थाईलैंड टेनिस चैंपियनशिप: अंकिता रैना ने जीता एकल और युगल खिताब

शीर्ष पर काबिज भारतीय महिला टेनिस खिलाड़ी दोनों इवेंट के फाइनल रन में सिर्फ दो सेट अपने नाम करने में कामयाब नहीं रहीं।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

भारत की नम्बर 1 महिला टेनिस खिलाड़ी अंकिता रैना ने नोंथाबुरी में आयोजित ITF थाईलैंड टेनिस 25K$ चैंपियनशिप में एकल खिताब जीतने के लिए रविवार को बेहतर प्रदर्शन करते हुए फ्रांस की क्लो पेकेट को सीधे सेटों में 6-3, 7-5 से शिकस्त दी। दुनिया में 171वें स्थान पर काबिज़ अंकिता रैना तीसरे सीड के रूप में टूर्नामेंट में शामिल हुईं और साल 2020 का पहला खिताब जीतने में सफल रहीं।

दुनिया में 178वें स्थान पर काबिज़ क्लो पेकेट खेल के शुरुआत से ही अपना दबदबा बनाए हुए थीं, लेकिन उनकी दोहरी गलतियों ने उन्हें जीत से दूर कर दिया। जबकि क्लो पेकेट ने पूरे मैच में सात बार सर्विस के साथ ही प्वाइंट (एसेज) जीतने में सफलता हासिल की। लेकिन अंकिता रैना ने सटीक खेल और शानदार प्रदर्शन से 64 अंक जीतते हुए पेकेट (58) पर जीत दर्ज कर ली।

27 वर्षीय रैना ने WTA टूर्नामेंट में डच साथी बिबियान स्कूफ्स के साथ युगल खिताब जीतने के एक दिन बाद एकल में यह जीत दर्ज की। शनिवार को इस जोड़ी ने फाइनल में थाईलैंड के मनचैया सवांगकेव और सुपेविच कुएरुम का सामना किया। जहां इंडो-डच जोड़ी ने सीधे सेटों में जीत दर्ज की।

अंकिता रैना और बिबियान स्कूफ्स ने 6-4, 6-2 की जीत में अपने विरोधियों को पीछे छोड़ दिया और स्थानीय जोड़ी के 42 अंकों की जगह खुद 59 अंक जीतकर विरोधियों के सभी सात ब्रेक प्वाइंट्स को निरस्त कर दिया।

आसान रहा अंकिता रैना का फाइनल में पहुंचने का सफर

चौथी वरीयता प्राप्त क्लो पेकेट को छोड़कर अंकिता रैना को फाइनल मुकाबले तक पहुंचने के लिए दक्षिण अफ्रीका की कैनल सिमॉन्ड्स, रोमानिया के निकोलेट डैस्केलो, स्विट्जरलैंड के सिमोना वाल्टर्ट और लियोनी कुंग की चुनौती को पार करना पड़ा।

अंकिता रैना ने एकल और युगल स्पर्धा में एक-एक सेट अपने नाम किया। स्विस वॉल्टर्ट ने एकल क्वार्टर फाइनल इवेंट में एक और चीनी-जापानी जोड़ी झांग यिंग और मोयुका उचिजीमा ने युगल स्पर्धा में एक सेट जीतने में कामयाबी हासिल की।

यह जीत अंकिता रैना के लिए आत्मविश्वास को बढ़ाने का काम करेगी। क्योंकि उन्होंने ITF ऑस्ट्रेलियाई चैंपियनशिप के सेमीफाइनल में रोमानिया के पैट्रीसिया मारिया और ऑस्ट्रेलिया ओपन क्वालिफायर में बुल्गारिया की विक्टोरिया तोमोवा के खिलाफ हार के साथ साल 2020 की शुरुआत की थी।