2022 FIFA विश्व कप: AFC को मार्च 2022 तक पूरा करना होगा एशियन क्वालिफ़ायर्स 

AFC ने ये भी स्वीकार किया है कि वो दूसरे दौर का क्वालिफ़ायर्स  जून 2021 तक पूरा कर लेगी, जबकि मार्च 2022 तक तीसरा और आखिरी क्वालिफ़ायर्स पूरा करना है।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

2022 फीफा विश्व कप क्वालिफायर्स (2022 FIFA World Cup qualifiers) के एशियाई चरण के दूसरे दौर में बचे हुए मुक़ाबले 15 जून 2021 तक खत्म होंगे। एशियन फुटबॉल परिसंघ (Asian Football Confederation) ने बुधवार को इसकी पुष्टि की।

दूसरे दौर में बचे हुए चार मैच को फिर से 2021 तक आगे बढ़ाने से पहले अक्टूबर-नवंबर तक के लिए स्थगित कर दिया गया था। जो पहले इस साल मार्च-अप्रैल के लिए निर्धारित किए गए थे।

एक वर्चुअल ऑनलाइन मीटिंग में एएफसी प्रतियोगिता समिति ने सातवें और आठवें दिन के मुक़ाबले की मेजबानी करने का फैसला किया है, जबकि नौवें और दसवें दिन के मुक़ाबले को 15 जून 2021 से पहले आयोजित किया जाएगा।

इसका मतलब है कि भारतीय फुटबॉल टीम (Indian football team) मार्च 2021 से पहले कतर के खिलाफ खेलेगी और अगले साल जून तक पहले बांग्लादेश और अफगानिस्तान के खिलाफ अपने ग्रुप ई अभियान को समाप्त करेगी।

भारतीय फुटबॉल टीम वर्तमान में ग्रुप ई में पांच मैचों में तीन अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। भारत को ग्रुप में उपविजेता रहने के लिए अपने बचे हुए तीनों मैच जीतने होंगे, तभी क्वालिफायर के अगले दौर में आगे बढ़ने मौका मिलेगा।

2022 के फीफा विश्व कप क्वालिफायर के एशियाई चरण का तीसरा और अंतिम दौर सितंबर 2021 में शुरू होगा और मार्च 2022 तक इंटर-कॉन्टिनेंटल प्लेऑफ के साथ क्वालिफायर दौर पूरा होगा।

2022 फीफा विश्व कप कतर में 21 नवंबर, 2022 से शुरू होगा।

2022 फीफा विश्व कप के लिए क्वालिफायर्स के पहले दो राउंड, चीन में आयोजित होने वाले 2023 एशियाई कप के लिए भी क्वालीफाइंग दौर होगा।

अगर भारतीय फुटबॉल टीम फीफा विश्व कप क्वालिफायर के तीसरे दौर में पहुंच जाती है, तो वो सीधे तौर पर 2023 एशियाई कप के लिए क्वालीफाई कर लेगी। जिसकी संभावना बहुत कम लग रही है।

अगर भारत फीफा विश्व कप क्वालिफायर्स के दूसरे दौर में नहीं जा पाता है, तो उसे 2023 एशियाई कप के लिए क्वालिफाई करने के लिए एक और मौका मिलेगा।