बैडमिंटन

नोज़ोमी ओकुहारा ने कैरोलिना मारिन को शिकस्त देकर अपना पहला डेनमार्क ओपन खिताब जीता

ओकुहारा ने मारिन को सीधे सेटों में हराकर खिताब अपने नाम कर लिया और पूरे मुक़ाबले के दौरान किसी भी समय उन्हें वापसी का मौका नहीं दिया।

लेखक रितेश जायसवाल ·

जापान की नोज़ोमी ओकुहारा (Nozomi Okuhara) ने रविवार को बैडमिंटन सुपर 750 डेनमार्क ओपन में महिला चैंपियन का खिताब जीतने के लिए ओलंपिक चैंपियन कैरोलिना मारिन (Carolina Marin) को सीधे सेटों में 21-19, 21-17 से शिकस्त दी। ओकुहारा का 2020 बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर और डेनमार्क ओपन का यह पहला खिताब रहा। ताई त्ज़ु यिंग (Tai Tzu Ying) के हाथों वह 2019 का फाइनल हार गईं थी।

पहले गेम में मारिन ने अच्छी शुरुआत करते हुए 5-2 की बढ़त ले ली, हालांकि ओकुहारा ने जल्द ही वापसी की। जापानी शटलर ने मारिन को पीछे धकेलने के लिए अपनी सर्विस को बेहतर किया और अपने खेल में बदलाव शुरू कर दिया। उन्होंने कभी शटल को स्मैश किया तो कभी ड्रॉप और इस तरह 11-8 से बढ़त ले ली।

उसके बाद यह मुक़ाबला और भी कड़ा हो गया। मैच में वापसी करने के लिए मारिन ने अपने आक्रामक अंदाज के साथ खेलना शुरू कर दिया, लेकिन ओकुहारा उन्हें बराबरी की टक्कर दे रही थीं। जापानी स्टार ने अंततः मारिन के वापसी के इरादे पर पानी फेरते हुए शुरुआती गेम जीत लिया।

नोज़ोमी ओकुहारा दूसरे गेम में और भी ज्यादा बेहतर और तेज़ दिखीं। रियो 2016 की कांस्य-पदक विजेता ने अपनी शटल को अंदर रखने पर ध्यान केंद्रित किया और आक्रामक रुख अपनाया।

रियो की "हताशा" को पीछे छोड़ देना है नोज़ोमी ओकुहारा का लक्ष्य

जापानी बैडमिंटन खिलाड़ी नोज़ोमी ओकुहारा की नज़र में रियो 2016 में कांस्य पद...

मारिन को किसी भी अवसर को भुनाने का मौका नहीं मिला, क्योंकि वह बार-बार नेट पर शॉट खेलती हुई नज़र आईं। मारा। इसके बावजूद स्पैनियार्ड की प्रतिभा की चमक दिखाई दे रही थी, लेकिन वह अपने शॉट्स को लगाने में मुश्किल में दिखीं और ओकुहारा ने अंततः एक दमदार क्रॉस-कोर्ट स्मैश के साथ मैच खत्म कर दिया।

एलिस/लैंगरिज ने जीता पुरुष युगल

अंग्रेज मार्कस एलिस (Marcus Ellis) और क्रिस लैंगरिज (Chris Langridge) रूस ने रूस के व्लादिमीर इवानोव (Vladimir Ivanov) और इवान सोजोनोव (Ivan Sozonov) को 20-22, 21-17, 21-18 से हराकर डेनमार्क ओपन में पुरुष युगल का ताज अपने नाम कर लिया।

45 वर्षों में यह पहली बार था जब किसी पूर्ण-इंग्लिश जोड़ी ने डेनमार्क ओपन जीता था, इससे पहले 1975 में डेविड एड्डी (David Eddy) और एड्डी सटन (Eddy Sutton) की जोड़ी ने यह खिताब जीता था।

रियो 2016 के कांस्य पदक विजेता मार्कस एलिस ने कहा, “यह एक बहुत बड़ा टूर्नामेंट है, और किसी सुपर 750 जीतने के इरादे से यह हमारे लिए सबसे बड़े टूर्नामेंट जीत में से एक है। यह हमारे लिए सबसे अच्छा है।"

यह एलिस-लैंगरिज का 2020 बीडब्ल्यूएफ वर्ल्ड टूर का पहला खिताब था और इवानोव-सोज़ोनोव की जोड़ी पर उनकी पहली जीत भी थी, जिन्होंने 2016 का ऑल-इंग्लैंड ओपन जीता था।

इस बीच जापान के शीर्ष वरीयता प्राप्त युकी फुकुशिमा (Yuki Fukushima) और सयाका हिरोटा (Sayaka Hirota) ने सुपर 750 डेनमार्क ओपन में महिला युगल खिताब जीता।

उन्होंने एक रोमांचक फाइनल में हमवतन और विश्व विजेता मयु मात्सुमोतो (Mayu Matsumoto) और वकाना नागाहारा (Wakana Nagahara) को 21-10, 16-21, 21-18 से हराया।

यह फुकुशिमा-हिरोटा का दूसरा डेनमार्क ओपन खिताब था, इससे पहले उन्होंने इसे 2018 में एक साथ जीता था। मार्च में ऑल इंग्लैंड ओपन के बाद 2020 BWF वर्ल्ड टूर पर यह उनका दूसरा खिताब भी रहा।

सयाका हिरोटा ने कहा, "हम बहुत खुश हैं कि हम इस सुपर 750 इवेंट को खेल सके, यह बहुत बड़ा टूर्नामेंट है और अब हम जापान वापस जाकर इस जीत का जश्न मनाने के लिए कुछ बहुत ही स्वादिष्ट व्यंजन खाना चाहते हैं।”