आठ पुरुष, पांच भारतीय महि्ला मुक्केबाज़ों से है 2020 बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर में भारत को उम्मीदें

मैरी कॉम और विश्व नंबर 1 अमित पंघल के साथ साथ कुल 13 भारतीय मुक्केबाज़ टोक्यो 2020 का टिकेट लेने के इरादे से रिंग में उतरेंगे।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

टोक्यो 2020 में क्वालिफाई करने का जुनून खिलाड़ियों में देखते ही बन रहा है। मंगलवार, 3 मार्च से अम्मान में आयोजित एशिया/ओशिआनिया ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट (Asia/Oceania Olympic boxing qualifying tournament) के लिए भारतीय मुक्केबाज़ एमसी मैरी कॉम (MC Mary Kom) और 52 किग्रा भारवर्ग के विश्व नंबर 1 अमित पंघल भी अपनी कमर कस चुके हैं।

भारतीय मुक्केबाज़ 13 भारवर्गों (8 पुरुष और 5 महिला) में अपना कौशल दिखाते नज़र आएंगे। यह प्रतियोगिता खिलाड़ियों के लिए 63 स्थान लायी है। गौरतलब है कि 41 स्थान होंगे पुरुषों के लिए और 22 महिलाओं के लिए।

विश्व नंबर 1 अमित पंघल पर नज़र

आपको बता दें कि भारतीय खेमे से 8 पुरुष मुक्केबाज़ टोक्यो 2020 के लिए लड़ते दिखेंगे लेकिन सभी की नज़रें सबसे ज़्यादा विश्व नंबर 1 अमित पंघल पर होंगी। इस बॉक्सर ने सुर्खियां पिछले महीने फरवरी में बटोरीं जब अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक कमीटी (International Olympic Committee’s (IOC)) ने उन्हें अव्वल दर्जा दिया। पंघल, विजेंदर सिंह (Vijender Singh) के बाद ऐसा कारनामा करने वाले दूसरे भारतीय बॉक्सर बनें।

मेंस फ्लाईवेट भारवर्ग (48-52 किग्रा) में पंघल को पहली सीड पर रखा गया जिसके चलते उन्हें पहले राउंड में बाई (first-round bye) दिया गया। यह खिलाड़ी अब सीधा दूसरे राउंड मेंएंखमंडख खार्खु खरकहु (Enkhmandakh Kharkhuu) बनाम शुहरत सब्ज़्लिव (Shuhrat Sabzaliev) के विजेता के खिलाफ खेलेगा।

मेंस फेदरवेट (52-57 किग्रा) में भारतीय बॉक्सर गौरव सोलंकी (Gaurav Solanki) का सामना अकीलबेक एसेनबेक (Akylbek Esenbek) से होगा। 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स (2018 Commonwealth Games) में गोल्ड मेडल जीत चुके सोलंकी ज़रूर अपने तजुर्बे का प्रयोग कर इस मकाबले को अपने हित में करने की कोशिश करेंगे। इस मुकाबले के विजेता को फिर पहली सीड के मिराज़िज़बेक मिर्ज़ाखालिलोव (Mirazizbek Mirzakhalilov) को हराकर क्वार्टरफाइनल में अपनी जगह बनानी होगी।

वहीं वर्ल्ड चैंपियनशिप 2019 (World Championship 2019) के ब्रॉन्ज़ मेडल विजेता मनीष कौशिक (Manish Kaushik) को भी बाई मिला है। अब यह भारतीय बॉक्सर चीनी ताइपे चू एन लाइ (Chu-En Lai) के खिलाफ दूसरे राउंड (लाइटवेट 57-63 किरा) में शिरकत करता नज़र आएगा।

बात करें अगर “द इंडियन टैंक” विकासं कृष्ण (Vikas Krishan) की तो वे शुक्रवार को नूरसुल्तान ममताली (Nursultan Mamataly) बनाम शेराली ममाडालिव (Sherali Mamadaliev) के विजेता के खिलाफ कौशल दिखाते नज़र आएंगे। वहीं आशीष कुमार (Ashish Kumar) मंगलवार को मेंस मिडिलवेट 63-69 किग्रा में चीनी ताइपे चिया-वी कान (Chia-Wei Kan) के खिलाफ जौहर दिखाएंगे। आशीष अगर यह मुकाबला जीतते हैं तो उनका मुकाबला सीड नंबर 4 के ओमुरबे बेखजीत (Omurbek Bekzhigit) के खिलाफ हो सकता है।

भारतीय मुक्केबाज़ सचिन कुमार (Sachin Kumar) और समोया के डी इयापो (Dee Ioapo) को भी बाय दे दिया गया है। यह दोनों बॉक्सर एक दूसरे के खिलाफ लाइट हेवीवेट 75-81 किग्रा भारवर्ग के दूसरे राउंड में भिड़ेंगे और इस मुकाबले का विजेता क्वार्टरफाइनल तक का सफ़र तय करेगा।

मेंस हेवीवेट 81-91 किग्रा भारवर्ग मेनमन तनवर (Naman Tanwar) शुक्रवार को सीरिया के एल्डिन घौसून (Aldin Ghousoon) से दो-दो हाथ करेंगे। इस बाउट का विजेता रविवार को न्यूज़ीलैंड के डेविड न्याक (David Nyika) के खिलाफ रिंग में उतरेगा।

एशियन गेम्स के ब्रॉन्ज़ मेडल विजेता सतीश कुमार (Satish Kumar) और ओटगांबयार दैवी (Otgonbayar Daivii) को भी बाय दे दिया गया है। सुपरहेवीवेट (+91 किग्रा) भारवर्ग में यह दोनों खिलाड़ी दूसरे राउंड में एक दूसरे के खिलाफ खेलते नज़र आएंगे।

मैजिक के लिए तैयार मैरी

भारत की चहेती एमसी मैरी कॉम जो कि फ्लाईवेट 48-51 किग्रा भारवार्ग में दूसरी सीड हासिल कर चुकीं हैं उनका मुकाबला न्यूज़ीलैंड की तस्मिन् बेनी (Tasmyn Benny) के खिलाफ होगा। यह मुकाबला शनिवार रात को खेला जाएगा और यक़ीनन हर भारतीय इस दिग्गज से जीत की उम्मीदें लगाए बैठेगा।

मैजिक के लिए तैयार मैरी

भारत की चहेती एमसी मैरी कॉम जो कि फ्लाईवेट 48-51 किग्रा भारवार्ग में दूसरी सीड हासिल कर चुकीं हैं उनका मुकाबला न्यूज़ीलैंड की तस्मिन् बेनी (Tasmyn Benny) के खिलाफ होगा। यह मुकाबला शनिवार रात को खेला जाएगा और यक़ीनन हर भारतीय इस दिग्गज से जीत की उम्मीदें लगाए बैठेगा।

अगर मैरी कॉम जीत जाती हैं तो उनके सामने अगली चुनौती विनी एयू (Winnie Au) बनाम आयरिश मैग्नो (Irish Magno) की विजेता पेश करेगी। यह लड़ाई क्वार्टर फाइनल के खेमे में जाने की होगी।

वूमेंस फ्लाईवेट 54-57 किग्रा में साक्षी चौधरी (Sakshi Chaudhary) को भी बाय मिल चुका है और वे चौथी सीड की मुक्केबाज़ निलावन टेकचौसेस्प (Nilawan Techasuep) के खिलाफ बुधवार को रिंग में उतरेंगी। इसी शाम को सिमरनजीत कौर (Simranjit Kaur) कज़ाकिस्तान की रीमा वोल सेन्को (Rimma Volossenko) के खिलाफ अपना कौशल दिखाएंगी और इस मुकाबले की विजेता नामुन मोनखोर (Namuun Monkhor) के सामने खेलती दिखाई देंगी। आपको बता दें कि भारतीय सिमरनजीत 57-60 किग्रा भारवर्ग का हिस्सा होंगी।

वूमेंस वेल्टरवेट 64-69 किग्रा भारवर्ग में भारत की लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) को भी बाय की प्राप्ति हुई। यह मुक्केबाज़ माई किटो (Mai Kito) बनाम मफ्तुनखोन मेलिवा (Maftunakhon Melieva) की विजेता से दो-दो हाथ करेंगी। अंतत: वूमेंस मिडिलवेट 69-75 किग्रा भारवर्ग में पूजा रानी (Pooja Rani) अपना कौशल दिखाएंगी। गौरतलब है कि इस भारतीय बॉक्सर ने “रेडी स्टेडी गो” ओलंपिक टेस्ट इवेंट में गोल्ड मेडल अपने नाम किया था और अब वे उसी जोश के साथ पोर्ननिपा चूटी (Pornnipa Chutee) के खिलाफ रविवार को रिंग में उतरेंगी।

बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफायर कब और कहां देखें

एशिया/ओशिनिया ओलंपिक बॉक्सिंग क्वालिफिकेशन टूर्नामेंट का सीधा प्रसारण ओलंपिक चैनल और फेसबुक पेज पर देखा जा सकता है।

सुबह का सत्र 1:30 PM IST से और शाम का सत्र 8:30 IST बजे से शुरू होगा।