मैरी कॉम और निकहत ज़रीन के बीच होगा BFI ट्रायल्स फाइनल का मुक़ाबला

दोनों मुक्केबाज़ो ने अपने विरोधियों को 10-0 से हराया, अब वे फरवरी में होने वाले ओलंपिक क्वालिफायर में जगह बनाने के लिए एक-दूसरे के खिलाफ शनिवार को रिंग में उतरेंगी।

लेखक रितेश जायसवाल ·

निकहत ज़रीन को आखिरकार शनिवार (28 दिसंबर) को बीएफआई ट्रायल के 51 किलोग्राम के फाइनल में अपनी आदर्श एमसी मैरी कॉम का सामना करना पड़ेगा। दो प्रसिद्ध मुक्केबाज़ों के बीच होने वाला यह मुक़ाबला दर्शकों के लिए काफी रोमांचक साबित हो सकता है। दोनों ने इस मुक़ाबले में पहुंचने के लिए शुक्रवार को पहले राउंड में अपने-अपने विरोधियों को 10-0 से शिकस्त दी। कॉम रितू ग्रेवाल पर जबकि ज़रीन ने राष्ट्रीय चैंपियन ज्योति गुलिया पर जीत हासिल की।

लम्बे इंतज़ार के बाद होगा मुक़ाबला

पूर्व जूनियर विश्व चैंपियन ज़रीन ने फरवरी के ओलंपिक क्वालिफायर के लिए बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया की चयन नीति की आलोचना की थी और छह बार की विश्व चैंपियन कॉम के खिलाफ निष्पक्ष ट्रायल की मांग की थी। कॉम ने जवाब दिया था कि वह बीएफआई की प्रस्तावित चयन नीति का सम्मान करेंगी और उन्होंने परीक्षण करने का फैसला किया था।

दिन के बाकी नतीजे

शुक्रवार को हुए अन्य मुकाबलों में, 57 किग्रा वर्ग में विश्व युवा स्वर्ण पदक विजेता साक्षी चौधरी ने एशियाई रजत विजेता मनीषा मौन को 7-3 से हराया, जबकि सोनिया लाथेर ने अपने हमनाम और साथी रेलवे स्पोर्ट्स प्रमोशन बोर्ड (आरएसपीबी) की खिलाड़ी सोनिया चहल को एक आदर्श स्कोर से शिकस्त दी।

60 किग्रा के शुरुआती मुक़ाबले में, यह पूर्व राष्ट्रीय चैंपियन सिमरनजीत कौर थीं, जिन्होंने पावित्रा को 10-0 से हराया था। जबकि सरिता देवी ने पूर्व युवा विश्व चैंपियन शशि चोपड़ा को 9-1 से हराया।

69 किग्रा सलामी मुक्केबज़ों द्वारा ललिता को मीना रानी को 9-1 से और दो बार की विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहिन ने अंजलि को 10-0 से हराकर अपना दबदबा बनाया।

अंत में, 75 किग्रा की सलामी मुक्केबाज़ एशियाई खेलों की कांस्य पदक विजेता पूजा रानी थी जिन्होंने इंद्राजा को 10-0 से हराकर बाहर कर दिया, जबकि नूपुर ने विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता सविता बोरा को 9-1 से बेहतर किया।

प्रत्येक अंतिम ट्रायल मैच के विजेताओं को ओलंपिक क्वालिफायर में भाग लेने के लिए भारतीय टीम के लिए चुना जाएगा, जो 3-14 फरवरी, 2020 तक चीन में आयोजित होने वाले हैं।

शनिवार को महिलाओं के फाइनल के बाद, रविवार से शुरू होने पुरुषों के दो दिवसीय ट्रायल कर्नाटक के बेल्लारी में आयोजित किए जाएंगे।