सानिया मिर्ज़ा ने फेड कप में जीत के साथ की शुरुआत

रुतुजा भोसले ने अपने एकल मुकाबले में जीत हासिल की, जबकि सानिया मिर्ज़ा और अंकिता रैना ने महिलाओं की प्रतियोगिता के तीसरे दिन युगल मुकाबले में जीत हासिल की।

लेखक सतीश त्रिपाठी ·

भारतीय टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्ज़ा (Sania Mirza) ने दुबई में चल रहे फेड कप एशिया-ओशिनिया महिला टेनिस टूर्नामेंट (Fed Cup Asia-Oceania women’s tennis tournament) में पहली बार कोर्ट में कदम रखा और जीत हासिल की।

मिर्ज़ा ने अंकिता रैना (Ankita Raina) के साथ जोड़ी बनाते हुए दक्षिण कोरियाई जोड़ी ना रि किम (Na Ri Kim) और ना-ला-हान (Na-Lae Han) को मात दी। इस मुकाबले में सानिया और उनकी जोड़ी ने प्रतिद्वंद्वी से 6-4, 6-4 से जीत हासिल की। इसके साथ ही रुतुजा भोसले (Rutuja Bhosal) ने सिंगल मैच में 7-5 और 6-4 से जीत हासिल की।

पहले दो मैच में बाहर रहने के बाद गुरुवार को सानिया मिर्ज़ा ने फ़ेड कप में जीत के साथ वापसी की।

सानिया मिर्ज़ा ने मुकाबले को अपने पक्ष में किया

सानिया मिर्जा इस टूर्नामेंट के पहले दो मुकाबलों में मौजूद नहीं थी। जहां चीन और उज्बेकिस्तान के खिलाफ रिया भाटिया (Riya Bhatia ) और सौजन्य बावीशेट्टी (Sowjanya Bavisetti) ने भारत के लिए युगल मुकाबले में जिम्मेदारी संभाली। गुरुवार को हुए इस मुकाबले में सानिया ने अंकिता रैना के साथ एक बेहतरीन शुरुआत की और अपने विरोधी खिलाड़ी को एक घंटे 39 मिनट तक चले इस मैच के पहले तीन गेम में दो बार परास्त किया।

इसके बाद दक्षिण कोरियाई ने चौथे गेम में वापसी करते हुए पहला ब्रेक लिया, लेकिन सानिया और अंकिता रैना ने पांचवें गेम में बेहतरीन वापसी की। वहीं, अब भारतयी टेनिस जोड़ी इस मुकाबले में 4-1 से आगे चल रही थी। जिसके बाद सानिया मिर्ज़ा और अंकिता रैना ने दूसरे सेट में अपने विरोधियों को टू-टू-वन खेलते हुए 6-4 से जीत हासिल की।

रुतुजा भोसले ने अपनी लय बरकरार रखी

शुरुआत में रुतुजा भोसले और सु जियोंग एक दूसरे को बेहतरीन टक्कर दे रहीं थीं। हालांकि स्कोर 5-5 से बराबरी पर चल रहा था। लेकिन सु जियोंग ने अपनी सर्विस ज़ाया कर दी और फिर रुतुजा भोसले ने अंतिम गेम में शानदार प्रदर्शन करते हुए 7-5 से जीत हासिल की।

इसके साथ ही दूसरे सेट में रुतुजा भोसले और उनके शीर्ष रैंक वाली प्रतिद्वंद्वी ट्रेड ब्रेक में देरी हुई, लेकिन तीसरे गेम में भोसले ने 6-4 से नतीजा अपने पक्ष में किया और भारत को टाई की बढ़त की तरफ धकेल दिया।

अंकिता रैना मुकाबले में लड़खड़ाती नज़र आईं

हालांकि अंकिता रैना को दूसरे मैच में दक्षिण कोरिया की ना-ला हान के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। वहीं, पहले सेट में अंकिता रैना की सर्विस टूटने के बाद वह लगातार बैकफुट पर रहीं, लेकिन फिर भी वह दक्षिण कोरिया की शीर्ष रैंकिंग वाली महिला एकल खिलाड़ी के खिलाफ 4-6 से मुकाबला खत्म करने के लिए संघर्ष करती रहीं। वहीं, दूसरे सेट में भारतीय टेनिस खिलाड़ी एक अंक भी दर्ज करने में असफल रहीं और 0-6 से हार गईं।

फेड कप में भारत के लिए आगे क्या?

फेड कप में इस जीत के बाद भारत चीन के बाद दूसरे स्थान पर पहुंच गई है। अब भारतीय टीम का अगला मुकाबला शुक्रवार को चीनी ताइपे से होगा। यह मुक़ाबला भारत के लिए महत्वपूर्ण है, क्योंकि इस मुकाबले के बाद भारत अप्रैल के फेडरेशन कप प्लेऑफ के लिए अपनी जगह बनाने में सफल होगा।