आक्रमण को बेहतर करने से बेंगलुरु का ISL खिताब की दावेदारी मजबूत होगी: एरिक पार्तलु

ऑस्ट्रेलियाई मिडफील्डर ने ये भी दावा किया है कि बेंगलुरू एफसी को आईएसएल 2020-21 सीज़न में खिताब से कम कुछ भी मंजूर नहीं होगा।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

बेंगलुरू एफसी के ऑस्ट्रेलियाई मिडफील्डर एरिक पर्तालु (Erik Paartalu) का मानना ​​है कि इंडियन सुपर लीग (Indian Super League) के इस सीजन में ब्लूज़ के खिताब जीतने की दावेदारी और मजबूत होगी।

आईएसएल 2018-19 चैंपियन बेंगलुरू एफसी (Bengaluru FC) पिछले सीज़न में सेमीफाइनल में पहुंची थी, जिसे पिछले सीजन की चैंपियन एटीके ने हराया था। एक मजबूत डिफेंस होने के बावजूद खराब कन्वर्जन रेट की वजह से वो खिताब से चूक गई।

बेंगलुरू एफसी पिछले सीजन में सभी 10 टीमों के खिलाफ 20 मैचों में 24 गोल के साथ सातवें स्थान पर थी। उनके पीछे टीम - जमशेदपुर एफसी (22 गोल), हैदराबाद एफसी (21 गोल) और नॉर्थईस्ट यूनाइटेड एफसी (16 गोल) – थीं।

एरिक पर्तालु ने ओलंपिक चैनल को बताया, "मुझे लगता है कि कोच कार्लेस क्यूड्राट (Carles Cuadrat) ने इस सीजन में अपना इरादा स्पष्ट कर दिया है। वो ज्यादातर आक्रामक रवैये के विकल्प को चुनना पसंद करते हैं।”

उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा, “पिछले साल हमारी टीम में गोल करने वाले खिलाड़ियों कमी देखी गई थी, जो एक बड़ी बात थी। हमने इस सीज़न में तीन बेहतरीन गोल-स्कोररों को साइन किया है ... इसलिए इस साल बहुत अधिक स्कोर होने की संभावना है।"

अपने गोल स्कोरिंग समस्या को हल करने के लिए, बेंगलुरू एफसी ने नार्वे के स्ट्राइकर क्रिस्टियन ऑप्सेथ (Kristian Opseth) और ब्राजील के क्लीटन सिल्वा (Cleiton Silva) को शामिल कर के कप्तान सुनील छेत्री (Sunil Chhetri) के ऊपर  से बोझ कम करने की कोशिश की है, जिन्होंने पिछले सीजन में बेंगलुरु के लिए 24 गोलों में से 9 गोल किए थे।

बीएफसी का तीसरा नया विदेशी खिलाड़ी है फ्रान गोंजालेज (Fran Gonzalez), डिफेंडर होने के बावजूद ये हमला करने की क्षमता रखते हैं। ये स्पैनिस खिलाड़ी छह-यार्ड बॉक्स में खतरनाक हो सकते हैं। उन्होंने पिछले आई-लीग (I - League) चैंपियन मोहन बागान के लिए 10 गोल किए थे। मोहन बागान का इस सीजन में ATK के साथ विलय हो गया है।

पिछले साल अपने चैंपियन टैग को खोने के बाद, पूरी टीम को एक बार फिर सफलता का स्वाद चखने के लिए बेकरार है।

"मुझे लगता है कि हमें पिछले सीजन के समाप्त होने के अगले दिन से ही यह स्पष्ट कर दिया गया था कि हम जीतने के लिए फिर से वापस आने वाले हैं। बेंगलुरु में हर किसी के लिए ये बहुत स्पष्ट है कि हम इस साल ट्रॉफी जीतने के लिए मैदान पर उतरेंगे और उम्मीद है कि हम इस उम्मीद पर खरे उतरेंगे।

गोवा की चुनौती के लिए तैयार

आईएसएल 2020-21 में बेंगलुरु एफसी का अभियान 22 नवंबर को एफसी गोवा के खिलाफ शुरू होगा। एफसी गोवा ने ही 2018-19 के फाइनल में बेंगलुरू एफसी को हराकर अपना पहला आईएसएल खिताब जीता था।

हालांकि, गोवा इस साल नए मुख्य कोच जुआन फेरैंडो (Juan Ferrando) की देख-रेख में एक नए रूप में मैदान पर उतरेगी। COVID-19 महामारी के कारण गोवा में पूरा टूर्नामेंट खेला जाएगा, जिसको देखते हुए एरिक पार्तलू को लगता है कि गोवा अपने घरेलू मैदान पर कड़ी चुनौती पेश करेगी।

पार्तलु ने कहा, "हम नहीं जानते कि खेल के पहले मुक़ाबला में क्या परिणाम होगा क्योंकि बहुत सारी टीमों ने अपने कोच और अपने खिलाड़ियों को बदल दिया है।"

ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा, "फतोर्दा में गोवा अपना सभी घरेलू मुक़ाबला खेलती है, इसलिए ये हमारे लिए एक अवे गेम की तरह है, लेकिन हम पूरी तरह से तैयार रहेंगे और उनके खिलाफ जीतने के लिए तैयार रहेंगे।"