ATK मोहन बागान के मुख्य कोच को टीम की वापसी का है भरोसा

ISL में शुक्रवार को हैदराबाद एफसी के खिलाफ ATK मोहन बागान जीत के इरादे से मैदान में उतरेगी।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

इंडियन सुपर लीग (Indian Super League – ISL) में सबसे उम्दा डिफ़ेंस एटीके मोहन बागान (ATK Mohun Bagan) का है और जब वह जमशेदपुर एफसी (Jamshedpur FC) जमशेदपुर एफसी के खिलाफ सोमवार को हारे तो फैंस को यकीन नहीं हुआ।

खुले एरिया में खाली जगह छोड़ने की मोहन बागान को सज़ा नेरिज्स वाल्सकीस (Nerijus Valskis) ने कॉर्नर से गोल मार कर दी। ऐसे में जमशेदपुर एफसी के पास 2-0 की बढ़त आ गई थी। हालांकि रॉय कृष्णा (Roy Krishna) ने उम्दा गोल कर इसे बराबर करन की कोशिश की लेकिन ऐसा हो न सका।

इस मुकाबले में ATK मोहन बागान में न सिर्फ जोश की कमी दिखी बल्कि वह सेट-पीस में भी जूझ रहे थे। यह एक ऐसा हिस्सा है जिस पर हेड कोच एंटोनियो लोपेज हाबास (Antonio López Habas) को ध्यान देना होगा।

हाबास ने बात करते हुए बताया “हम सेट-पीसिज़ के दौरान उम्दा काम कर सकते हैं। पिछले सीज़न में सेट-पीस से हमने केवल एक ही गोल खाया था। और अब एक ही मुकाबले में हमने 2 गोल दे दिए। मैं आशा करता हूं कि हम बेहतर हो जाएंगे।”

“(जमशेदपुर एफसी के खिलाफ हुए आख़िरी मुकाबले में) प्रतिद्वंदियों के पास इस मौके को खेलने के लिए अच्छे खिलाड़ी थे। मुझे अपने खिलाड़ियों पर पूरा भरोसा है और मैं उम्मीद करता हूं कि ऐसी स्थिति दोबारा नहीं होगी।”

मरीनर्स के लिए चोट मुश्किलें पैदा कर रही हैं। माइकल सूसाइराज (Michael Soosairaj) और जॉबी जस्टिन (Jobby Justin) जैस बेहतरीन फुटबॉलर फिट नहीं हैं और यह कोच को दुखद परिस्थिति में डालने के लिए काफी है।

वहीं रॉय कृष्णा ने एक बार फिर अपने कौशल से सभी को भरोसा दिलाया है। ISL 2020-21 में इस खिलाड़ी ने अभी 4 गोल किए हैं और ATK मोहन बागान को अच्छी स्थिति प्रदान की है।

हाबास ने आगे अलफ़ाज़ साझा करते हुए “हर खिलाड़ी को एक साथ योगदान देना होगा। अब लक्ष्य ज़्यादा खिलाड़ियों से गोल करवाने का है। अभी तक सिर्फ रॉय कृष्णा और मनवीर सिंह (Manvir Singh) ने ही गोल किए हैं। लेकिन अब इससे चिंतित नहीं हैं।”