दीपक पुनिया बनें जूनियर रेसलर ऑफ़ द ईयर 2019

भारतीय पहलवान दीपक पुनिया ने जीता जूनियर फ्रीस्टाइल रेसलर ऑफ़ द ईयर का खिताब 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारत और कुश्ती का रिश्ता पिछले कुछ सालों में बेहद मज़बूत हुआ है। हालही में भारत के मशहूर पहलवान दीपक पुनिया को यूनाइटेड वर्ल्ड रेसलिंग द्वारा जूनियर फ्रीस्टाइल रेसलर ऑफ़ ईयर के खिताब नावाज़ा गया।

यह खिताब पुनिया को उनकी मेहनत और अच्छे खेल के लिए दिया है। अगस्त में पुनिया ने जूनियर वर्ल्ड फ्रीस्टाइल रेसलिंग के खिताब को जीत कर भारत के 18 सालों के सूखे को ख़तम कर दिया है।

बेहतरीन साल

ताल्लिन, एस्टोनिया में हुए 2019 जूनियर वर्ल्ड चैंपियनशिप में दीपक पुनिया ने 86 किग्रा वर्ग में खेलते हुए रूस के अलिक शबज़ुकोव को पस्त कर यह खिताब हासिल किया। साल 2001 के बाद अब जाकर भारत को जूनियर वर्ल्ड टाइटल हाथ लगा। इससे पहले भारत के रमेश कुमार (69 किग्रा) और पलविंदर सिंह चीमा (130 किग्रा) ने गोल्ड मेडल जीत भारत की मिट्टी का क़र्ज़ अदा किया था।

पुनिया ने 2018 में जूनियर कुश्ती में खेलते हुए एक सिल्वर और एक ब्रॉन्ज़ मेडल अपने नाम किया था और वहीं साल 2016 में इसी पहलवान ने कैडेट वर्ल्ड चैंपियनशिप में उम्दा प्रदर्शन कर भारत की झोली में एक और ब्रॉन्ज़ मेडल डाल दिया। वहीं उसी प्रतियोगिता में भारत के विकी चाहर ने गोल्ड मेडल पर अपना हक जमाया था।

पुनिया ने जीता टोक्यो 2020 के लिए कोटा

नूर-सुल्तान, कज़ाकिस्तान में हुए 2019 वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में पुनिया ने अपने खेल का शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए कोलंबिया के कार्लोस इज़किएर्डो को क्वार्टरफाइनल में पटकनी देकर जीत हासिल की। इस प्रदर्शन द्वारा पुनिया ने 2020 ओलंपिक गेम्स के लिए भी कोटा जीता। इनसे पहले विनेश फोगाट, बजरंग पुनिया और रवि कुमार जैसे पहलवानों ने टोक्यो 2020 के लिए अपनी सीट बुक कर ली है। जापान में खेले जाने वाले इस महाकुम्भ के लिए भारतीय कुश्ती का खेमा लगातार बढ़ता जा रहा है और पूरी जनता इन पहलवानों से उमीदें बांधे बैठी है।

पुनिया के साथ-साथ 2019 वर्ल्ड रेसलिंग चैंपियनशिप में भारत के राहुल अवारे ने पूर्व एशियन चैंपियन कालीयेव को हराकर आखिरी 4 में कदम रखे। दीपक पुनिया की बात करें तो 86 किग्रा में वह इस समय रैंक 1 पर हैं और इसी वजह से टोक्यो 2020 के लिए उनसे उम्मीदें बढ़ जाती हैं।

महिलाओं की बात करें तो जापान कीयुई सुज़ाकी को वूमेंस रेसलर ऑफ़ द ईयर के खिताब से नवाज़ा गया सुज़ाकी ने इस साल कड़ा मुकाबले दिखाते हुए अपने करियर का दूसरा जूनियर वर्ल्ड टाइटल जीता।