पूर्व भारतीय हॉकी कोच हरेंद्र सिंह अमेरिकी पुरुष टीम के मुख्य कोच बने

अमेरिका की पुरुष टीम रैंकिंग में 24वें नम्बर पर है। हरेंद्र सिंह का मानना है कि वो उन्हें कुछ शीर्ष टीमों को चुनौती देने के योग्य बनने में मदद कर सकते हैं।

लेखक दिनेश चंद शर्मा ·

भारतीय हॉकी टीम के पूर्व कोच हरेंद्र सिंह (Harendra Singh) को गुरुवार को अमेरिका की पुरुष राष्ट्रीय हॉकी टीम का मुख्य कोच नियुक्त किया गया है।

पूर्व भारतीय कोच इस मौके को पाकर उत्साहित हैं। वे दुनिया में 24वें स्थान पर काबिज अमेरिका की टीम को हॉकी में मजबूत बनाने में मदद करने के लिए खासे उत्सुक हैं।

अमेरिकी टीम की ओर से जारी एक बयान में हरेंद्र ने कहा, "अमेरिकी पुरुष राष्ट्रीय टीम की कोचिंग का रोमांचक मौका दिए जाने के लिए धन्यवाद।"

उन्होंने कहा, "मेरे उत्साह की कोई सीमा नहीं है। क्योंकि मैं खिलाड़ियों को उनकी ताकत और कमजोरियों को खोजने के लिए टूल्स प्रदान करने में अपने अनुभव के साथ इस यात्रा को शुरू करने के लिए उत्साहित हूं। व्यक्तिगत प्रशिक्षण कार्यक्रम विकसित करने से निश्चित रूप से टीम को मदद मिलेगी, जो दृढ़ संकल्प और कड़ी मेहनत के साथ विश्व हॉकी तालिकाओं को बदलने की ताकत रखती है।"

हरेंद्र सिंह पूर्व में भारत की पुरुष, महिला और जूनियर खिलाड़ियों को भी कर चुके हैं प्रशिक्षित।

हालांकि, वर्तमान में अमेरिका की पुरुष टीम रैंकिंग में बहुत ऊपर नहीं है, लेकिन हरेंद्र का मानना है कि वह निकट भविष्य में कुछ शीर्ष टीमों को चुनौती देने के योग्य बनने में मदद कर सकते हैं।

हरेंद्र ने कहा, "मैं एक पेशेवर सेटअप का हिस्सा बनने के लिए उत्सुक हूं। मैं अपने खिलाड़ियों को अच्छा प्रशिक्षण प्रदान करके USMNT के विकास में योगदान देने के लिए उत्साहित हूं।"

"मैं एक सक्रिय रिश्ते की प्रतीक्षा कर रहा हूं। क्योंकि, हम आने वाले सालों में सर्वश्रेष्ठ टीमों को चुनौती देने के लिए तैयार हैं।"

अनुभवी भारतीय ने 1995 में फ्रेंच क्लब एचसी लियोन की जूनियर टीम के साथ अपने कोचिंग करियर की शुरुआत की। यहीं उन्हें एहसास हुआ कि वो कोचिंग के लिए उपयुक्त हैं। इसके बाद उन्होंने भारतीय टीम को 2017 एशिया कप में स्वर्ण पदक जीतने के लिए प्रशिक्षित किया। इसके अलावा भुवनेश्वर में 2018 के पुरुष विश्व कप में पुरुषों की टीम को पांचवें स्थान हासिल करने में भी मदद की।

उनकी रणनीति भारतीय पुरुषों की टीम के लिए 2018 चैंपियंस ट्रॉफी में रजत और 2018 एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने में मददगार साबित हुई।

अमेरिकी फील्ड हॉकी के कार्यकारी निदेशक साइमन होसकिन्स (Simon Hoskins) का मानना है कि हरेंद्र का अनुभव देश में खेल को बढ़ावा देने में मदद करेगा।

होसकिन्स ने कहा, "हम हैरी को अमेरिकी फील्ड हॉकी में शामिल करके और हमारे खिलाड़ियों के कार्यक्रम का नेतृत्व करने के लिए रोमांचित हैं। अमेरिकी पुरुषों की राष्ट्रीय टीम ने कोरोना महामारी के कारण लगे लॉकडाउन से पहले काफी प्रगति दिखाई। अब योग्यता और अनुभवी कोच हैरी के साथ हम USMNT के भविष्य के लिए उत्साहित हैं