एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफायर में आशीष और सतीश कुमार को मिला कांस्य पदक

जहां यूमिर मार्सिअल ने आशीष कुमार को मात दी, तो वहीं दूसरी ओर बाखोदिर जालोलोव ने सतीश को हराया।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

मंगलवार को जॉर्डन की राजधानी अम्मान में चल रहे एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफायर के सेमीफाइनल में आशीष कुमार (Ashish Kumar) और सतीश कुमार (Satish Kumar) को हार का समना करना पड़ा। हालांकि दोनों भारतीय मुक्केबाजों ने अभियान समाप्त करने से पहले अपनी अपनी झोली में कांस्य पदक ज़रुर डाल लिया है।

दोनों भारतीय मुक्केबाजों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी लेकिन उन्हें फाइनल तक पहुंचाने की लिए वो कोशिश पर्याप्त नहीं थी, जहां आशीष कुमार स्प्लिट फैसले से हार गए तो वहीं सतीश कुमार एक पक्षीय फ़ैसले से हारकर प्रतियोगिता से बाहर हो गए।

एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफायर्स के सेमीफाइनल में आशीष कुमार को मिली मात

संघर्षपूर्ण मुक़ाबले में आशीष को मिली हार

मेंस मिडिलवेट के इस सेमीफाइनल मुकाबले के लिए भारत के आशीष कुमार और फिलीपींस के शीर्ष वरीयता प्राप्त यूमिर मार्सिअल रिंग में हैं। ब्लू कॉर्नर में काबिज़ आशीष क्वार्टर-फाइनल में इंडोनेशिया के मिखाइल रॉबर्ड मुस्किता को हराकर राउंड ऑफ-8 में पहुंचे हैं।

पहले राउंड में रेड कॉर्नर काबिज़ मार्सिअल ने वीव करते हुए अच्छे बॉडी पंच लगाए। आशीष ने कुछ अच्छे पंच अपने खेमे से जरूर निकाले लेकिन महज़ एक-दो पंच ही कनेक्ट हो सके। जजों ने फैसला फिलीपींस के मुक्केबाज़ के हक में सुनाया।

दूसरे राउंड में मार्सिअल काफी आक्रामक और तेज़ रहे। वीव और डक करते हुए उन्होंने जो पंच लगाए वह काफी कनेक्ट हुए। इस बार भी मार्सिअल बढ़त बनाने में कामयाब रहे। जजों ने फिर एक बार फैसला फिलीपींस के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

तीसरे राउंड में दोनों ही मुक्केबाज़ आक्रामक नज़र आए। फिलीपींस के मुक्केबाज़ ने अच्छे और कई कॉम्बिनेशन पंच लगाए। आशीष ने एक तगड़ा पंच लगाया जिसकी वजह से रेफरी ने फिलीपींस के मुक्केबाज़ के लिए आठ अंकों की काउंटिंग की। हालांकि आशीष उतने पंच नहीं लगा पाए कि पिछले दोनों राउंड के स्कोर का पीछा कर पाते। जजों ने स्प्लिट निर्णय चीन के यूमिर मार्सिअल के हक में सुनाया।

सतीश कुमार सुपर-हेवीवेट में आसानी से हारे

मेंस सुपर-हेवीवेट का यह मुकाबला भारत के चौथी वरीयता प्राप्त सतीश कुमार और उज़्बेकिस्तान के पहली वरीयता प्राप्त बाखोदिन के बीच शुरू हुआ। पहले राउंड में ऑर्थोडॉक्स बॉक्सर जालोलोव ने बढ़त बना ली। 

दूसरे राउंड में सतीश ने कुछ अच्छे और सटीक पंच लगाते हुए शानदार वापसी की। हालांकि उनके प्रयासों के बावजूद जोलोलोव इस बार भी बेहतर रहे। जजों ने फिर फैसला उज़्बेकिस्तान के मुक्केबाज़ के पक्ष में सुनाया।

तीसरे राउंड में भी जालोलोव ने बढ़ बनाए रखी और अपने प्रतिद्वंदी आशीष को वापसी का कोई मौका नहीं दिया। जजों एक एक पक्षीय निर्णय 5-0 से जालोलोव के पक्ष में सुनाया। वह अब कल अपना दूसरा बॉक्स ऑफ ऑस्ट्रेलिया के जस्टिस हुनी के साथ लड़ेंगे।

कब और कहां देख सकते हैं बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर ?

आप एशिया/ओशिनिया बॉक्सिंग क्वालिफ़िकेशन का सीधा प्रसारण एक्सक्लूसिव तौर पर ओलंपिक चैनल पर देख सकते हैं, साथ ही हमारे फ़ेसबुक पेज पर भी इसका आनंद उठा सकते हैं। शाम के सत्र की शुरूआत भारतीय समयनुसार 8.30 बजे से होगी।

साथ ही साथ आप ओलंपिक चैनल पर रोज़ाना इंग्लिश और हिन्दी में लाइव ब्लॉग के ज़रिए भी सारे मुक़ाबलों से रु-ब-रु हो सकते हैं।