टोक्यो 2020 में हॉकी टूर्नामेंट के लिए पूल की हुई घोषणा

भारतीय पुरुषों के साथ ही साथ महिलाओं की हॉकी टीम, क्रमशः ओलंपिक चैंपियन अर्जेंटीना और ग्रेट ब्रिटेन को भी पूल ए में शामिल किया गया है।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

हॉकी की प्रशासनिक संस्था अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ (FIH) ने शनिवार को ओलंपिक पूल की घोषणा कर दी। टोक्यो 2020 में भारतीय पुरुष और महिला हॉकी टीम को मौजूदा चैंपियन अर्जेंटीना और ग्रेट ब्रिटेन के साथ ही साथ दुनिया की नंबर एक टीम ऑस्ट्रेलिया के साथ पूल ए में रखा गया है। इसके अलावा मेजबान जापान, स्पेन और न्यूज़ीलैंड भी इसी पूल में शामिल हैं।

एफआईएच ने कार्यक्रम जारी करते हुए कहा, “पूल तय करने के लिए 2016 रियो ओलंपिक वाली प्रक्रिया अपनाई गई। जिसमें शीर्ष की 16 टीमें शामिल हैं।” पूल बी में बेल्जियम, नीदरलैंड्स, जर्मनी, ग्रेट ब्रिटेन, कनाडा और दक्षिण अफ्रीका को जगह मिली है। आपको बता दें, भारत इस समय विश्व हॉकी रैंकिंग में पांचवें स्थान पर काबिज़ है। भारत ने इसी महीने भुवनेश्वर में रूस को 11-3 के एग्रीगेट से हराकर ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई किया था।

भारतीय महिला टीम को पूल ए में ओलंपिक चैंपियन ग्रेट ब्रिटेन और दुनिया की नंबर एक टीम नीदरलैंड के साथ शामिल किया गया है।तस्वीर साभार: हॉकी इंडिया

भारतीय महिला टीम इस समय नौवें स्थान पर हैं। भारत ने संयुक्त राज्य अमेरिका को 6-5 से हराकर ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था। पूल ए में भारत के साथ मौजूदा चैंपियन ग्रेट ब्रिटेन और दुनिया की नंबर एक टीम नीदरलैंड शामिल है। इसके अलावा पूल ए में जर्मनी, आयरलैंड और दक्षिण अफ्रीका को रखा गया है। वहीं पूल बी में ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, न्यूजीलैंड, स्पेन, चीन और मेजबान जापान शामिल हैं।

ओई हॉकी स्टेडियम में 25 जुलाई से खेले जाएंगे मैच

ओलंपिक हॉकी के मुकाबले 25 जुलाई से 7 अगस्त के बीच टोक्यो के ओई स्टेडियम में खेले जाएंगे। मैचों के समय की घोषणा बाद में की जाएगी। प्रत्येक पूल से शीर्ष दो टीमें सेमीफाइनल में खेलेंगी और विजेता टीमें गोल्ड मेडल मैच के लिए आगे बढ़ेंगी।

ओलंपिक हॉकी टूर्नामेंट के पूल

पुरुष

पूल ए: ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, भारत, स्पेन, न्यूजीलैंड, जापान

पूल बी: बेल्जियम, नीदरलैंड, जर्मनी, ग्रेट ब्रिटेन, कनाडा, दक्षिण अफ्रीका

महिला

पूल ए: नीदरलैंड, जर्मनी, ग्रेट ब्रिटेन, आयरलैंड, भारत, दक्षिण अफ्रीका

पूल बी: ऑस्ट्रेलिया, अर्जेंटीना, न्यूजीलैंड, स्पेन, चीन, जापान