साल 2021 कई बड़े टूर्नामेंटों की मेजबानी के लिए तैयार है हॉकी इंडिया

47वीं FIH कांग्रेस होगा साल की सबसे बड़ा टूर्नामेंट 

लेखक भारत शर्मा ·

कोरोना वायरस महामारी के कारण भले ही साल 2020 में सभी तरह की गतिविधियां लगभग बंद रही थी, लेकिन साल 2021 के खेल गतिविधियों सहित अन्य क्षेत्रों के लिए बेहतर साबित होने की उम्मीद है। 

इसी बीच हॉकी इंडिया ने महिला हॉकी टीम के अर्जेंटीना दौरे के साथ नए साल का बेहतर आगाज करने की ओर कदम बढ़ा दिया है। इसके साथ ही वह पूरे साल में कई बड़े टूर्नामेंटों की मेजबानी करने के लिए भी तैयार है। 

इसमें राष्ट्रीय हॉकी महासंघ द्वारा मई में आयोजित की जीने वाली 47वीं अंतर्राष्ट्रीय हॉकी महासंघ (FIH) कांग्रेस सबसे प्रमुख इवेंट होगा। वैसे तो मूल रूप से इस इवेंट को 2020 के लिए निर्धारित किया गया था, लेकिन महामारी के कारण स्थगित करना पड़ा था।

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोंबम ने कहा, "हम प्रतिदिन काम करने के साथ आने वाले समय में होने वाले टूर्नामेंटों के लिए सामान्य स्थिति लाने के लिए सही रास्ते पर आकर खुश हैं। 47वीं FIH कांग्रेस 2021 के साथ हम उम्मीद कर रहे हैं कि सभी अन्य कारक मई में इसकी मेजबानी को सफल बनाने के लिए अनुकूल होंगे। दिशानिर्देशों के संदर्भ में और हॉकी इंडिया में इस तरह के बड़े पैमाने पर इवेंट के सफल आयोजन के लिए हमने 10वीं हॉकी इंडिया कांग्रेस और चुनावों का सफलतापूर्वक संचालन किया है। ऐसे में हम सभी स्थितियों से निपटने के लिए तैयार हैं।"

निंगोंबम ने आगे कहा, "हाल के वर्षों में, भारत ने विश्व स्तर पर सबसे बड़ी हॉकी प्रतियोगिताओं में से कुछ की मेजबानी की है और फरवरी 2020 में FIH के साथ हॉकी इंडिया को FIH जूनियर पुरुष विश्व कप 2021 के लिए मेजबानी का अधिकार मिला है। इसके अलावा भारत में हॉकी के लिए शीर्ष निकाय वर्ष के अंत में बहुप्रतीक्षित टूर्नामेंट की मेजबानी के लिए तत्पर है।"

उन्होंने आगे कहा, "हमारे पास 2016 में FIH जूनियर पुरुष विश्व कप की मेजबानी करने का एक अद्भुत समय था। उस समय भारत ने उत्तर प्रदेश के लखनऊ में खेले गए फाइनल में बेल्जियम को हराया था। यह हॉकी इंडिया के लिए यादगार टूर्नामेंट था। इसने हमें एक कदम आगे बढ़ने का अनुभव और आत्मविश्वास दिया जब हमने 2018 में ओडिशा के भुवनेश्वर में FIH पुरुष विश्व कप की मेजबानी की थी। इसलिए, इस साल का FIH जूनियर पुरुष विश्व कप फिर से हमारे लिए सबसे महत्वपूर्ण टूर्नामेंट में से एक है।"

भारतीय महिला हॉकी टीम

अध्यक्ष ने कहा, "FIH हॉकी प्रो लीग के साथ इस साल भी वापसी करने वाली है, भारत 29 और 30 मई 2021 को दो मैचों के लिए न्यूजीलैंड की मेजबानी करेगा, जिससे देश में अंतरराष्ट्रीय हॉकी की वापसी का मार्ग प्रशस्त होगा। हम खेल गतिविधियों को फिर से शुरू करने के मामले में दुनिया भर के सभी विकासों पर नजर रख रहे हैं।"

निंगोंबम ने कहा, "2021 के लिए हॉकी इंडिया की योजनाएं केवल ऑन-फील्ड ईवेंट तक सीमित नहीं हैं, बल्कि गवर्निंग बॉडी भी अपने बेहतरीन हॉकी इंडिया कोचिंग एजुकेशन पाथवे के लिए एक व्यापक योजना तैयार करने की प्रक्रिया में है। इससे कोचिंग की पहुंच और प्रभावशीलता को बढ़ाया जा सकेगा।"

उन्होंने आगे कहा, "हम निश्चित रूप से एक योजना तैयार करने की प्रक्रिया में हैं जो हमें हॉकी इंडिया कोचिंग एजुकेशन पाथवे का उपयोग करने में सक्षम बनाता है, और देश भर के अधिक युवा और संभावित कोच, अधिकारियों और यहां तक ​​कि खिलाड़ियों तक पहुंचने और उनकी मदद करने में सक्षम है।" 

उन्होंने कहा, "हम उम्मीद कर रहे हैं कि 2021 हमें निराश नहीं करेगा, और हमें सभी के लिए बहुत ही सुरक्षित वातावरण में कई बड़े टूर्नामेंटों की मेजबानी करने में सक्षम बनाएगा, विशेषकर हमारे खिलाड़ियों और प्रशंसकों के लिए।"