साउथ एशियन गेम्स के ट्रैक एंड फील्ड का शानदार तरीके से किया अंत 

साउथ एशियन गेम्स की मेडल तालिका में भारत सबसे अव्वल 

लेखक जतिन ऋषि राज ·

नेपाल की राजधानी काठमांडू में चल रहे साउथ एशियन गेम्स 2019 भारत और भारतीय खिलाड़ियों के लिए लगातार सुनहरे पल बुनता आ रहा है। शनिवार यानि 7वें दिन के खेल ने भी भारत को सम्मान दिलाने में कोई कमी नहीं छोड़ी। भारतीय ट्रैक एंड फील्ड के खिलाड़ियों ने शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए पोडियम पर अपने स्थान को पुख्ता किया और देश भर के खेल प्रेमियों को खुशियां मनाने के और भी अवसर दिए।

साउथ एशियन गेम्स के दौरान मैराथन दौड़ में भी भारत रशपाल सिंह और शेर सिंह ने कड़ी मशक्कत करते हुए सिल्वर औब्रॉन्ज़मेडल अपने नाम किए। इस खेल में स्थानीय खिलाड़ किरण बोगाती अव्वल रहे और गोल्ड मेडल पर शिकंजा कसा।

जहां बोगाती ने दौड़ 2 घंटे, 21 मिनट और 17 सेकंड में ख़त्म की वहीं रशपाल ने 2 घंटे, 21 मिनट और 57 सेकंड में ख़त्म कर सिल्वर मेडल अपने नाम किया। इस रेस का फैसला चंद सेकंड्स में आया और इसलिए खेल की दुनिया को सबसे रोमांचक दुनिया कहा जाता है।साउथ एशियन गेम्स 2019 में पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं का भी योगदान सरहानीय रहा। महिला वर्ग में भारत की ज्योति गवाटे जो कि 2018 की मुंबई मैराथन विजेता हैं उन्होंने ब्रॉन्ज़ मेडल जीता। गवाटे ने रेस 2 घंटे, 52 मिनट और 44 सेकंड में ख़त्म की और श्रीलंका की हुरीना विज्यरत्ने ने रेस को 2 घंटे, 41 मिनट और 24 सेकंड में ख़त्म कर गोल्ड मेडल हासिल किया।

 ओलंपिक गेम्स के कोटे से चूके शिवपाल 

भारत के शिवपाल 2020 ओलंपिक गेम्स का कोटा हासिल करने से चूक गए। जहां ओलंपिक गेम्स में क्वालिफाई करने के लिए शिवपाल को 85 मीटर दूर थ्रो फेंक कर कोटा हासिल करना था, वहां उनका स्कोर रहा 84.43 मीटर। हालांकि साउथ एशियन गेम्स के जेवलिन थ्रो इवेंट में शिवपाल के हाथ सिल्वर मेडल आया और इससे उनके मनोबल को मज़बूती ज़रूर मिली। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान के अरशद नदीम ने उम्दा प्रदर्शन कर गोल्ड मेडल जीता और साथ ही उनके हाथ टोक्यो 2020 का कोटा भी आया।

महिला वर्ग की बात की जाए तो भारत की शर्मिला ने 53.64 मीटर दूर थ्रो कर ब्रॉन्ज़मेडल जीता और श्रीलंका की नदीशा दिल्हन ने शानदार 55.02 मीटर की थ्रो कर गोल्ड मेडल पर कब्ज़ा जमाया। अभी तक साउथ एशियन गेम्स 2019 भारतीय खिलाड़ियों के काफी अच्छा रहा है और उनसे और शानदार प्रदर्शन की उम्मीद भी की जा सकती है।

अफसल, लिली ने बटरी सुर्खियां 

ट्रैक एंड फील्ड के आखिरी पड़ाव पर भी भारतीय खिलाड़ियों ने ज़बरदस्त प्रदर्शन किया और अपने देश को गौरवान्वित करने में कोई कसर नहीं छोड़ी। 800 मीटर वर में भारत के मोहम्मद अफसल ने 1:51.25 की टाइमिंग द्वारा ब्रॉन्ज़ मेडल जीता। इसी वर्ग में श्रीलंका के इन्दुनिल मधुशा ने 1:50.52 की बेहतरीन टाइमिंग से गोल्ड मेडल जीता और नेपाल के सोम बहादुर कुमल भी पोडियम का हिस्सा बनें।

महिला वर्ग में श्रीलंका की दिल्शी महीषा ने 2:06.18 की टाइमिंग द्वारा गोल्ड पर कब्ज़ा किया और उन्ही की हमवतन थू गुनाथिलाका ने 2:08.52 जैसी अच्छी टाइमिंग पर रेस ख़त्म कर अपने मुल्क को एक सिल्वर मेडल और जितवाया। इस लिस्ट में भी एक भारतीय खिलाड़ी शामिल रहीं और वह हैं लिली दास। दास ने 2:08.97 की टाइमिंग से ब्रोंज मेडल जीता और अपने भविष्य का भी प्रमाण दिया। 

4x400 मीटर रिले में भी भारत के हाथ मेडल आया। दोनों ही मेंस और वूमेंस टीमों ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया और सिल्वर मेडल आने नाम किया। के जीवन, संतोष कुमार, अंग्रेज सिंह और एम पी जबीर की टीम ने 3:08.21 की टाइमिंग से पोडियम के दूसरे स्थान पर रहे। वहीं दूसरी तरफ वूमेंस टीम ने भी 3:41.08 की टाइमिंग द्वारा सिल्वर मेडल जीता।