आईएएएफ वर्ल्ड चैंपियनशिप: मिक्स्ड रिले टीम ने बेस्ट टाइमिंग को छुआ 

भारतीय टीम रही 7वें स्थान पर, यूएस के हाथ आया गोल्ड

लेखक जतिन ऋषि राज ·

दोहा, क़तर की सरज़मीं पर पहली बार हुए आईएएएफ वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप का आयोजन किया गया और भारतीय 4x400 मिक्स्ड रिले टीम ने फाइनल में प्रवेश किया। भारत की ओर से मोहम्मद अनस, वीके विस्माया, जिसना मैथ्यू और नोहा निर्मल टॉम ने मिक्स्ड टीम का हिस्सा बनते हुए 3:15.77 की टाइमिंग से अपनी आख़िरी दौड़ ख़त्म की और इस वजह से वह 7वें स्थान पर रहें।

रविवार को 4x400m मिश्रित रिले से एक झलक

अमरीकी धावक रहे “ऑन ट्रैक”

अमरीकी धावकों ने मानों ट्रैक पर हमला सा बोला। रिकॉर्ड टाइमिंग बनाकर यूएस के धावकों के सिर सजा गोल्ड मेडल और पूरे जग में खिलाड़ियों ने वाह वाही लूटी।विल्बर्ट लंदन, फेलिक्स, कर्टनी ओकोलो और माइकल चेरी जैसे धावकों ने आईएएएफ वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2019 में 3:09.34 की बेहतरीन टाइमिंग के चलते जीत हासिल को इस जीत से फेलिक्स के नाम वर्ल्ड चैंपियनशिप का 12वां गोल्ड मेडल लग गया है जो कि किसी भी अन्य खिलाड़ी के मुकाबले सबसे बड़े आंकडें हैं।

भारतीय खिलाड़ियों के अगले मुकाबले

आने वाला सोमवार भारतीय खिलाड़ियों के लिए एक से बढ़ कर एक मौके लाएगा। जेवलिन थ्रो में नेशनल रिकॉर्ड धारक अनु रानी का मुकाबला (19:00 IST) होगा। अनु को ग्रुप ए के खिलाड़ियों से भिड़ना होगा जो कि बेहद रोमांचक और कठिन साबित हो सकता है। इस ग्रुप में क्रोशिया की सारा कोलक, यूरोपियन चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीतने वाली निकोला ओग्रोडनिकोवा और ऑस्ट्रेलिया की केल्सी ली बार्बर के नाम शामिल हैं। केलसी ने हाल ही में 67.70 मीटर की उम्दा थ्रो कर सबकी नज़रें अपने ऊपर टिका ली हैं।

इसके अलावा भारतीय 200 मीटर वर्ग में अर्चना सुसींद्रन ग्रेट ब्रिटेन की जॉडी विलियम्स, स्विट्जरलैंड की मुजिंगा कांबुंडजी और बुल्गारिया की इवेट लालोवा-कोलियो के साथ भिड़ती नज़र आएगी।