ISL की ट्रॉफी जीत चुके कार्ल्स क्वाड्रात और बेंगलुरु एफसी का साथ छूटा

लगातार 3 मुकाबले हारने के बाद बेंगलुरु एफसी के हेड कोच के पद पर पूर्व भारतीय फुटबॉलर नौशाद मूसा को रखा गया है। यह कार्ल्स क्वाड्रात की रिप्लेसमेंट के तौर पर कार्य करेंगे।

लेखक Utathya Nag ·

इंडियन सुपर लीग (Indian Super League – ISL) की टीम बेंगलुरु एफसी के हेड कोच कार्ल्स क्वाड्रात (Carles Cuadrat) ने अपना पद छोड़ दिया है। बुधवार को इस ख़बर पुष्टि की गई है और भारतीय पूर्व फुटबॉलर नौशाद मूसा (Naushad Moosa) को फिलहाल के लिए कोच बना दिया गया है।

कार्ल्स क्वाड्रात भारत में 2016 में आए थे और बेंगलुरु एफसी के हेड कोच एल्बर्ट रोका के अंडर टीम को असिस्ट करते रहे। रोका के जाने के बाद क्वाड्रात को टीम का मुख्य कोच बनाया गया था।

ISL 2018-19 में कार्ल्स क्वाड्रात ने पहली बार ब्लूज़ के कारवां का नेतृत्व किया और उसी साल इस टीम ने पॉइंट्स टेबल पर भी सबसे ऊपरी हिस्से को अपनी झोली में डाला और साथ ही एफसी गोवा को मात देते हुए अपनी पहली ट्रॉफी भी जीती।

क्वाड्रात के नेतृत्व में इस टीम ने लगातार ऐसे 11 मुकाबले खेले जिनमें उन्हें हार नहीं मिली और उनमें से भी 6 मुकाबले ऐसे थे की उन्होंने लगातार 6 जीत हासिल की। इन दोनों ही आंकड़ों का लीग में रिकॉर्ड बन चुका है।

उसके अगले सीज़न में क्वाड्रात ने बेंगलुरु एफसी को प्लेऑफ तक भी पहुंचाया था। हालांकि इस टीम का सफ़ ATK ने रोक दिया था।

52 वर्षीय स्पेनियार्ड ने ब्लूज़ को ISL 2020-21 में भी ज़बरदस्त शुरुआत दी। शुरूआती 6 मुकाबलों में इस टीम को उनके प्रतिद्वंदी हरा न सके। हालांकि इसे बाद टीम ने लय खो दी और लगातार 3 मुकाबले गवां दिए।

क्वाड्रात के रहते ISL 2020-21 में बेंगलुरु एफसी पांचवें स्थान पर है और चौथे स्थान पर विराजमान जमशेदपुर एफसी (Jamshedpur FC).से महज़ 1 अंक पीछे हैं।

पर्थ जिंदल (Parth Jindal) बेंगलुरु एफसी के डायरेक्टर ने क्वाड्रात को धन्यवाद दिया और इस टीम को भारतीय फुटबॉल की ताकत बनाने के लिए बधाई भी दी।

जिंदल ने बात करते हुए कहा “मैनेजमेंट के साथ बातचीत करने के बाद हमे समझ आया कि टीम को एक नए हेड कोच की ज़रूरत है जो कि बेंगलुरु एफसी के सिद्धांत और सोच को दर्शाए।”

नौशाद मूसा अब से इस टीम का कोच के रूप में नेतृत्व करेंगे और उनका पहला मुकाबला रॉबी फ़ॉलर (Robbie Fowler) की टीम ईस्ट बंगाल के खिलाफ शुक्रवार को खेला जाएगा। ग़ौरतलब है कि मूसा इस टीम के साथ 4 साल से बने हुए हैं।

मुख्य तस्वीर: ISL मीडिया