जीत गया। मेरा प्रतिद्वंदी कद में छोटा और बहुत मजबूत था, लेकिन अपनी लम्बाई और रेंज का फायदा उठाते हुए जीत हासिल कर ली।"

मंगोलिया के बातरसुख ने पापुआ न्यू गिनी के मुक्केबाज़ को हराकर बनाई क्वार्टर फाइनल में जगह

20:30 - छिंज़ोरिग बातरसुख (मंगोलिया) बनाम जॉन उमे (पापुआ न्यू गिनी) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

शाम के सत्र का पहला मुकाबला मंगोलिया के छिंज़ोरिग बातरसुख और पापुआ न्यू गिनी के मुक्केबाज़ जॉन उमे के बीच शुरू हुआ। रेड कॉर्नर पर काबिज़ चैंपियन बॉक्सर बातरसुख ने पूरे कंट्रोल में रहते हुए अपने गार्ड को मजबूत रखा और मौका मिलने पर बेहतरीन राइट क्रॉस पंच लगाने में कई बार सफलता हासिल की। पहले और दूसरे दोनों ही राउंड में अपने क्लीयर पंच की बदौलत बातरसुख 5-0 के unanimous स्कोर के साथ अपने प्रतिद्वंदी पर दबाव बनाने में सफल रहे।

तीसरे राउंड में भी जॉन उमे कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाए और जजों ने एक पक्षीय फैसला (5-0) (30-26, 30-27, 30-27, 30-27, 30-27) से मंगोलिया के बातरसुख के पक्ष में सुनाया।

17:32 - ओडाइ रियाद अदेल अल्हिंदावी (जॉर्डन) बनाम जोलांडो टाला (अमेरिकन सामोआ) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

मेंस लाइट-हेवीवेट का यह मुकाबला जॉर्डन के ओडाइ रियाद अल्हिंदावी और अमेरिकन सामोआ के मुक्केबाज़ जोलांडो टाला के बीच हुआ। तीनों ही राउंड में जॉर्डन का मुक्केबाज़ अपने प्रतिद्वंदी पर हावी रहा और जजों ने फैसला भी एक पक्षीय (5-0) (30-27, 30-27, 30-27, 30-27, 30-27) अल्हिंदावी के पक्ष में सुनाया।

17:15 - जक्कापोंग योमखोट (थाईलैंड) बनाम इंगी होंग (दक्षिण कोरिया) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

लाइट-हेवीवेट का यह मुकाबला थाईलैंड के जक्कापोंग योमखोट और दक्षिण कोरिया के इंगी होंग के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में दोनों मुक्केबाजों ने बेहतरीन पंच लगाए। जक्कापोंग तीसरे राउंड में कुछ अच्छे पंच लगाने में सफल रहे। अंततः जजों ने स्प्लिट निर्णय (4-1) (29-28, 30-27, 30-27, 28-29, 30-27) से थाईलैंड के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

17:00 - फैज़ुल्लाह अर्युबी (अफगानिस्तान) बनाम शाब्बोस नेग्मातुल्लोव (तज़ाकिस्तान) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81 किग्रा)

मेंस लाइट-हेवीवेट का यह मुकाबला अफगानिस्तान के फैज़ुल्लाह अर्युबी और तज़ाकिस्तान के शाब्बोस नेग्मातुल्लोव के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में ब्लू कॉर्नर पर काबीज़ नेग्मातुल्लोव अपने प्रतिद्वंदी पर हावी नज़र आए। जज़ो ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-26, 30-27, 30-26, 30-26, 30-27) से तज़ाकिस्तान के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

16:44 - बेकज़ाद नूरदौलेतोव (कज़ाकिस्तान) बनाम जेरोम पाम्पेलोन (न्यूज़ीलैंड) - मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

मेंस लाइट-हेवीवेट में यह मुकाबला कज़ाकिस्तान के बेकज़ाद नूरदौलेतोव और न्यूज़ीलैंड के जेरोम पाम्पेलोन के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में दोनों मुक्केबाज़ एक-दूसरे पर हावी होने की कोशिश करते हुए नज़र आए। नरदौलेतोव जहां अपना पहला मुकाबला लड़ने के लिए रिंग में मौजूद रहे, वहीं दूसरी ओर पाम्पेलोन दूसरे मुकाबले के लिए रिंग काफी आश्वस्त नज़र आए। इस कांटे के मुकाबले में जजों ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-27, 30-27, 30-27, 29-28, 29-28) से रेड कॉर्नर के मुक्केबाज़ बेकज़ाद नूरदौलेतोव के पक्ष में सुनाया।

भारत के आशीष कुमार ने क्वार्टर-फाइनल में बनाई जगह

16:26 - आशीष कुमार (भारत) बनाम ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू (किर्गिस्तान) - मेंस मिडिलवेट (75-81किग्रा)

आशीष कुमार (Ashish Kumar) ने मंगलवार को पुरुष मिडिलवेट कैटेगिरी (69-75 किग्रा) में ताइवान के चिया-वे कान को 5-0 से हराया था। राउंड ऑफ-16 का यह मुकाबला भारत के इस मुक्केबाज़ और किर्गिस्तान के ओमुर्बेक बेकज़िगिट उलु (Omurbek Bekzhigit Uulu) के बीच शुरू हो रहा है।

यह पहली बार नहीं है जब आशीष कुमार का सामना चौथी वरीयता प्राप्त उलु से हो रहा है। वह पिछले साल अपने एशियन चैंपियनशिप के प्रदर्शन को दोहराने की कोशिश करेंगे, जहां उन्होंने क्वार्टर-फाइनल में किर्गिस्तान के इस मुक्केबाज़ को हराया था।

पहला राउंड: अशीष एशीयन चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल विजेता रहे हैं। पहले राउंड में रेड कॉर्नर पर काबिज़ लम्बी कद-काठी के मुक्केबाज़ ने कुछ शानदार राइट स्ट्रेट पंच लगाए। हिमाचल प्रदेश का यह मुक्केबाज़ कहता है, "ओलंपियन बनना मेरे लिए सबकुछ है।"

किर्गिस्तान के मुक्केबाज़ ने भी शानदार प्रदर्शन किया लेकिन आशीष लगातार उम्दा नज़र आए। जजों ने इस राउंड का एक पक्षीय निर्णय 5-0 से आशीष के पक्ष में सुनाया।

दूसरा राउंड: दूसरा राउंड शुरू होते ही आशीष ने एक शानदार राइट क्रॉस लगाया। उनके प्रतिद्वंदी मुक्केबाज़ ने दोनों ही स्टांस - साउथ पॉ और ऑर्थोडॉक्स का प्रयोग किया। आशीष के पंच जजों को सटीक नज़र आए और उन्होंने स्प्लिट निर्णय 3-2 से इस भारतीय मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

तीसरा राउंड: अपनी लम्बाई का फायदा उठाते हुए आशीष बहुत कॉन्फिडेंट नज़र आए। यह वजह रही कि वह अपने गार्ड डाउन कर अपने प्रतिद्वंदी को चुनौती देते नज़र आए। ओमुर्बेक काफी आक्रामक नज़र आए लेकिन आशीष ने खुद को बचाते हुए एक शानदार लेफ्ट स्ट्रेट लगाया। अंततः जजों ने unanimous (एक पक्षीय) निर्णय (5-0) (29-28, 30-27, 30-27, 29-28, 30-27) से भारत के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया। 

राउंड ऑफ-8 में आशीष का अगला मुकाबला इंडोनेशिया के मुक्केबाज़ मैखेल मुस्किता के साथ होगा।

Indonesia's Maikhel Muskita won a cracking middleweight contest against Kiwi Ryan Scaife

16:09 - रियान स्केफ (न्यज़ीलैंड) बनाम मैखेल मुस्किता (इंडोनेशिया) - मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

यह मुकाबला न्यूज़ीलैंड के रियान स्केफ और इंडोनेशिया के मैखेल मुस्किता के बीच शुरू हुआ। एक राउंड में जहां मुस्किता हावी रहे तो दूसरे में स्केफ। तीसरे राउंड में दोनों ही मुक्केबाज़ों ने शानदार प्रदर्शन किया। जजों ने स्प्लिट निर्णय (3-2) (28-29, 29-28, 28-29, 29-28, 29-28) से इंडोनेशिया के मुक्केबाज़ मैखेल मुस्किता के पक्ष में सुनाया।

15:54 - अहमद घोसून (सीरिया) बनाम ब्याम्बा-एर्डेन ओगोन्बाटर (मंगोलिया) - मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

सुबह के सत्र का छठा मुकाबला मेंस मिडिलवेट में सीरिया के मुक्केबाज़ अहमद घोसून और मंगोलिया के एर्डेन ओगोन्बाटर के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में ओगोन्बाटर सीरिया के मुक्केबाज़ घोसून पर हावी रहे। जज़ो ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-27, 30-27, 30-27, 30-27, 29-28) से ओगोन्बाटर के पक्ष में सुनाया। क्वार्टर-फाइनल में इनका मुकाबला फिलीपींस के मार्सिअल यूमिर से 8 मार्च को होगा।

15:39 - यूमिर मार्सिअल यूमिर (फिलीपींस) बनाम किर्रा रुस्टन (ऑस्ट्रेलिया) - मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

यह मुकाबला फिलीपींस के यूमिर मार्सिअल और ऑर्ट्रेलिया के किर्रा रुस्टन के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में मार्सिअल बहुत ही अक्रामक और सजग नज़र आए। ऑस्ट्रेलिया के मुक्केबाज़ ने काफी कोशिश की लेकिन अच्छे पंच नहीं लगा पाए। मार्सिअल ने लेफ्ट हुक और राइट स्ट्रेट पंचों के कई शानदार कॉम्बिनेशन लगाए। शायद यही उन्हें शीर्ष वरीयता प्राप्त मुक्केबाज़ बनाता है। अंततः जजों ने एक पक्षीय निर्णय (5-0) (30-25, 30-27, 30-27, 30-27, 30-27) से फिलीपींस के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

15:23 - जुन शान (चीन) बनाम ज़ाकिर साफिउल्लिन ज़ाकिर (कज़ाकिस्तान) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

यह मुकाबला चीन के जुन शान और कज़ाकिस्तान के ज़ाकिर साफिउल्लिन के बीच शुरू हुआ। पहले राउंड में जुन शान ने शानदार शुरुआत की लेकिन 1 मिनट के बाद कज़ाकिस्तान के अनुभवी मुक्केबाज़ ने अपनी शानदार वापसी की। दूसरे राउंड में ज़ाकिर थोड़ा थके हुए नज़र आए लेकिन उनके पंच सटीक और बेहतर लैंड किए। नतीजतन जजों ने दोनों राउंड में क्रमशः (3-2) और (4-1) से स्प्लिट निर्णय कज़ाकिस्तान के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

तीसरे राउंड में युवा मुक्केबाज़ जुन शान ने तगड़े पंच लगाए लेकिन ज़ाकिर का अनुभव उनपर हावी रहा। जजों ने स्प्लिट निर्णय (4-1) (30-27, 28-29, 29-28, 29-28, 29-28) से कज़ाकिस्तान के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया। अब इनका क्वार्टर-फाइनल में ईरान के मुक्केबाज़ अश्कान रीज़ाई से होगा।

15:06 - जोंगसेंग ली (दक्षिण कोरिया) बनाम अश्कान रीज़ाई (ईरान) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

यह मुकाबला दक्षिण कोरिया के जोंगसेंग ली और ईरान के अश्कान रीज़ाई के बीच शुरू हुआ। तीनों राउंड में ली की टेक्निक और पंच ज्यादा अच्छे और सटीक देखने को मिले। उन्होंने कुछ बेहतरीन स्ट्रेट पंच लगाए। रिज़ाई ने दूसरे राउंड में शानदार वापसी की और ली पर अंतिम समय तक हावी रहे। इसके बाद वह तीसरे राउंड में भी अपने प्रतिद्वंदी पर आक्रामक रुख अपनाते हुए नज़र आए। उन्होंने ली को पूरे रिंग में घुमा-घुमाकर कुछ शानदार अपरकट लगाए। जजों ने 4-1 से स्प्लिट निर्णय ईरान के बॉक्सर रीज़ाई के पक्ष में सुनाया।

14:50 - ओबादा मोहम्मद मुस्तफा अल्कास्बेह (जॉर्डन) बनाम दाइसुके नरिमात्सू (जापान) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

दूसरा मुकाबला जॉर्डन के ओबादा मोहम्मद मुस्तफा और जापान के दाइसुके नरिमात्सू के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंड में जॉर्डन के मुक्केबाज़ ने एक-दूसरे पर जमकर मुक्के बरसाए। रेड क्रॉस में काबिज़ अल्कास्बेह ने दूसरे राउंड में एक बार अपने प्रतिद्वंदी को बिल्कुल पस्त कर दिया। जजों ने स्प्लिट निर्णय (4-1) (29-28, 29-28, 29-28, 29-28, 28-29) से अलकास्बेह के पक्ष में सुनाया। 

अब इस मुक्केबाज़ का क्वार्टर-फाइनल में पहली वरीयता प्राप्त मुक्केबाज़ उसमोनोव से होगा। राउंड ऑफ-8 का यह मुकाबला बेहद दिलचस्प होगा।

लाइटवेट के शीर्ष वरीयता प्राप्त उसमोनोव ने शानदार प्रदर्शन देते हुए राउंड ऑफ-8 में बनाई जगह

14:32 - बाखोदुर उसमोनोव (तज़ाकिस्तान) बनाम सानिल शाही (नेपाल) - मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

क्वालिफ़ायर के तीसरे दिन के सुबह के सत्र का पहला बाउट तज़ाकिस्तान के बाखोदुर उसमोनोव और नेपाल के सानिल शाही के बीच शुरू हुआ। तीनों ही राउंट में उसमोनोव अपने प्रतिद्वंदी साउथ पॉ बॉक्सर (बाएं हाथ के मुक्केबाज़) शाही के ऊपर हावी रहे। उन्होंने कुछ शानदार राइट क्रॉस और लेफ्ट क्रॉस लगाए। नतीजतन जजों ने unanimous (एक पक्षीय) निर्णय (5-0) (30-27, 30-25, 30-25, 30-27, 30-26) उसमोनोव के पक्ष में सुनाया। 

अब वह क्वार्टर-फाइनल में पहुंच गए हैं। आपको बता दें, इस भार वर्ग में कुल 6 ओलंपिक बर्थ निर्धारित किए हैं, जिन्हें हासिल कर मुक्केबाज़ 2020 ओलंपिक में अपनी जगह पक्की कर सकते हैं।

events

20 Feb - 15 Mar

टोक्यो 2020 ओलंपिक के क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट्स

डाकार, लंदन, अम्मान, ब्यूनस आयर्स, पेरिस

14:30 - क्वालिफ़ायर के तीसरे दिन के लिए रिंग तैयार है। कुछ ही देर में मुकाबले शुरू हो जाएंगे।

हमसे लगातार जुड़े रहिए, क्योंकि आज भारत के तीन मुक्केबाज़ रिंग में मुकाबला करते हुए नज़र आएंगे।

दिन 2 - लेट सीज़न | ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफिकेशन 2020- अम्मान

देखिए आम्मान में आयोजित ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफिकेशन के दूसरे दिन महिलाओं क...

जॉर्डन के अम्मान के प्रिंस हमज़ाह हॉल में एशिया/ओशिनिया ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफिकेशन (Asia/ Oceania Olympic Boxing Qualification) का आज तीसरे दिन है। जहां सभी मुक्केबाज़ ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों में अपनी जगह पक्की करने के लिए 63 बर्थ/स्थानों (41 पुरुषों के लिए और 22 महिलाओं के लिए) में मुक़ाबला करेंगे।

पुरुष 8 भार वर्गों (फ्लाईवेट (52 किग्रा) से लेकर सुपर-हैवीवेट (+91 किग्रा) तक) में प्रतिस्पर्धा करेंगे, जबकि महिलाएं 5 भार वर्गों (फ्लाईवेट (51 किग्रा) से लेकर मिडिलवेट (75 किग्रा) तक) में मुकाबला करेंगी।

हमें तीसरे दिन कुल 24 मुक़ाबले देखने को मिलेंगे – अम्मान में होने वाले तीसरे दिन के मुकाबले दो सत्र में विभाजित किए गए हैं - सुबह का सत्र और शाम का सत्र, जो भारतीय समयानुसार 14:30 से शुरू होंगे। आज यानी गुरुवार को कुल 24 मुकाबले होंगे, सुबह के सत्र में कुल 12 और शाम के सत्र में 12 मुकाबले होंगे।

आप तीसरे दिन के मुकाबलों का पूरा शेड्यूल नीचे देख सकते हैं, साथ ही यह भी जाने सकते हैं कि मुकाबले कब और कहां देखें? इसके अलावा सभी एक्शन, हाइलाइट्स और लाइव शो हमारे ओलंपिक चैनल पर यहीं देख सकते हैं।.

तीसरा दिन – सुबह का सत्र, भारतीय समयानुसार 14:30

1) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

बाखोदुर उसमोनोव (तज़ाकिस्तान) बनाम सानिल शाही (नेपाल)

2) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

ओबादा मोहम्मद मुस्तफा अल्कासबेह (जॉर्डन) बनाम दाइसुके नरिमात्सू (जापान)

3) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

जोंगसेंग ली (दक्षिण कोरिया) बनाम अश्कान रीज़ाई (ईरान)

4) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

जुन शान (चीन) बनाम ज़ाकिर साफिउल्लिन ज़ाकिर (कज़ाकिस्तान)

5) मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

यूमिर मार्सिअल यूमिर (फिलीपींस) बनाम किर्रा रुस्टन (ऑस्ट्रेलिया)

6) मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

अहमद घोसून (सीरिया) बनाम ब्याम्बा-एर्डेन ओगोन्बाटर (मंगोलिया)

7) मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

रियान स्केफ (न्यज़ीलैंड) बनाम मैखेल मुस्किता (इंडोनेशिया)

8) मेंस मिडिलवेट (75-81किग्रा)

आशीश कुमार (भारत) बनाम ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू (किर्गिस्तान)

9) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

बेकज़ाद नूरदौलेतोव (कज़ाकिस्तान) बनाम जेरोम पाम्पेलोन (न्यूज़ीलैंड)

10) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

फैज़ुल्लाह अर्युबी (अफगानिस्तान) बनाम शाब्बोस नेग्मातुल्लोव (तज़ाकिस्तान)

11) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

जक्कापोंग योमखोट (थाईलैंड) बनाम इंगी होंग (दक्षिण कोरिया)

12) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

ओडाइ रियाद अदेल अल्हिंदावी (जॉर्डन) बनाम जोलांडो टाला (अमेरिकन सामोआ)

तीसरा दिन – शाम का सत्र, भारतीय समयानुसार 20:30

13) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

छिंज़ोरिग बातरसुख (मंगोलिया) बनाम जॉन उमे (पापुआ न्यू गिनी)

14) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

मनीश कौषिक (भारत) बनाम चू-एन लाइ (चीनी ताइपे)

15) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

जेम्स पैलिशे (फिलीपींस) बनाम इनुर अब्दूराइमोव (उज़्बेकिस्तान)

16) मेंस लाइटवेट (57-63किग्रा)

अतिचाइ फोम्सैप (थाइलैंड) बनाम हैरी गारसाइट (ऑस्ट्रेलिया)

17) मेंस मिडिलवेट (59-75किग्रा)

जैन्सेन पौटोआ (सामोआ) बनाम फनत काखरामोनोव (उज़्बेकिस्तान)

18) मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

जिन्जेआ किम (दक्षिण कोरिया) बनाम अबिलखान अमानकुल (कज़ाकिस्तान)

19) मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

वीरप्पन जोंगजोहो (थाईलैंड) बनाम टैंगलेथन तौहेटा एर्बिएक (चीन)

20) मेंस मिडिलवेट (69-75किग्रा)

यूइतो मोरिवाकी (जापान) बनाम सेयेदशाहिन मौसावी (ईरान)

21) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

एर्किन अद्येल्बेक ऊलू (किर्गिस्तान) बनाम डैक्सांग चेन

22) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

डी आयोपो (सामोआ) बनाम सचिन कुमार (भारत)

23) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

शिनेबायर नारमंदाख (मंगोलिया) बनाम मान्ह चोंग (वियतनाम)

24) मेंस लाइट-हेवीवेट (75-81किग्रा)

पाउलो औकुसो (ऑस्ट्रेलिया) बनाम दिल्शोद रूज़मेतोव (उज़्बेकिस्तान)

अम्मान में बॉक्सर कैसे करेंगे क्वालिफाई:

जॉर्डन में टोक्यो ओलंपिक के लिए कुछ 63 बर्थ/स्थान हैं - पुरुषों के लिए 41 और महिलाओं के लिए 22

पुरुषों की लाइट-हेवीवेट और हेवीवेट श्रेणियों और महिलाओं के फेदरवेट से लेकर मिडिलवेट श्रेणियों में, सेमीफाइनल तक पहुंचने वाले सभी मुक्केबाज़ टोक्यो के लिए क्वालिफाई कर जाएंगे। पुरुषों के वेल्टरवेट से लेकर लाइट-हेवीवेट श्रेणियों में एक अतिरिक्त स्थान के लिए बॉक्स-ऑफ़ होगा। पुरुषों के फ्लाईवेट से लेकर लाइटवेट कैटेगरी और महिलाओं के फ्लाईवेट वर्ग में दो अतिरिक्त स्थानों के लिए बॉक्स-ऑफ होंगे।

मुक्केबाज़ों के पास मई में पेरिस में होने वाले वर्ल्ड क्वालिफाइंग इवेंट में टोक्यो 2020 के लिए क्वालिफाई करने का एक और मौका होगा।

‘Road To Tokyo 2020’ के हर एक एक्शन और रोमांचक मुकाबलों के लिए हमारे ओलंपिक चैनल और लाइव स्ट्रीम से जुड़े रहें...