अजय जयराम बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 के सेमीफ़ाइनल में पहुंचे, साइना नेहवाल बाहर

क्वार्टर फ़ाइनल मे साइना नेहवाल और समीर वर्मा का सफ़र थम गया

लेखक सैयद हुसैन ·

बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 (Barcelona Spain Masters 2020) में शुक्रवार को भारत की स्टार शटलर साइना नेहवाल (Saina Nehwal) जहां क्वार्टर फ़ाइनल में हारकर बाहर हो गईं, तो वहीं वॉल डेब्रोन ओलंपिक स्पोर्ट्स सेंटर में अजय जयराम (Ajay Jayaram) ने क्वार्टर फ़ाइनल में जीत के साथ सेमीफ़ाइनल में प्रवेश कर लिया है।

साइना के साथ साथ पुरुष एकल के अंतिम-8 के मुक़ाबले में एक और भारतीय उम्मीद समीर वर्मा (Sameer Verma) भी हार के साथ टूर्नामेंट से बाहर हो गए।

सीधे गेम्स में हार गईं साइना

लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना नेहवाल का सामना क्वार्टर फ़ाइनल में थाईलैंड की शटलर बुसानन ओंगबामरुन्गफ़ान  (Busanan Ongbamrungphan) के ख़िलाफ़ था। इस शटलर ने इससे पहले भी दो बार साइना को शिकस्त दी थी, और इस बार भी कहानी नहीं बदली। पहले गेम में थाई शटलर ने ब्रेक टाइम तक 11-10 की बढ़त बना ली थी और फिर आगे जाकर गेम 22-20 से अपने नाम कर लिया।

दूसरे गेम की शुरुआत तो साइना ने अच्छी की थी लेकिन एक बार फिर बुसानन ने ब्रेक टाइम तक 11-10 की बढ़त अपने पक्ष में कर ली थी और फिर 21-19 से दूसरा गेम भी जीतते हुए साइना के सफ़र को यहीं ख़त्म कर दिया।

बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स के सेमीफ़ाइनल में पहुंचे अजय जयराम अब एकमात्र भारतीय उम्मीद 

अजय जयराम का लाजवाब प्रदर्शन

किदांबी श्रीकांत (Kidambi Srikanth) पर जीत दर्ज करने वाले अजय जयराम आत्मविश्ववास से लबरेज़ थे, जो शुक्रवार की शाम उनके खेल में भी झलक रहा था। उनके सामने क्वार्टर फ़ाइनल में फ़्रांस के थॉमस रॉक्सेल (Thomas Rouxel) थे, अजय ने पहला गेम बड़े ही आसानी से 21-14 से अपने नाम कर लिया था।

दूसरे गेम में थॉमस का खेल पहले गेम की तुलना में थोड़ा बेहतर था, ब्रेक टाइम तक स्कोर 11-10 से अजय के पक्ष में था। लेकिन ब्रेक टाइम के बाद भारतीय शटलर ने अपने खेल में बदलाव लाया और 21-15 से दूसरा गेम भी जीतते हुए बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स के सेमीफ़ाइनल में प्रवेश कर लिया।

एक और मुक़ाबले में वर्ल्ड नंबर-30 समीर वर्मा जिन्होंने पिछले मैच में जर्मनी के काई शेफ़र को मात दी थी। इस बार उनके सामने थाईलैंड के शटलर कुनलावत वितिदसार्न (Kunlavut Vitidsarn) की चुनौती थी, जिनसे समीर वर्मा को हार झेलनी पड़ी।

25 वर्षीय भारतीय शटलर ने जज़्बा तो अच्छा दिखाया था जब पहला गेम 21-17 से अपने नाम कर लिया था, लेकिन इसके बाद लगातार दोनों ही गेम 17-21, 12-21 से हारते हुए समीर वर्मा भी टूर्नामेंट से बाहर हो गए।