शूटर अंगद बाजवा और मेराज खान ने नेशनल सिलेक्शन ट्रायल्स से नाम वापस लिया

यह नेशनल ट्रायल्स आने वाले ISSF वर्ल्ड कप के लिए किए जा रहे हैं जो कि कैरो और दिल्ली के डॉ करणी सिंह रेंज में मंगलवार से खेले जाएंगे।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारतीय चैंपियन स्कीट शूटर अंगद वीर सिंह बाजवा (Angad Vir Singh Bajwa) और मेराज अहमद खान (Mairaj Ahmad Khan) ने नेशनल सिलेक्शन ट्रायल्स से अपना नाम वापस ले लिया है और टोक्यो ओलंपिक गेम्स के लिए अपनी ट्रेनिंग को जारी रखने का फैसला लिया है।

यह ट्रायल्स दिल्ली के डॉ करणी सिंह शूटिंग रेंज में मंगलवार से लिए जा रहे हैं और इन्हीं के ज़रिये आईएसएसएफ वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का चयन भी किया जा रहा है।

पहले नंबर पर नाम आता है शॉटगन वर्ल्ड कप का जो कि कैरो, इजिप्ट में 22 फरवरी से 5 मार्च तक खेला जाएगा और दूसरा वर्ल्ड कप नई दिल्ली में 18 से 29 मार्च तक होगा जिसमें राइफल, पिस्टल और शॉटगन के शूटर हिस्सा लेंगे।

बाजवा ने द हिंदू से बात करते हुए कहा “हमारी टीम में जगह पुख्ता है तो ऐसे में हमने अपनी ट्रेनिंग को जारी रखने का फैसला लिया है।”

ग़ौरतलब है कि यह ट्रायल्स 18 जनवरी तक लिए जाएंगे और इसमें 200 शूटर कुल 13 डिसिप्लिन में भाग लेंगे।

बाजवा जो कि एशियन चैंपियनशिप 2019 में गोल्ड मेडल जीत चुके हैं और मेराज ने भी उसी इवेंट में सिल्वर हासिल किया था तो ऐसे में उन दोनों के लिए टीम में अपनी जगह बनाने के लिए इन ट्रायल्स में भाग लेना ज़रूरी नहीं है। हालांकि यह ट्रायल्स इन दोनों भारतीय शूटरों क लिए एक स्पर्धा का भाव लेकर आई थी और वह इससे एक बार फिर अपनी लय को अपने हक में रख सकते थे।

अंगद बाजवा ने अभी भी ट्रायल्स में न जाने के फैसले पर हुई मुहर लगाई है और मेराज खान के साथ वह विदेश में जा कर टोक्यो ओलंपिक गेम्स के लिए तैयारी करेंगे।

बाजवा ने आगे बात करते हुए कहा “हम उम्मीद कर रहे हैं कि हमे विदेश जा कर ट्रेनिंग करने का मौका मिलेगा और यह टोक्यो ओलंपिक के लिए काफी फायदेमंद भी होगा। हमे अलग-अलग रेंज और परिस्थितियों में ट्रेनिंग करने की आदत डालनी ज़रूरी है।

अंगद बाजवा और मेराज खान ने डॉ करणी सिंह शूटिंग रेंज में कोरोना वायरस (Covid-19) की वजह से हुए लॉकडाउन के बाद एक महीना लगकर ट्रेनिंग की थी।

“अकेले ट्रेनिंग करना एक अच्छा अनुभव रहा। कैंप लंबा चलता जा रहा था लेकिन मैं जिम में व्यस्त रहता था। मेराज के साथ ट्रेनिंग करने से मैंने अपनी क्षमता को बढ़ाया है।”

इन दोनों शॉटगन शूटरों ने भारत को टोक्यो ओलंपिक गेम्स के लिए शॉटगन इवेंट में दो कोटा स्थान जीते हैं। ऐसा उन्होंने 2019 एशियन चैंपियनशिप में किया अब भारतीय शूटर जापान की सरज़मी पर अपना कौशल दिखाने के लिए तैयार हैं।

मुख्य तस्वीर: ट्विटर/किरेन रिजिजू