कोरिया मास्टर्स में ख़त्म हुआ भारतीय खिलाड़ियों का सफर

श्रीकांत किदांबी और समीर वर्मा दोनों को टूर्नामेंट के दूसरे राउंड में हार का सामना करना पड़ा।

लेखक अरसलान अहमर ·

भारत का 2019 ग्वांगजू कोरिया मास्टर्स सुपर 300 का सफर गुरुवार को उस समय समाप्त हो गया जब श्रीकांत किदांबी और समीर वर्मा दोनों को अपने-अपने मुकाबलों में हार का सामना करना पड़ा। दोनों ही भारतीय खिलाड़ियों को दो सीधे गेमों में शिकस्त मिली और वह टूर्नामेंट से बाहर हो गए। अब इन भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ियों की नज़रें अगले सप्ताह होने वाले सय्यद मोदी इंटरनेशनल बैडमिंटन चैंपियनशिप पर होगीं जहां वह अपनी सरज़मीं पर ज़ोर-आज़माइश करते हुए दिखाई दे

श्रीकांत से हुई चूक

26 वर्षीय श्रीकांत किदांबी ने कोरिया मास्टर्स का आगाज़ जीत के साथ किया था जहां पहले राउंड में उन्होंने हांग कांग के शटलर वांग विंग की विन्सेंट को 21-18, 21-17 को दो सीधे गेमों में मात दी थी। टूर्नामेंट के दूसरे राउंड में भी भारतीय शटलर से कुछ ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद की जा रही थी जहां उनका सामना जापान के कांता सुनेयामा से होना था।

पहले गेम में 5-1 की बढ़त हासिल करके किदांबी ने शुरुआत भी कुछ ऐसे ही अंदाज़ में की। हालांकि, इसके बाद भारतीय शटलर गेम में अपनी पकड़ बनाने में नाकामयाब रहा और पहले गेम के अंतराल के समय तक सुनेयामा 1 अंक की बढ़त बनाकर गेम में वापसी कर चुके थे।

इसके बाद, जापानी शटलर ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और देखते ही देखते उन्होंने लगातार 6 अंक हासिल कर लिए। यहां से किदांबी के लिए गेम में वापसी करना संभव नहीं हो पाया और वह पहला गेम 14-21 से हार गए।

दूसरे गेम की शुरुआत में दोनों ही खिलाड़ी एक-दूसरे को कड़ी टक्कर देते हुए दिखाई दिए। इंटरवल तक गेम का स्कोर 11-9 से जापानी शटलर के हक़ में रहा। इसके बाद पहले गेम की तरह ही दूसरे गेम में भी सुनेयामा ने आक्रामक खेल का मुज़ाहिरा पेश करते हुए किदांबी पर दबाव बनाना शुरू किया। एक समय मुकाबला काफी बराबरी पर चल रहा था, उस समय सुनेयामा 18-17 से आगे थे। लेकिन यहां से जापानी शटलर ने खेल का रुख़ अपनी ओर मोड़ा और गेम को 21-19 से अपने नाम करते हुए मुकाबले को अपने नाम किया। इस तरह से किदांबी को इस मैच में दो सीधे गेमों में 14-21, 19-21 से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही किदांबी का कोरिया मास्टर्स का सफर यहीं समाप्त हो गया।

कांता सुनेयामा से दो सीधे गेमों में हारकर कोरिया मास्टर्स से बाहर हुए श्रीकांत किदांबी।

एक के बाद दूसरा झटका 

श्रीकांत किदांबी की हार के साथ ही भारतीय खेमे को एक और निराशा हाथ लगी जब समीर वर्मा को दक्षिण कोरिया के किम डोंगुन ने दो सीधे गेमों में शिकस्त देते हुए टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखाया। वर्मा को डोंगुन के हाथों 19-21, 12-21 से हार झेलनी पड़ी। किदांबी की ही तरह वर्मा भी अपने पहले गेम में 9-6 से आगे चल रहे थे लेकिन कोरियाई शटलर के बेहतरीन खेल ने उन्हें गेम में न सिर्फ वापसी कराई बल्कि वह इसको 21-19 से जीतने में भी सफल हुए।

दूसरे गेम की शुरुआत में दोनों ही शटलर एक-दूसरे को कड़ी टक्कर देते हुए दिखे। इसका नतीजा यह रहा कि इंटरवल तक इस बात का अंदाज़ा लगाना मुश्किल हो रहा था कि इस गेम का नतीजा किसके हक़ में जाएगा। दूसरे गेम के अंतराल के बाद डोंगुन ने आक्रामक रुख़ अपनाया और इस गेम को 21-19 ने अपने नाम किया। इस जीत के साथ उन्होंने क्वार्टर फाइनल में अपनी जगह सुनिश्चित कर ली। अब अगले राउंड में किम डोंगुन का मुकाबला कांता सुनेयामा से होगा।