अफ़गानिस्तान के खिलाफ जीत के इरादे से मैदान पर उतरेगा भारत

इगोर स्टिमक की टीम को 2020 फीफा वर्ल्ड कप क्वालीफायर के अपने चौथे मुकाबले में जीत की सख्त ज़रूरत

लेखक जतिन ऋषि राज ·

भारतीय फुटबॉल टीम एक बार फिर मैदान में ज़ोर आज़माते हुए दिखेगी। 14 नवंबर 2019 को भारतीय फुटबॉल टीम दुशांबे, तजाकिस्तान के सेंट्रल रिपब्लिकन स्टेडियम में अफ़गानिस्तान के खिलाफ 2020 वर्ल्ड कप के अपने चौथे क्वालीफायर मैच में खेलते नज़र आएगी। हालांकि देखा जाए तो बेहतर रैंकिंग और टीम में कुछ बड़े नाम होने की वजह से भारतीय टीम अफ़गानिस्तान टीम से ज़्यादा मज़बूत नज़र आ रही है। ब्लू टाईगर्स कही जाने वाली भारतीय टीम इस मुकाबले को जीत कर भारतीय प्रशंसकों को तोहफा देना अनोश दस्तगीर द्वारा कोचिंग ले रही यह अफ़गानिस्तान टीम ग्रुप “ई” में तीसरे नंबर पर हैं और वह इस आंकड़े को बेहतर करने की पूरी कोशिश करेंगी।

नहीं होंगे झिंगान

कई सालों से भारत की ओर से सेंटर बैक पोज़िशन पर खेल रहे संदेश झिंगान ने भारत को अनोखे कारनामे करने में मदद की है और जिसके परिणाम भी अनोखे ही निकले हैं। क़तर में हुई एशियन चैंपियनशिप के दौरान झिंगान को भारत की ओर से खेल को काफी बार शुरू करते हुए भी देखा गया और उनके प्रदर्शन से इस भारतीय फुटबॉल टीम ने चैंपियनशिप में बेहद सफल परिणाम प्राप्त किए। हालांकि झिंगान महज़ 26 साल के हैं लेकिन अगर भारतीय खेमे की बात की जाए तो उन्हें एक अनुभवी खिलाड़ी माना जाएगा।

आपको बता दें घुटने की चोट के कारण यह भारतीय सितारा अफ़गानिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले मुकाबले में हिस्सा नहीं ले पाएगा और यह पूरी टीम के लिए एक चिंता का विषय है। बांग्लादेश के खिलाफ हुए मुकाबले में भी झिंगान की अनुपस्थिति भारतीय टीम को खली थी और प्रतिद्वंदियों के लिए बार-बार सुनहरे मौके बनते जा रहे थे।

पिछले मुकाबले की बात की जाए तो झिंगान की जगह अनस इदाथोडिका को मौक़ा दिया गया था। हालांकि इगोर स्टिमक, अगले मुकाबलों के लिए भारत की ओर से युवा नरेंदर गहलोट या फिर सार्थक गोलुई को परख सकतें हैं, जिनका प्रदर्शन इंडियन सुपर लीग में सराहनीय रहा था। पूरा भारत देश वर्ल्ड कप 2020 में क्वालिफाई करने की उम्मीदें लगाए बैठा है। ऐसे में यह देखना दिलचस्प होगा कि अफगानिस्तान के खिलाफ मुकाबले में भारतीय टीम की रणनीति क्या होती है।

स्ट्राइकरों से उम्मीदें

फिलहाल कुल 3 वर्ल्ड कप क्वालीफायर मुकाबलों में भारत ने कुल 2 गोल दागे हैं, जिनमें से एक सेंट्रल डिफेंडर आदिल खान द्वारा आया है। ज़ाहिर तौर पर भारत आने वाले मुकाबलों में इस आंकड़े को सुधारना ज़रूर चाहेगा। स्टिमक खेल की रणनीति के हिसाब से आशिक कुरुनियन, ब्रैंडन फर्नांडिस और मनवीर सिंह से उम्मीद लगा सकतें हैं और कप्तान सुनील छेत्री के ऊपर से दबाव हटा सकतें हैं ताकि वह अपने प्रदर्शन को और निखार कर सामने ला सकें। फर्नांडिस और मनवीर की बात की जाए तो इन दोनों ने आईएसएल के चलते नार्थ ईस्ट के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन कर सुर्खियां बटोरी थी।

वहीं अफ़गानिस्तान फुटबॉल टीम के खिलाफ अगर शुरूआती समय में गोल दाग दिया जाए तो यह टीम दबाव में आ जाती है और ऐसा ओमान और क़तर के खिलाफ हुए मुकाबलों में बाखूबी देखा जा चुका है। अगर भारतीय फॉरवर्ड खिलाड़ी विरोधी टीम कि इस कमी पर वार करतें हैं तो वह ग्रुप स्टेज के अपने पहले मुकाबले को जीतने में सफल हो सकते हैं।

फॉरवर्ड मनवीर सिंह ने इंडियन सुपर लीग में अपने क्लब गोवा के लिए एक शानदार लेट गोल मारा| फोटो पाठ्यक्रम: AIFF मीडिया  

प्रतिद्वंदी पर नज़रमौजूदा हालातों की बात की जाए तो अफ़गानिस्तान विश्व रैंकिंग में 149वें स्थान पर हैं। हालांकि प्रतियोगिता के शुरूआती दौर में बांग्लादेश के खिलाफ मिली जीत ने इस टीम का आत्मविश्वास ज़रूर बढ़ाया है और वह इसे भारत के खिलाफ लेकर मैदान में ज़रूर उतरना चाहेंगे। अफ़गानिस्तान ने इस प्रतियोगिता में कुल मिलाकर सिर्फ एक गोल स्कोर किया है और वह मिड फील्डर फ़ार्शा नूर द्वारा आया है। अफगानी कोच भारत के खिलाफ ज़रूर एक नई रणनीति के साथ उतरेंगे और जबर शर्ज़ा और खैबर अमानी जैसे खिलाड़ियों पर दांव लगाने की पूरी कोशश करेंगे।

भारत बनाम बांग्लादेश के मुकाबले में कोई परिणाम नहीं निकल पाया था और अफ़गानिस्तान टीम बेहतर रणनीति बनाकर इस बात का फायदा ज़रूर उठाना चाहेगी। खेल की बात की जाए तो अफ़गानिस्तान भारत के अटैक को रोकने की रणनीति बना सकता है ठीक वैसी ही जैसी बांग्लादेश ने बनाई थी। अब देखना यह होगा की इस दिलचस्प मुकाबले को दोनो ही टीमें कैसे देखती हैं और कैसे 2020 वर्ल्ड कप क्वालीफायर के कारवां को आगे बढ़ातीं है।

मुकाबला कहां देखें?

अफ़गानिस्तान बनाम भारत स्टार स्पोर्ट्स नेटवर्क और हॉटस्टार पर देखा जा सकता है। इस मुकाबले का सीधा प्रसारण 14 नवंबर शाम 7:30 बजे से शुरू हो जाएगा।