हॉकी

एशियन चैंपियंस ट्रॉफ़ी के स्थगित होने से अब 2021 तक करना होगा भारतीय हॉकी टीम को इंतज़ार 

भारतीय मेंस हॉकी टीम का सामना टोक्यो 2020 होस्ट जापान से एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के दौरान होगा। 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के स्थगित हो जाने के कारण अब भारतीय हॉकी टीम इस साल किसी बड़ी प्रतियोगिता का हिस्सा नही होगी।

एशियन चैंपियंस ट्रॉफी (Asian Champions Trophy) इसी साल नवंबर में आयोजित होनी थी लेकिन एशियन हॉकी फेडरेशन ने कोरोना वायरस (COVID-19) महामारी के कारण इसे अगले साल 11 से 19 मार्च तक के लिए स्थगित कर दिया है।

साल 2011 में इस एशियन कॉन्टिनेंटल प्रतियोगिता की शुरुआत हुई थी भारतीय मेंस हॉकी टीम ने इसे साल 2011, 2016, 2018 में अपने नाम किया था और 2012 में वह रनर अप भी रहे थे।

अगले साल होने वाली एशियन चैंपियंस ट्रॉफी को 15 महीनों में सबसे बड़ी प्रतियोगिता माना जा रहा है और भारतीय हॉकी के लिए ये पहला इंटरनेशनल टूर्नामेंट भी होगा। कोच ग्राहम रीड (Graham Reid) लम्बी छुट्टी के बाद वापस आ रहे हैं और उनकी नज़रें टोक्यो 2020 की होस्ट जापान के खिलाफ रणनीति बनाने पर होगी।

भारतीय मेंस हॉकी ने एशियन चैंपियंस ट्रॉफी को तीन बार अपने नाम किया है।

जापान भी भारतीय टीम के साथ पूल ए में नज़र आएगा। इसी खेमे में अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, स्पेन और न्यूज़ीलैंड जैसी बड़ी टीमें भी मौजूद हैं।

ग़ौरतलब है कि बांग्लादेश एशियन चैंपियंस ट्रॉफी की मेज़बानी करेगा और सभी टीमें इस प्रतियोगिता में बढ़कर चढ़कर हिस्सा लेंगी और अपने ओलंपिक गेम्स के कारवां के लिए तैयारी भी करेंगी। यह प्रतियोगिता राउंड रोबिन फ़ॉर्मेट में खेली जाएगी। इसके मुकाबले बांग्लादेश की राजधानी ढाका के मौलाना भाषानी नेशनल हॉकी स्टेडियम में खेले जाएंगरोड टू टोक्यऐसे में भारतीय हॉकी टीम इस साल केवल मलेशिया जा कर हॉकी खेल सकती है, लेकिन वह श्रृंखला भी मंज़ूरी के तहत ही खेली जाएगी।

भारतीय मेंस हॉकी अपने सीज़न की शुरुआत न्यूज़ीलैंड जा कर करेगी। यह सीरीज़ फरवरी 2021 में खेली जाएगी और इसके बाद टीम इंडिया एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के लिए बांग्लादेश का रुख करेगी। इतना ही नहीं भारतीय टीम इसके बाद FIH प्रो लीग के लिए अपनी कमर कसती हुई नज़र आएगी।

FIH प्रो लीग में भारतीय टीम लीग फेज़ में अर्जेंटीना, ग्रेट ब्रिटन, स्पेन और जर्मनी का सामना करेगी और इसके बाद भारतीय हॉकी टीम न्यूज़ीलैंड की मेज़बानी करेगी।