बैडमिंटन

हेंड्रा सेतियावान ने मुझे धैर्य से खेलना सिखाया: चिराग शेट्टी

इस युवा खिलाड़ी ने बताया कि कैसे दिग्गज सेतियावान ने बेंगलुरू रैपटर्स के खिलाफ उनके ट्रम्प मैच में उन्होंने तनावपूर्ण स्थिति से उन्हें बाहर निकाला।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

भारत के सबसे प्रतिभाशाली नए बैडमिंटन सितारों में से एक, चिराग शेट्टी, जिन्होंने पिछले साल सतविसाईराज रंकीरेड्डी के साथ मिलकर थाईलैंड मास्टर्स जीता था, उन्होंने प्रीमियर बैडमिंटन लीग की फ्रेंचाइजी पुणे 7 एसेज़ को लगातार तीन जीत दिलाने में मदद की है और टीम को अंक तालिका में दूसरे स्थान पर पहुंचा दिया है।

चिराग शेट्टी अभी तक दिग्गज इंडोनेशियाई हेंड्रा सेतियावान के साथ तीनों मैच में जोड़ी बनाकर खेलते दिखे हैं, जो डबल्स में दुनिया के नंबर 2 खिलाड़ी हैं। चिराग शेट्टी कहते हैं कि उनके साथ खेलने से किसी भी तरह की दबाव से बाहर निकलने में मदद मिलती है।

चिराग शेट्टी ने अरुण जॉर्ज और बेंगलुरु रैपटर्स के रियान अगुंग सपुत्रो के खिलाफ कुछ सीधे गेम जीतने का जिक्र करते हुए कहा कि “हेंड्रा के साथ साझेदारी शानदार रही है, उनसे बहुत कुछ सीखने को मिला है। जब हम मुकाबले में 11-14 से पिछड़ रहे थे, और मैं बहुत अधिक गलतियां कर रहा था, तब कोर्ट में उनकी धैर्यपुर्ण रवैये से मुझे मदद मिली”

चिराग शेट्टी ने कहा, "उन्होंने मुझे आराम से खेलने के लिए कहा और किसी भी फैंसी स्ट्रोक को खेलने से मना किया, मैंने ऐसा ही किया और हमने उस गेम को 15-14 से जीत लिया। ”

एक बार संघर्षपूर्ण गेम जीतने के बाद, पुणे 7 एसेज़ की जोड़ी ने अगले गेम को 15-3 से जीत लिया और अपनी टीम को ट्रम्प मैच में जीत दिलाकर दो अंक दिए। उन्होंने कुछ दिनों बाद चिराग शेट्टी की भारतीय टीम के साथी और चेन्नई सुपरस्टार्ज़ की ओर से खेलने वाले सतविकसाईराज रंकीरेड्डी और बी सुमीत रेड्डी के खिलाफ फिर से ऐसा ही किया। 

हेंड्रा सेतियावन ने कैसे चिराग के खेल को बदला

चिराग शेट्टी-हेंड्रा सेतियावान की साझेदारी पीबीएल के सिर्फ तीन मैचों में विश्वसनीय साझेदारी बन चुकी है, जिसका फायदा भारतीय युवा खिलाड़ी को मिलेगा।

हालांकि, उन्होंने अपने साथी की एक दिलचस्प खूबी को खुद के खेल में शामिल करने की उम्मीद की। उन्होंने कहा कि "मुझे लगता है कि हेंड्रा का नेट गेम शानदार है और वो अगर 10 स्ट्रोक मारेंगे तो कम से कम 5 का लक्ष्य सिर्फ नेट कॉर्ड होगा और मैं इसी कला को अपने खेल में विकसित करना चाहता हूं।''

इन दोनों ने अपने बेहतरीन प्रदर्शन को जारी रखने की उम्मीद की है और शनिवार को प्रीमियर बैडिंटन लीग में नॉर्थ इस्टर्न वॉरियर्स के खिलाफ जीत हासिल कर पुणे 7 एसेज़ को पॉइंट्स टेबल में शीर्ष पर पहुंचा देंगे।