एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप के लिए जापान ने खिलाड़ियों की घोषणा की। 

विनेश फोगाट को हारने वाली मायू मुकेदा भी इस प्रतियोगिता में शिरकत करती दिखेंगी। 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

नई दिल्ली में होने वाली 2020 एशियन रेसलिंग चैंपियनशिप के लिए जापान रेसलिंग फेडरेशन ने अपनी टीम की घोषणा कर दी है। यह प्रतियोगिता फरवरी 18-23 के बीच खेली जाएगी। भारत इस चैंपियनशिप की मेज़बानी करता दिखेगा और साथ ही हर खिलाड़ी से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद कर उन्हें बढ़ावा देगा। गौरतलब है कि जापान की ओर से टोक्यो 2020 क्वालिफाई कर चुके खिलाड़ी भी इसमें हिस्सा लेंगे, और ज़ाहिर बात है कि यह चैंपियनशिप कुछ अद्भुत मुकाबलों का सबूत बनेगी। 

जापान के पहलवान तैयार 

एशियाई देशों की बात करें तो 2020 ओलंपिक गेम्स के लिए जापान के पास सबसे ज़्यादा यानि 8 कोटा स्थान हैं और इनमें से 6 बुक हो चुके हैं। उन खिलाड़ियों के नाम और वर्ग इस प्रकार हैं: 2019 वर्ल्ड चैंपिय रिसाको कवाई (55 किग्रा), विश्व नंबर 2 मायू मुकेदा (53 किग्रा), युकाको कवाई (62 किग्रा), वर्ल्ड चैंपियन, ग्रीको-रोमन केनिचिरो फुमिता (60 किग्रा) और ताकोतो ओटोगुरो। इन सभी खिलाड़ियों ने अपने कौशल के दम पर टोक्यो 2020 का कोटा अपने हाथ में किया।

हालांकि इस प्रतियोगिता से खिलाड़ियों को कोटा स्थान जीतने का मौका तो नहीं मिलेगा लेकिन वे अपनी रैंकिंग बेहतर कर आगे बढ़ सकते हैं। 

विनेश फोगाट के पास पलटवार का मौका 

भारत के लिए सबसे मुश्किल जापानी खिलाड़ी भी इस चैंपियनशिप में हिस्सा लेती दिखेंगी। वह नाम है मायू मुकेदा का और फिलहाल वे विश्व नंबर 2 की खिलाड़ी हैं। विनेश फोगाट के सामने 53 किग्रा में इस पहलवान से भिडंत हो सकती है और यह मुकाबला बहेद कठिन होने वाला है।

नूर सुल्तान में खेली गई वर्ल्ड चैंपियनशिप में मुकेदा के सामने फोगाट का प्रदर्शन फीका रहा था। हालांकि फोगाट ने इस प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज़ मेडल अपने नाम किया लेकिनमुकेदा के सामने उन्हें हार मिली थी। 

साल 2019 की उम्दा फॉर्म के साथ जापान एशियन वर्ल्ड चैंपियनशिप में उतरेगा। पिछले साल इसी प्रतियोगिता में जापान ने 17 मेडल जीते थे जिनमें 4 गोल्ड शामिल थे। 

जापानी पहलवान इस प्रतियोगिता में 3 वर्गों में भाग लेंगे। वह वर्ग हैं, ग्रीको-रोमन, जो कि फरवरी 15 से शुरू होगी, वूमेंस रेसलिंग फरवरी 17 से और मेंस फ्रीस्टाइल फरवरी 19 से। जापान की फॉर्म और रिकॉर्ड देख कर उनसे अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद की जा सकती है।