यशस्विनी को टोक्यो 2020 का बुलावा, रियो में गोल्ड के साथ जीता ओलंपिक कोटा 

मनु भाकर के बाद यशस्विनी देसवाल बनीं ओलंपिक कोटा जीतने वाली दूसरी महिला पिस्टल शूटर

लेखक जतिन ऋषि राज ·

रियो आईएसएसएफ वर्ल्ड कप जारी है और इसके दौरान हमें भारत की ओर कुछ उच्च कोटि का प्रदर्शन देखने को मिला। यशस्विनी सिंह देसवाल ने 10 मीटर एयर पिस्टल में सटीक निशाना लगाते हुए गोल्ड मेडल जीता। इस 22 वर्षीय युवा ने शानदार खेल दिखाया और कर दिया भारत का सिर ऊंचा। इतना ही नहीं, जीत के अलावा यशस्विनी सिंह ने जापान में होने वाले 2020 टोक्यो ओलंपिक गेम्स के लिए कोटा स्थान हासिल कर लिया है जिसकी वजह से वे टोक्यो 2020 ओलंपिक गेम्स का हिस्सा बन सकती हैं।

लिस्ट में सबसे ऊपर रहीं देसवाल

जोश और जज़्बे से भरपूर देसवाल ने शुरुआत से फोकस बनाए रखा और पहले ही राउंड में 99 अंक लेकर अपनी दावेदारी पेश की। इतना ही नहीं दूसरे राउंड में भी उम्दा प्रदर्शन दिखाते हुए उन्होंने 97 अंक लेकर अपने प्रतिद्वंदियों को एक बार फिर कड़ा जवाब दिया। शुरुआत से लेकर अंत तक देसवाल एक के बाद एक निशाने लगाती गईं और कुल 582 अंकों के साथ फाइनल में प्रवेश किया।

अब बारी थी आखिरी पड़ाव की और भारतीय निशानेबाज़ देसवाल ने इसे भी बखूबी पार किया। अपने पिछले मुकाबलों की फॉर्म को जारी रखते हुए देसवाल ने बेहद अच्छा प्रदर्शन करते हुए बोर्ड पर 236.7 अंक लगा दिए और गोल्ड मेडल अपने नाम कर लिया। इस मुकाबले में ख़ास केवल देसवाल की जीत नहीं है बल्कि उनकी तकनीक, सब्र और फोकस की भी परीक्षा अहम रही। गोल्ड मेडल के साथ देसवाल ने ओलंपिक कोटा भी जीता और इस वजह से टोक्यो 2020 में वे भारत की अगुवाई करती नज़र आ सकती हैं।

हालांकि 10 मीटर एयर पिस्टल में भाग लेती दूसरी महिला भारतीय निशानेबाज़ अन्नू सिंह को निराशा हाथ लगी और उन्होंने प्रतियोगिता 21वें स्थान पर अंत की। इस तरह से वो ओलंपिक गेम्स 2020 के लिए क्वालीफाई करने में असफल रहीं।

50 मीटर राइफल में हाथ लगी निराशा

जहां एक तरफ यशस्विनी देसवाल के सिर ताज सजा वहीं रियो आईएसएसएफ वर्ल्ड कप में 50 मीटर राइफल में बाकी खिलाड़ियों ने निराश किया। इस वर्ग में भारत की ओर से काजल सैनी ने सबसे अच्छा प्रदर्शन किया और वो 22वें स्थान पर रहीं लेकिन वे भी ओलंपिक कोटा जीतने में असफल रहीं। ग्रेट ब्रिटेन की सियोनैड मैकइंटोश ने गोल्ड मेडल पर निशाना साधते हुए ओलंपिक कोटा हासिल किया। 50 मीटर राइफल में किम जेही और पेई रुज्जिराओ ने प्रतियोगिता क्रमशः दूसरे और तीसरे स्थान पर अंत की और ओलंपिक कोटा भी जीता। टोक्यो 2020 अब महज़ कुछ महीने दूर है और यह देखना दिलचस्प होगा कि भारत समेत हर देश के खिलाड़ी किस रणनीति से मैदान में उतरते हैं। रह