यूरोप में गोल करने वाली भारत की पहली महिला फुटबॉलर बनीं बाला देवी

स्ट्राइकर बाला देवी रैंजर्स वुमेंस के लिए देर से विकल्प के रूप में आईं और अपने क्लब के लिए 9-0 की जीत में अंतिम गोल किया। यह भारतीय फुटबॉल के लिए एक ऐतिहासिक क्षण था।

लेखक लक्ष्य शर्मा ·

भारतीय महिला फुटबॉल स्टार बाला देवी (Bala Devi) रविवार को यूरोपीय पेशेवर फुटबॉल लीग में गोल करने वाली देश की पहली महिला खिलाड़ी बनीं।

बाला देवी, एक यूरोपीय क्लब के साथ एक पेशेवर अनुबंध पर हस्ताक्षर करने वाली पहली महिला भारतीय फुटबॉलर हैं। अब इस खिलाड़ी ने एक और इतिहास रचते हुए स्कॉटिश महिला प्रीमियर लीग में मदरवेल वुमेंस (Motherwell Women ) पर 9-0 की रोमांचक जीत में रैंजर्स वुमेंस एफसी (Rangers Women FC) के लिए अंतिम गोल किया।

दूसरे हाफ के 68वें मिनट में वह किर्स्टी ह्वाट (Kirsty Howat) के विकल्प के रूप में मैदान में उतरीं और आते ही उन्होंने अपना प्रभाव डालना शुरू कर दिया। उनकी एक शानदार रणनीति की वजह से रैंजर्स वुमेंस को एक पेनल्टी मिली।

साथी सब्सीट्यूट 20 वर्षीय फ्रांसीसी महिला डैन्या बॉर्मा (Daina Bourma) ने पेनल्टी का पूरा फायदा उठाया और अपनी टीम की तरफ से 8वां गोल किया।

रैंजर्स लगातार आक्रामक खेल रहीं थीं और 85वें मिनट में उनको इसका फायदा मिला। बाला देवी ने मदरवेल गोलकीपर ख्याम रामसे (Khym Ramsay) को मात देते हुए रैंजर्स की तरफ से अपना पहला गोल किया और भारतीय फुटबॉल (Indian football) के लिए इतिहास रच दिया।

भारतीय फुटबॉल टीम (Indian football team) की कप्तान आशालता देवी (Ashalata Devi) ने बाला की तारीफ करते हुए कहा कि अगर वह लगातार अच्छा प्रदर्शन करती रही तो टीम में अपनी जगह पक्की कर सकती हैं, जो कि भारतीय फुटबॉल के लिए काफी अच्छा है।

बाला देवी ने अटैकिंग मास्टर क्लास में फिनिशिंग टच को शामिल किया, वहीं रैंजर्स वुमेंस के लिए शाम के सितारे लिजी अरनोट (Lizzie Arnot) और कर्स्टी हावट (Kirsty Howat) थीं, दोनों ने हैट्रिक बनाई।

मेगन बेल (Megan Bell) भी रैंजर्स की तरफ से गोल करने में कामयाब रही, वहीं ऑस्ट्रेलिया स्टार सैम केर (Sam Kerr) भी गोल करने में सफल रहीं।

बड़ी जीत ने रैंजर्स महिलाओं को छह मैचों में 15 अंकों के साथ स्कॉटिश महिला प्रीमियर लीग में दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया है। वे राजधानी टीम ग्लासगो सिटी (Glasgow City) से तीन अंक पीछे हैं, जो इस सीज़न में लीग में एकमात्र नाबाद टीम हैं।

प्रमुख तस्वीर: AIFF