एशियन शूटिंग चैंपियनशिप: भारत के सौरभ चौधरी ने जीता सिल्वर

17 वर्षीय इस युवा निशानेबाज़ ने पहले ही टोक्यो 2020 के लिए ओलंपिक कोटा हासिल कर लिया था। अब एशियन शूटिंग चैंपियनशिप में उन्होंने सिल्वर मेडल अपने नाम किया।

लेखक रितेश जायसवाल ·

दोहा के कतर में चल रही 14वीं एशियन शूटिंग चैंपियनशिप के मेंस 10 मीटर एयर पिस्टल वर्ग में भारतीय युवा निशानेबाज़ सौरभ चौधरी ने अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए सिल्वर मेडल पर अपना कब्ज़ा कर लिया है। वहीं, देश के अन्य पिस्टल शूटर अभिषेक वर्मा फाइनल में 181.5 के स्कोर के साथ पांचवें स्थान पर रहे।

क्वालिफिकेशन राउंड में चौधरी और वर्मा

चौधरी ने पहले क्वालीफिकेशन राउंड में 97 का स्कोर बनाया और उसके बाद दूसरे में परफेक्ट स्कोर हासिल करते हुए फाइनल में खुद की जगह पक्की कर ली। इसके बाद 17 वर्षीय ने अपने अच्छे प्रदर्शन को जारी रखते हुए तीसरे राउंड में 98 स्कोर किया। बाद के राउंड में चौधरी का प्रदर्शन थोड़ा सा कमज़ोर नज़र आया क्योंकि उन्होंने अंतिम तीन राउंड में लगातार 96 का स्कोर हासिल किया। हालांकि आखिरी राउंड में अंकों की मामूली गिरावट से उन्हें फाइनल में पहुंचने में कोई समस्या नहीं हुई। क्वालिफिकेशन राउंड में वह सभी राउंड के कुल 583 के स्कोर के साथ सातवें स्थान पर रहे।

क्वालिफिकेशन राउंड में वर्मा का प्रदर्शन भी काफी शानदार रहा। उन्होंने अपने पहले राउंड की शुरुआत 98 के स्कोर के साथ की। इसके बाद के राउंड में भी उन्होंने 96, 98, 95, 97 के स्कोर के साथ अपनी निरंतरता बनाए रखी। 30 वर्षीय इस निशानेबाज़ ने छठे क्वालिफिकेशन राउंड में 99 का स्कोर हासिल करते हुए 583 के कुल स्कोर के साथ एशियन चैंपियनशिप के अपने आगे का सफर पक्का कर लिया।  

भारत के तीसरे पिस्टल शूटर कुमार सरवन क्वालिफिकेशन राउंड से आगे नहीं बढ़ सके। वह 574 के कुल स्कोर के साथ 28वें स्थान पर रहे।

करीबी रहा फाइनल मुकाबला

फाइनल में चौधरी अपने प्रदर्शन को और बेहतर करते हुए दिखाई दिए। हालांकि वर्मा कुछ ख़ास नहीं कर सके और उन्हें 5वें स्थान के साथ ही संतोष करना पड़ा। वह 181.5 के स्कोर के साथ प्रतियोगिता से बाहर हो गए।

हालांकि, एशियाई खेलों के गोल्ड मेडल विजेता ने अपना कारवां जारी रखते हुए फाइनल में अंत तक उत्तर कोरिया के किमा सॉन्ग गुक को चुनौती दी। आख़िर में सॉन्ग गुक ने 246.5 के स्कोर के साथ जीत दर्ज की, जबकि चौधरी ने फाइनल में 244.5 के स्कोर के साथ सिल्वर मेडल हासिल किया। ईरान के फोरुघी जवाद ने 221.8 के स्कोर के साथ ब्रॉन्ज़ मेडल जीता।