एथलेटिक्स दिग्गज सुमरिवाला का मानना है कि भारतीय खेल जगत में हैं बहुत से सचिन तेंदुलकर

पूर्व स्प्रिंटर और AFI के प्रेसिडेंट आदिल सुमरिवाला भारतीय एथलीटों के लिए बढ़िया वातावरण चाहते हैं ताकि वे विश्व चैंपियन बन सकें।

भारत में खेल और खिलाड़ियों को बहुत पसंद किया जाता है। अलग-अलग क्षेत्र में भारत ने कई लाजवाब खिलाड़ी दिए हैं, जिन्होंने अपने कौशल का प्रमाण पेश किया है। एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ़ इंडिया (Athletics Federation of India) के प्रेसिडेंट आदिल समरिवाला (Adille Sumariwalla) का मानना है कि भारत के पास बहुत गुणवान खिलाड़ी हैं, जो किसी भी खेल में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) जितना बड़ा नाम हासिल कर सकते हैं और जो उन्होंने देश को दिया है वह भी दे सकते हैं।

ओलंपिक डे के मौके पर ‘स्पोर्ट्स फॉर ऑल’ नामक संगठन द्वारा आयोजित वेबिनार में प्रेसिडेंट आदिल सुमरिवाला ने कहा, “लगभग हर खेल में एक सचिन तेंदुलकर ज़रूर है। हर एक को सही प्लेटफार्म चाहिए ताकि वह अपना कौशल दिखाकर वर्ल्ड चैंपियन बन सके। हमें जरूरत है तो मूल स्तर की आधारिक संरचना की, जो कि सबसे बेहतर होनी चाहिए।”

भरतीय खिलाड़ियों के लिए बन रही है बुनियाद

1980 ओलंपिक गेम्स में भी भाग ले चुके सुमरिवाला जानते हैं कि एक खिलाड़ी को बनाने में अच्छी ट्रेनिंग और देखभाल की जरूरत होती है। उन्होंने आगे कहा, “हमारे पास एक महत्वपूर्ण बोर्ड है, जो कॉर्पोरेट और फेडरेशन के साथ मिलकर आधारिक संरचना को देखता है और एक अच्छा पारिस्थितिकी तंत्र बनाता है।”

जहां AFI खिलाड़ियों को बनाने में ध्यान दे रहा है वहीं आदिल सुमरिवाला का मानना है कि कुछ ही समय बाद भारत भी ओलंपिक स्तर के खिलाड़ी बनाने में सफल होगा।

“मूलभूत स्तर सबसे मुश्किल समय होता है और यह एक लम्बी रणनीति है। हमें सभी उपकरण, रणनीति, प्रक्रिया को सामने लाना है और उससे भी ज़रूरी है कि हमे सब्र रखना है।”

62 वर्षीय ने आगे अलफ़ाज़ साझा करते हुए कहा, “हम मूलभूत स्तर से ही प्रोग्राम करते हैं जो नेशनल इंटर-डिस्ट्रिक्ट चैंपियनशिप को बढ़ावा देता है जिसमें 90 डिस्ट्रिक्ट भाग लेते हैं और पिछले साल यह आंकड़ा 500 डिस्ट्रिक्ट तक चला गया था जो 14 से 16 लेवल तक चलता है।”

ओलंपिक गेम्स 2020 में क्वालिफाई करने वाले नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) या फिर रियो गेम्स में भाग लेनी वाले दुती चंद (Dutee Chand) जैसे कई खिलाड़ी हैं भारत के पास जो हर स्तर पर जीतने का माद्दा रखते हैं। गौरतलब हैं कि इस प्रोग्राम में यह दोनों खिलाड़ी भी भाग लेते हैं और यह भारतीय खेल जगत के लिए बहुत अच्छी खबर है।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!