US में खेले गए आठ पुरुषों वाले फ्लोरेसलिंग का खिताब बजरंग पुनिया ने जीता

भारतीय पहलवान ने दो बार के विश्व चैंपियनशिप पदकधारी जेम्स ग्रीन्स को हराकर फ्लोरेसलिंग का खिताब अपने नाम किया।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

COVID महामारी के कारण लगभग एक साल बाद मैट पर कदम रखने वाले भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने अमेरिका में हुए आठ पुरुषों वाले 150lbs (68kg) फ्लोरेसलिंग (FloWrestling) में खिताबी जीत हासिल की। यह मुकाबला टेक्सास के ऑस्टिन में शुक्रवार को खेला गया था।

बजरंग पुनिया उन चार भारतीय पहलवानों (Indian Wrestlers) में से एक हैं जिन्होंने टोक्यो ओलंपिक के लिए अपना स्थान सुरक्षित किया हुआ है। फाइनल मुकाबले में उन्होंने दो बार के वर्ल्ड चैंपियनशिप मेडलिस्ट जेम्स ग्रीन्स (James Greens) को 8-4 से हराकर खिताब जीता और $25000 इनामी राशि भी अपने नाम की।

26 साल के बजरंग पुनिया ने तीन बार वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेडल जीता है। इंडिया ने फाइनल मुकाबले में ग्रीन्स के खिलाफ अच्छी शुरुआत की और 2 अंक के साथ बढ़त हासिल कर ली। हालांकि लगातार दो टेकडाउन की वजह से बजरंग पुनिया 2-4 से पिछड़ गए।

इसके बाद बजरंग पुनिया ने भी इसका बेहतरीन तरीके से जवाब दिया और दो टेकडाउन के जरिए स्कोर बराबरी पर ला दिया।

 बजरंग पुनिया मुकाबले में पूरी तरह हावी हो गए और अमीर की पहलवान को कोई मौका दिए बगैर  8-4 से बढ़त हासिल कर ली। ग्रीन्स ने वापसी की कोशिश जरूर की लेकिन उनकी हर कोशिश को बजरंग पुनिया ने नाकाम कर दिया और मुकाबले के साथ खिताब भी अपने नाम कर लिया।

हाल ही में भारतीय महिला पहलवान संगीता फोगाट (Sangeeta Phogat) के साथ शादी के बंधन में बंधने वाले बजरंग पुनिया ने मैच के बाद कहा "मैं अपने प्रदर्शन से बहुत खुश हूं और मैंने महामारी के बाद काफी लंबे समय बाद जीत हासिल की है।  आप सभी के प्यार और आशीर्वाद के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद।”

पुनिया ने ये भी कहा कि वो आने वाले मुक़ाबलों में अपने प्रदर्शन में और सुधार की उम्मीद कर रहे हैं।

शुरुआती दौर में बजरंग पुनिया ने US के पहलवान पेट लुगो (Pat Lugo) को 6-1 से हराया। इसके बाद उन्होंने दो बार के पैन-अमेरिकन चैंपियन एंथनी आसनॉल्ट (Anthony Ashnault) को एकतरफा मुकाबले में 9-0 से हराकर फाइनल में जगह बनाई।

बजरंग पुनिया के खिलाफ फाइनल में मैट पर उतरने वाले ग्रीन्स ने ब्राइस मेयरडिथ और एलेस पैंटालियो को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी। 

पैंटालियो ने आसनॉल्ट को हराकर तीसरा स्थान हासिल किया।

USA में अपनी ट्रेनिंग को जारी रखने के चलते भारतीय पहलवान बजरंग पुनिया ने हाल ही में खत्म हुए व्यक्तिगत विश्वकप के मुकाबले से बाहर रहने का फैसला किया था। अपने देश वापस लौटने से पहले 22 दिसंबर को भारतीय पहलवान अमेरिका के ओलंपिक उम्मीद जैन रदरफोर्ड (Zain Retherford) के खिलाफ मैट पर उतरेंगे जिसे निटैनी लियोन रेस्टलिंग क्लब ने आयोजित किया है।