भारतीय शूटर्स का एशियन शूटिंग चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन जारी

राणा, चीमा ने 50 मीटर पिस्टल इवेंट में मेडल जीता जबकि स्कीट युगल बाजवा और शेखों मिश्रित टीम इवेंट में दूसरे स्थान पर रहे।

लेखक रितेश जायसवाल ·

दोहा में चल रही 14वीं एशियन शूटिंग चैंपियनशिप में भारत का शानदार प्रदर्शन जारी रखते हुए निशानेबाज़ गौरव राणा, अर्जुन सिंह चीमा, अंगद वीर सिंह बाजवा और गनीमत शेखों ने मेडल जीते। इससे पहले मनु भाकर, सौरभ चौधरी, तेजस्विनी सावंत, ऐश्वर्य सिंह तोमर और दीपक कुमार इस चैंपियनशिप में मेडल जीतकर भारत की झोली में डाल चुके हैं।

दोहरी खुशी

पुरुषों की 50 मीटर पिस्टल में राणा ने रजत पदक जीता, जबकि चीमा ने कांस्य पदक पर अपना कब्ज़ा जमाया। दोनों निशानेबाज़ फाइनल राउंड में शीर्ष पर पहुंचने में कामयाब रहे और अंतिम राउंड तक शीर्ष पर चल रहे डेहुन पार्क के बेहद करीब बने रहे। 

कोरियाई निशानेबाज़ ने अंतिम राउंड में 96 अंक स्कोर करते हुए गोल्ड मेडल हासिल करने में कामयाब रहे, जबकि राणा और चीमा को क्रमशः 93 और 91 अंकों के स्कोर के साथ दूसरे और तीसरे स्थान के साथ संतोष करना पड़ा। इस इवेंट में भारत के तीसरे निशानेबाज़ मोनू तोमर 531 के कुल स्कोर के साथ 23वें स्थान पर रहे।

स्कीट युगल में मिला सिल्वर

बाजवा और शेखों की भारतीय स्कीट टीम शीर्ष पुरस्कार हासिल करने से चूक गई और उसे मिश्रित टीम स्पर्धा में सिल्वर मेडल के साथ संतोष करना पड़ा।

दोनों ने क्वालिफिकेशन राउंड में 73 अंक स्कोर किए और टॉप सीड के रूप में फाइनल राउंड में अपनी जगह पक्की की। गोल्ड मेडल में पहुंचने के लिए भारतीय जोड़ी के साथ शामिल चीन के मेंग वेई और जी डिन ने क्रमशः 73 और 72 अंक स्कोर किए।

फाइनल मेडल राउंड में चीनी टीम ने 36 अंक स्कोर करते हुए गोल्ड पर अपना दावा पक्का कर लिया, जबकि भारतीय जोड़ी महज़ 33 अंक ही हासिल कर सकी और उसे सिल्वर मेडल से संतोष करना पड़ा।