ओलंपिक में क्वालिफाई करना आसान, गोल्ड मेडल जीतना कठिन: लवलीना बोरगोहेन

लवलीना बोरगोहेन ने चीनी ताइपे की शीर्ष वरीयता प्राप्त चेन-निएन चिन के खिलाफ अपने संभावित स्वर्ण पदक मुकाबले की उम्मीद जताई।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

22 वर्षीय लवलीना बोरगोहेन (Lovlina Borgohain) भारत की एक उभरती हुई सितारे के रूप में जॉर्डन के अम्मान में चल रहे एशियाई ओलंपिक मुक्केबाज़ी क्वालिफ़ायर्स (Asian Olympic boxing qualifiers) के लिए पहुंचीं। इससे पहले इस खिलाड़ी ने साल 2018 में नई दिल्ली और साल 2019 में रूस में आयोजित विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था।

अब तक इस खिलाड़ी ने सभी की उम्मीदों को पूरा किया है। लवलीना ने पहली ही कोशिश में ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया है। इस बॉक्सर ने क्वालिफ़ायर्स में महिला के वेल्टरवेट (64-69 किलोग्राम) वर्ग में उज्बेकिस्तान के मफ्तुनाखोन मेलिएवा (Maftunakhon Melieva) के खिलाफ सर्वसम्मति निर्णय से जीत हासिल की।

वहीं इस खिलाड़ी ने ओलंपिक चैनल से बातचीत में कहा, “यह आसान था, मेरा मुख्य सपना टोक्यो में गोल्ड जीतना है। ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करना आसान होता है लेकिन गोल्ड मेडल जीतना बहुत मुश्किल है।”

Lovlina Borgohain celebrates her Olympic achievement

Indian welterweight boxer Lovlina Borgohain is already planning ahead after...

दूसरी वरीयता प्राप्त भारतीय वेल्टरवेट ने मेलिएवा के जैब से बचने के लिए अपनी लंबाई का पूरा फायदा उठाया, हालांकि उज्बेकिस्तान की बॉक्सर समय के साथ और कड़ी टक्कर दे रही थीं लेकिन लवलीना ने अपने विरोधी को कोई मौका नहीं दिया।

लवलीना ने कहा, “मैं उसके खिलाफ थोड़ी सतर्क होकर खेल रही थी, उसकी लंबाई कम थी इसलिए अंत में मुझे जीतने में ज्यादा मुश्किल नहीं हुई।”

लवलीना बोरगोहेन के लिए यहां से रास्ता और कठिन हो जाता है क्योंकि सेमीफाइनल में उनका सामना चीन की तीसरी वरीयता प्राप्त हांग गु (Hong Gu) से होगा। लवलीना ने अपना ख़िताबी मुकाबला चीनी ताइपे के शीर्ष वरीयता प्राप्त चेन-निएन चिन (Chen-Nien Chin) के खिलाफ सेट किया है, जो  सेमीफाइनल में जगह बना चुकी हैं।

लवलीना ने कहा, “मैं मुकाबला उस बॉक्सर से है, जो एशिया से है और चीनी ताइपे का प्रतिनिधित्व करती हैं उनका नाम है चेन निएन चिन। अब मैं उनके खिलाफ ही रिंग में मुकाबला करूंगी। मैं इस बाउट का इंतज़ार कर रही हूं।”

लवलीना बोरगोहेन अपने ओलंपिक मकसद के करीब

भारतीय वेल्टरवेट लवलीना बोरगोहेन से बड़े कारनामों की उम्मीद है। फिलहाल असम ...

कब और कहां देख सकते हैं एशियन बॉक्सिंग ओलंपिक क्वालिफ़ायर्स

आप एशिया/ओशिनिया में हर मुकाबले का लाइव प्रसारण ओलंपिक चैनल पर देख सकते हैं। इसके अलावा आप फेसबुक पेज भी इसका लुत्फ उठा सकते हैं। शाम का सत्र भारतीय समयानुसार 8.30 से शुरू होगा। इसके अलावा आप ओलंपिक चैनल पर हिंदी और इंग्लिश में लाइव ब्लॉग पर भी पूरी जानकारी ले सकते हैं।