भारत की गुरजीत कौर और सविता पूनिया ने अर्जेंटीना दौरे का किया स्वागत

लगभग एक साल से अधिक समय तक प्रतिस्पर्धी मुक़ाबले से दूर रहने के बाद भारतीय महिला हॉकी टीम की खिलाड़ी अर्जेंटीना दौरे पर खुद को लय में वापस लाना चाहते हैं।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

भारतीय महिला हॉकी (Indian Women’s Hockey) टीम की फ्लिकर स्पेशलिस्ट गुरजीत कौर (Gurjit Kaur) ने कहा कि अर्जेंटीना का दौरा इस साल टोक्यो ओलंपिक में जाने वाली टीम का एक अच्छा मौका साबित होगा

जनवरी 2020 से प्रतिस्पर्धी हॉकी से दूर रहने के बाद, भारतीय महिला टीम को आखिरकार अर्जेंटीना दौरे के साथ एक्शन में लौटने का मौका मिल गया है। इस दौरे पर टीम दक्षिण अमेरिका में रहते हुए 8 मैच खेलेगी।

टीम को 17 जनवरी से अर्जेंटीना जूनियर और बी टीमों के खिलाफ तैयारी मैच खेलना है, जबकि अंतिम चार मैच में मजबूत अर्जेंटीना की सीनियर महिला टीम के खिलाफ मैदान पर उतरना है।

गुरजीत ने हॉकी इंडिया वेबसाइट को बताया, "उनके घरेलू मैदान में अर्जेंटीना जैसी मजबूत टीम के खिलाफ खेलना आसान नहीं होगा, लेकिन हमारा ध्यान उनके खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।"

"ये लगभग एक साल बाद हमारा पहला प्रतिस्पर्धी मैच होगा और हम सीखने के लिए उत्सुक हैं जहां हम अर्जेंटीना जैसी शीर्ष टीम के खिलाफ फिटनेस और एक्जिक्यूशन जैसी चीजें सीखेंगे। अर्जेंटीना दुनिया की नंबर 2 टीम है।"

भारतीय टीम 3 जनवरी को भारत से अर्जेंटीना के लिए निकली थी और पहले ही अपने क्वारनटीन अवधि से गुजरने के बाद ब्यूनस आयर्स में ट्रेनिंग भी शुरू कर चुकी है।

“हमें यहां लगभग दस दिन हो गए हैं और मैदान पर खेलने के लिए कुछ सत्र मिले हैं। हमने पेनल्टी कॉर्नर कन्वर्जन और पेनल्टी कॉर्नर डिफेंडिंग जैसे क्षेत्रों पर ज्यादा ध्यान दिया है।”

डिफेंडर गुरजीत को लगता है कि आक्रामक हॉकी खेलने वाली अर्जेंटीना टीम के खिलाफ भारतीय बैकलाइन की भी कठिन परीक्षा होगी, जिसमें जूलियट जानकुनास (Julieta Jankunas) और गोरज़लेनी अगस्टिना (Gorzelany Agustina) जैसे दिग्गज गोल स्कोरर शामिल हैं।

गुरजीत के साथ अर्जेंटीना का सामना करने के लिए गोलकीपर और टीम की उप-कप्तान सविता पूनिया (Savita Punia) होंगी।

30 साल की सविता पूनिया एशियन गेम्स की रजत पदक विजेता भी आने वाले मैचों के लिए उत्सुक हैं।

सविता ने कहा, “हम अर्जेंटीना जूनियर महिला टीम के खिलाफ रविवार को अपने पहले मैच के लिए पूरी तरह से तैयार हैं। इस हफ्ते, हमें हॉकी के चार अच्छे सत्र मिलेंगे जहां हमारा ध्यान मैच के लिए तैयार होने पर होगा।”

लगभग एक साल तक टीम के किसी प्रतिस्पर्धी इवेटं में भाग न लेने के बावजूद सविता को भरोसा है कि फिटनेस के मामलों में टीम में कोई कमी नहीं है, क्योंकि टीम ने नेशनल कैंप के दौरान इन मुद्दों पर ध्यान दिया था।

उन्होंने कहा, “हालांकि COVID-19 के कारण हमने पिछले एक साल से कोई प्रतिस्पर्धा नहीं की है, लेकिन हमने मैच-फिटनेस हासिल कर ली है। हमने हाल के दिनों में अर्जेंटीना से कोई मैच नहीं खेला है लेकिन हमें अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद है।”