वर्ल्ड बैंडमिंटन कैलेंडर की हुई घोषणा, मई में होगा इंडिया ओपन

ओलंपिक क्वालिफिकेशन अवधि मई में नई दिल्ली में होने वाले इंडिया ओपन के साथ समाप्त होगी।

लेखक लक्ष्य शर्मा ·

कई इवेंट के रद्द और स्थगित होने के बाद बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (Badminton World Federation) ने सोमवार को आखिरकार नए कैलेंडर की घोषणा कर दी।

इसी के साथ अब ये साफ हो गया है कि इंडिया ओपन सुपर 500 इंवेट (India Open Super 500 event) का आयोजन दिल्ली के इंदिरा गांधी स्टेडियम में 11 से 16 मई तक होगा।

हालांकि देश की राजधानी में एक आपातकालीन कोविड-19 केंद्र के रूप में इस स्थान का उपयोग किया जा रहा था और कुछ सप्ताह पहले ही इसमें फिर से खेल गतिविधियां शुरू हुई।

बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया (बीएआई) के महासचिव अजय के सिंघानिया ने ओलंपिक चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि “महामारी के कंट्रोल में ना होने और ट्रेवल संबधित अनिश्चितता के बावजूद अपने घर पर आखिरी क्वालिफायर्स होने का फायदा निश्चित तौर पर हमारे खिलाड़ियों को होगा।”

इसके अलावा उन्होंने कहा कि “बाई ने 2021 सीजन को अच्छे और सुरक्षित तरीके से आयोजित करवाने की तैयारी पहले ही शुरू कर दी है और यह इवेंट बंद दरवाजों में यानी बिना दर्शकों के होगा।”

वैसे तो इंडिया ओपन को मार्च की विंडो मिली हुई थी लेकिन कोरोना के कारण वह लगातार स्थगित होता गया। यह टूर्नामेंट अब टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए क्वालीफाइंग विंडो में अंतिम टूर्नामेंट होगा।

इस बीच, ओलंपिक क्वालीफाइंग प्रक्रिया, जो मार्च के बीच से फ्रीज हुई थी, वह अब मई 2021 तक चलेगी, पहले इसकी डेडलाइन 26 अप्रैल थी। अब बीडबल्यूएफ 'रेस टू टोक्यो' के लिए 18 मई 2021 तक की रैंकिंग के आधार खिलाड़ियों का चयन करेगा, कि कौन टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर रहे हैं और क्या उनकी रैंकिंग है।

BWF के महासचिव थॉमस लुंड (Thomas Lund) ने कहा, "ये समय सीमा COVID -19 की अनिश्चित प्रकृति और सुरक्षा प्रोटोकॉल के साथ टूर्नामेंट आयोजित करने के लिए आवश्यक अतिरिक्त समय के कारण निर्धारित की गई है।"

पिछले सीजन के विपरीत 2021 के सीजन में भी टूर्नामेंट का आयोजन किया जाएगा।

सीजन की शुरुआत एशियन लेग के साथ होगी, जिसमें दो थाईलैंड ओपन (Thailand Opens) और बीडबल्यूएफ वर्ल्ड टूर फाइनल्स (BWF World Tour Finals) भी शामिल है। इसके बाद बैडमिंटन का कारवां मार्च में यूरोप पहुंचेगा, यहां पर स्विस ओपन सुपर 300 (Swiss Open Super 300), जर्मन ओपन सुपर 300 (German Open Super 300) और ऑल इंग्लैंड चैंपियनशिप (All England Championships) जैसे बड़े टूर्नामेंट खेले जाएंगे।

थॉमस लुंड ने बताया “हम 2021 में ज्यादा से ज्यादा इवेंट अच्छे तरह से आयोजित करने की उम्मीद कर रहे हैं। कोरोना की वजह से इंटरनेशनल टूर्नामेंट का आयोजन करने में कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है और हमारे सामना कई सारे नियम भी होते हैं। बीडब्ल्यूएफ को उम्मीद है कि महामारी अभी भी पूरे 2021 में टूर्नामेंट की मेजबानी को प्रभावित करेगी।”

अप्रैल और मई में सिंगापुर ओपन सुपर 500 (Singapore Open Super 500), इंडिया ओपन (India Open) और सेंटर स्टेज पर कॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप होने के कारण खिलाड़ी काफी व्यस्त रहेंगे।