बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स के समीफाइनल से बाहर हुए अजय जयराम

भारतीय शटलर ने पहले गेम में शानदार प्रदर्शन किया, लेकिन कुनलावुट विटिड्सर्न के हाथों सीधे गेम में मिलने वाली हार से वह खुद को नहीं बचा सके।

बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 में अजय जयराम (Ajay Jayaram) का सफर शनिवार को सेमीफाइनल में समाप्त हो गया। जहां वर्ल्ड रैंकिंग में 68वें स्थान पर काबिज़ जयराम वॉल डी'हब्रोन ओलंपिक स्पोर्ट्स सेंटर (Vall d'Hebron Olympic Sports Centre) में वर्ल्ड नम्बर 32 खिलाड़ी कुनलावुट विटिड्सर्न (Kunlavut Vitidsarn) से 20-22, 12-21 से हार गए।

भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी ने एक प्रतिस्पर्धी शुरुआत की। शुरुआती गेम में किसी भी शटलर ने एक-दूसरे को बहुत आगे नहीं निकलने दिया। एक समय पर अजय जयराम 11-10 से बढ़त बनाते हुए देखे गए, लेकिन एक ब्रेक प्वाइंट के साथ ही कुनलावुट विटिड्सर्न ने एक बार फिर गेम में वापसी कर ली।

अजय जयराम के लगातार पांच अंक जीतने से पहले थाई शटलर 17-14 से आगे थे। हालांकि इस कांटे के मुक़ाबले के बावजूद भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पहले गेम को जीतने में असमर्थ रहे और अंततः वह 20-22 के स्कोर से हार गए।

पहले गेम में जीत के साथ ही विटिड्सर्न के आत्मविश्वास को बल मिला और दूसरे गेम में ब्रेक के समय तक उन्होंने 11-7 की बढ़त बना ली। ब्रेक के बाद वह और आक्रामक हो गए और फाइनल में अपनी जगह पक्की करने के लिए दूसरा गेम 21-12 से जीत लिया। अब वह रविवार को शीर्ष वरीयता प्राप्त विक्टर एक्सेलसेन से भिड़ेंगे।

अजय जयराम बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 के सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय रहे।
अजय जयराम बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 के सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय रहे।अजय जयराम बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 के सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले एकमात्र भारतीय रहे।

अजय जयराम स्पेन में साइना, श्रीकांत से निकले आगे

अजय जयराम का सफर इस मुक़ाम तक पहुंचना क़ाबिले-तारीफ है। वह बार्सिलोना स्पेन मास्टर्स 2020 में आखिरी बचे हुए भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी हैं, जबकि साइना नेहवाल और किदाम्बी श्रीकांत जैसे कुछ बेहतरीन और पसंदीदा खिलाड़ी इस दौड़ से बाहर हो गए। लेकिन वास्तव में जयराम का सेमीफाइनल तक पहुंचना बेहद सराहनीय है।

पुरुष एकल वर्ग में अजय जयराम ने आखिरी चार मुक़ाबलों के दौरान कुछ चौंकाने वाली जीत दर्ज की। जिसमें 16 के राउंड में उनकी किदांबी श्रीकांत का पर करियर की पहली जीत भी शामिल है। इससे पहले जयराम ने क्रिस्टो पोपोव के खिलाफ बेहतर प्रदर्शन किया और थॉमस रूलेक्स के खिलाफ क्वार्टर फाइनल मंज भी शानदार प्रदर्शन किया। जहां उन्होंने सेमीफाइनल में क्वालीफाई करने के लिए फ्रेंच शटलर को 21-14, 21-15 से शिकस्त दी।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!