एशियन ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स में चौथी वरीयता हासिल मुक्केबाज़ को मात देकर आशीष कुमार क्वार्टरफ़ाइनल में पहुंचे

भारतीय मिडिलवेट मुक्केबाज़ ने किर्गिस्तान के ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू को अम्मान में चल रहे एशियन क्वालिफ़ायर्स में दी मात

जॉर्डन के अम्मान में चल रहे एशियन ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स में आशीष कुमार (Ashish Kumar) ने अपनी दूसरी जीत दर्ज की, उन्होंने गुरुवार को पुरुष मिडिलवेट (69-75 किग्रा) कैटेगिरी में जीत के साथ क्वार्टरफ़ाइनल में जगह बना ली है।

भारतीय मुक्केबाज़ आशीष ने किर्गिस्तान के चौथी वरीयता हासिल मुक्केबाज़ ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू (Omurbek Bekzhigit Uulu) को आसानी से शिकस्त देते हुए टोक्यो 2020 में जगह बनाने से एक जीत दूर रह गए हैं।

आशीष कुमार ने अपनी लंबाई का फ़ायदा उठाते हुए पहला राउंड बेहद आसानी से अपने नाम किया। हालांकि अगले राउंड में चौथी वरीयता प्राप्त ऊलू ने कुछ बेहतरीन प्रहार भी किए, लेकिन आशीष के पास हर हमले का जवाब था। अंतिम राउंड में ज़्यादातर यह देखने को मिला कि किस अंदाज़ में भारतीय मुक्केबाज़ रक्षात्मक रवैया अपना रहे थे, और आख़िरकार आशीष ने तीन दिनों के अंदर अपनी दूसरी जीत दर्ज कर ली।

जीत के बाद आशीष ने ओलंपिक चैनल से बातचीत में कहा, ‘’मुक़ाबला बेहतरीन था, उन्होंने मेरे लिए थोड़ी मुश्किल पैदा की थी और अब मैं थक गया हूं। मैं अगली बाऊट के लिए फिर से तैयार होकर और भी बेहतर करने की कोशिश करूंगा।‘’

ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू को शिकस्त देकर आशीष कुमार ने बनाई एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स के क्वार्टर फ़ाइनल में जगह
ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू को शिकस्त देकर आशीष कुमार ने बनाई एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स के क्वार्टर फ़ाइनल में जगहओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू को शिकस्त देकर आशीष कुमार ने बनाई एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स के क्वार्टर फ़ाइनल में जगह

पहले राउंड में आशीष का दबदबा

भारतीय मिडिलवेट मुक्केबाज़ ने पहले ही राउंड में ये साफ़ कर दिया था कि उनका रवैया पूरी बाऊट में कैसा रहने वाला है। अपने परिचित अंदाज़ लो गार्ड से मुक़ाबला करते हुए आशीष अपनी लंबाई का पूरा फ़ायदा उठा रहे थे। दाईं ओर से उन्होंने ऊलू पर कुछ ऐसा प्रहार किया कि उसका किर्गिस्तानी मुक्केबाज़ के पास कोई जवाब नहीं था।

हालांकि ऊलू ने भी कोशिश की थी कि वह आक्रामक रवैया अपनाएं और कुछ हद तक क़ामयाब भी हुए थे जब आशीष को उन्होंने रिंग के बिल्कुल पीछे धकेल दिया था।

ये देखते हुए कि उनके प्रतिद्वंदी क्या कर रहे हैं, आशीष ने तुरंत ही अपने खेल में बदलाव लाते हुए बेहतरीन फ़ुटवर्क दिखाया। साथ ही साथ सिर का मूवमेंट भी आशीष का क़ाबिल-ए-तारीफ़ था, राइट क्रॉस मूव में आशीष ने अपना वर्चस्व दिखाते हुए पहला राउंड 5-0 से अपने नाम किया।

दूसरे राउंड में आशीष दो बार पिछड़े भी

दूसरा राउंड कांटे का था, जहां आशीष ने शुरुआत दाईं ओर से की थी और ऊलू बेहतरीन मूवमेंट दिखा रहे थे।

दूसरे राउंड में भी आशीष ज़्यादातर समय बेहतर खेल रहे थे, और ये उनकी मूवमेंट और लंबाई की वजह से ही संभव हो पा रहा था। दूर से ही वह किर्गिस्तानी मुक्केबाज़ को कुछ तगड़े घूंसे भी जड़ रहे थे।

किर्गिस्तानी मुक्केबाज़ ने दूसरे राउंड के अंत में कुछ बेहतरीन लेफ़्ट जैब और दाएं हाथ के प्रहार से भारतीय मुक्केबाज़ को ज़मीन पर भी गिरा दिया था। गिरने के बाद आशीष थोड़ा दबाव में आ गए थे और उसका असर उनके फ़ुटवर्क पर भी पड़ रहा था।

इस दौरान आशीष एक बार और गिरे लेकिन इसके बावजूद आशीष ने दूसरा राउंड भी 3-2 से अपने कुछ बेहतरीन हैंडी वर्क के ज़रिए जीत लिया।

रक्षात्मक रवैया रहा आशीष के लिए असरदार

अंतिम राउंड में किर्गिस्तानी मुक्केबाज़ ओमुर्बेक बेकज़िगिट ऊलू ने पूरी जी जान लगा दी थी लेकिन आशीष कुमार का बेहतरीन फ़ुटवर्क ऐसा था कि वह ऊलू के रेंज से ख़ुद को दूर रखने में क़ामयाब हो रहे थे।

चौथी वरीयता हासिल इस किर्गिस्तानी मुक्केबाज़ के ज़ोरदार पंच बस हवा से ही बात कर रहे थे क्योंकि आशीष से उनका संपर्क नहीं हो पा रहा था। लिहाज़ा आख़िरी राउंड भी आशी ने एकपक्षीय फ़ैसले (Unanimous Decision) से अपने नाम कर लिया।

आशीष कुमार अब टोक्यो 2020 में जगह बनाने से बस एक जीत दूर हैं, क्वार्टरफ़ाइनल में उनका सामना माइखेल मुस्किता (Maikhel Muskita)।

ओलंपिक में जगह बनाने के बेहद क़रीब आने के बाद आशीष ने कहा, ‘’ये मेरे लिए बहुत मायने रखता है, ये मेरे लिए सबकुछ है और मैं मेरे सपने से जो टोक्यो 2020 में जगह बनाना है, उससे बस एक जीत दूर खड़ा हूं।‘’

कब और कहां देख सकते हैं बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर ?

आप एशिया/ओशियिना बॉक्सिंग क्वालिफ़िकेशन का सीधा प्रसारण एक्सक्लूसिव तौर पर ओलंपिक चैनल पर देख सकते हैं, साथ ही हमारे फ़ेसबुक पेज पर भी इसका आनंद उठा सकते हैं। सुबह के सत्र की शुरुआत भारतीय समयनुसार दोपहर 1.30 बजे से होती है, जबकि शाम का सत्र भारतीय समयनुसार 8.30 बजे से प्रस्तावित है।

साथ ही साथ आप ओलंपिक चैनल पर रोज़ाना इंग्लिश और हिन्दी में लाइव ब्लॉग के ज़रिए भी सारे मुक़ाबलों से रु-ब-रु हो सकते हैं।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!