36वीं जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप: ऊंची कूद खिलाड़ी पावना नागराज ने अंडर-16 में बनाया राष्ट्रीय रिकॉर्ड

पावना वर्तमान ऊंची कूद राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक सहाना कुमारी और भारतीय एथलीट बीजी नागराज की है बेटी

लेखक भारत शर्मा ·

36वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप के उद्घाटन के दिन ऊंची कूद खिलाड़ी पावना नागराज बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए न केवल स्वर्ण पदक हासिल किया, बल्कि अंडर-16 का राष्ट्रीय रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिया।

नागराज वर्तमान में ऊंची कूद राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक सहाना कुमारी और भारतीय एथलीट बीजी नागराज की बेटी हैं। सहाना के नाम 1.92 मीटर की ऊंची कूद राष्ट्रीय रिकॉर्ड है और उनकी बेटी पारिवारिक विरासत को निभा रही है।कर्नाटक निवासी इस एथलीट ने शनिवार को ऊंची कूद स्पर्धा में शीर्ष पोडियम फिनिश के लिए पश्चिम बंगाल के मोहुर मुखर्जी को हराकर 1.73 मीटर की छलांग लगाई।

नागराज ने अपने पहले दो प्रयासों में मुखर्जी को पीछे छोड़ने के तीसरे और अंतिम प्रयास में रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने 1.69 मीटर और 1.71 मीटर ऊंची छलांग लगाई। पिछला U-16 राष्ट्रीय रिकॉर्ड कर्नाटक के काव्या मुथन्ना के नाम था, जिन्होंने साल 2003 में 1.69 मीटर की छलांग लगार स्थापित किया था।

36वीं राष्ट्रीय जूनियर एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 1637 लड़के और लड़कियों ने चार आयु समूहों में पांच दिवसीय चैंपियनशिप में 145 प्रतियोगिताओं में भाग लिया। इस प्रकार कोरोना महामारी के प्रकोप के बाद से यह देश में आयोजित सबसे बड़ा घरेलू टूर्नामेंट है।

हालांकि, नागराज शनिवार को राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ने वाली एकमात्र एथलीट नहीं थी।

उत्तराखंड की अंकिता धयानी ने महिलाओं की 5000 मीटर दौड़ में अंडर-20 का राष्ट्रीय रिकॉर्ड अपने नाम किया। 18 वर्षीय धयानी ने 16:21:19 समय के साथ शीर्ष पोडियम फिनिश किया। उन्होंने सुनीता रानी द्वारा 26 अगस्त, 1997 में इटली के कैटेनिया में स्टैडियो सिबाली में ग्रीष्मकालीन यूनिवर्सिडे में 16:21:59 समय के साथ बनाए गए राष्ट्रीय रिकॉर्ड को तोड़ने में सफलता हासिल किया।

धयानी ने 26 जनवरी को भोपाल में 5000 मीटर फेडरेशन कप जूनियर अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में 16:37:90 के समय के साथ जीत हासिल करने वाले रिकॉर्ड में भी सुधार किया है।