टोक्यो का टिकट मिलने के बाद, सेमीफाइनल में दमदार प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं विकास और लवलीना

2020 के ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने के बाद, अब ये मुक्केबाज़ अपने-अपने सेमीफाइनल मुकाबले को जीतने पर अपना ध्यान केंद्रित करेंगे।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

एशियन मुक्केबाज़ी ओलंपिक क्वालिफायर में भारतीय मुक्केबाज़ों ने रविवार और सोमवार के क्वार्टर फाइनल मुक़ाबलों में शानदार प्रदर्शन करते हुए टोक्यो 2020 के लिए अपनी जगह सुनिश्चित कर ली है। अभी तक 8 मुक्केबाज़ों ने अपने-अपने क्वार्टर फाइनल मुकाबले जीतकर टोक्यो का टिकट हासिल किया है।

2020 ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करना इन मुक्केबाज़ों का मुख्य लक्ष्य था। अब ये भारतीय मुक्केबाज़ मंगलवार को होने वाले अपने अपने सेमीफाइनल मुकाबले को जीतने की कोशिश करेंगे।

विकास कृष्ण और लवलीना बोरगोहेन सुबह के सत्र में रिंग में उतरेंगे

जापान के क्विंसी ओकाजावा के खिलाफ दवाब पूर्ण मुकाबले में अपने आप को शांत रखते हुए विकास कृष्ण (Vikas Krishan) ने जीत हासिल की और ओलंपिक का टिकट भी हासिल कर लिया। इसके साथ ही वो तीन ओलंपिक खेलों में भाग लेने वाले विजेंदर सिंह (Vijender Singh) के बाद दूसरे भारतीय मुक्केबाज़ बन गए।

मंगलवार के पुरुष वेल्टरवेट (63-69 किग्रा) वर्ग के सेमीफाइनल में एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक विजेता अब कजाकिस्तान के विश्व चैंपियनशिप के कांस्य-पदक विजेता (2017 और 2019) और एशियाई खेलों के रजत-पदक विजेता (2017) अबलेइख़ान ज़ुसुपोव (Ablaikhan Zhussupov) से भिड़ेंगे।

महिलाओं के वेल्टरवेट (64-69 किग्रा) में दूसरी वरीयता प्राप्त लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) ने रविवार को उज्बेकिस्तान के मफ्तुनाखोन मेलीवा पर जीत हासिल की और ओलंपिक का टिकट पक्का कर लिया। इसके साथ ही 2020 ओलंपिक में जगह बनाने वाली वो दूसरी भारतीय महिला बन गईं।

टोक्यो 2020 के लिए अपनी टिकट सुरक्षित करने वाली लवलीना बोरगोहेन मंगलवार को सेमीफाइनल में चीन की गो हॉन्ग (Gu Hong) का सामना करेंगी। तीसरी वरीयता प्राप्त गो हॉन्ग ने कजाकिस्तान की वेलेंटिना खलजोवा को हराने के बाद पहली बार ओलंपिक का टिकट हासिल किया है।

तीन अलग अलग ओलंपिक गेम्स में क्वालिफ़ाई करने वाले विकास कृष्ण सिर्फ़ दूसरे भारतीय मुक्केबाज़ हैं।

शाम के सत्र में एक रानी और दो कुमारों पर होगी नज़र

भिवानी की पूजा रानी (Pooja Rani) 2020 ओलंपिक के लिए अपनी बर्थ हासिल करने वाली पहली भारतीय मुक्केबाज़ बन गईं, जिन्होंने महिला दिवस के दिन क्वार्टर-फ़ाइनल में पोर्नपिपा चुटी को हराकर अपनी जगह सुनिश्चित की थी।

29 वर्षीय भारतीय मुक्केबाज़ का सामना अब सेमीफाइनल में चीन की एशियाई चैंपियन ली कियान (Li Qian) से होगा, जो महिलाओं के मिडिलवेट (69-75 किग्रा) में शीर्ष वरीयता प्राप्त हैं।

इसके बाद आशीष कुमार हैं, जिन्होंने रविवार को इंडोनेशिया के मैखेल मुस्किता पर जीत को अपने दिवंगत पिता को समर्पित किया। 

अब 2020 ओलंपिक में अपनी टिकट सुनिश्चित करने के बाद आशीष कुमार मंगलवार की शाम को पुरुषों के वेल्टरवेट (63-69 किग्रा) सेमीफाइनल में फिलीपींस के  एयुमिर मार्शल (Eumir Marcial) से भिड़ेंगे। 

24 वर्षीय  एयुमिर मार्शल पिछले साल दिसंबर में 30वें दक्षिण पूर्व एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के साथ-साथ विश्व मुक्केबाज़ी चैंपियनशिप में रजत पदक जीतने में भी सफल रहे हैं। 

इस बीच सतीश कुमार 2020 ओलंपिक में बर्थ अर्जित करने वाले सिर्फ पांचवें भारतीय ही नहीं थे बल्कि सुपर हेवीवेट डिविजन से ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाले देश के पहले खिलाड़ी थे।

सतीश कुमार मंगलवार के सेमीफाइनल में उज्बेकिस्तान के 2019 विश्व चैंपियन बाख़ोदिर जलालोव (Bakhodir Jalolov) के खिलाफ उतरेंगे।

2016 रियो ओलंपिक में पुरुषों के सुपर हेविवेट वर्ग में जलोलोव ने क्वार्टर फाइनल तक का सफर तय किया था।

कब और कहां देख सकते हैं बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर ?

आप एशिया/ओशिनिया बॉक्सिंग क्वालिफ़िकेशन का सीधा प्रसारण एक्सक्लूसिव तौर पर ओलंपिक चैनल पर देख सकते हैं, साथ ही हमारे फ़ेसबुक पेज पर भी इसका आनंद उठा सकते हैं। सुबह के सत्र की शुरुआत भारतीय समयनुसार दोपहर 2.30 बजे से होती है, जबकि शाम का सत्र भारतीय समयनुसार 8.30 बजे से प्रस्तावित है। साथ ही साथ आप ओलंपिक चैनल पर रोज़ाना इंग्लिश और हिन्दी में लाइव ब्लॉग के ज़रिए भी सारे मुक़ाबलों से रु-ब-रु हो सकते हैं।