प्रशिक्षण शिविर के लिए चेन्नई पहुंची भारतीय टीटी टीम

भारतीय पुरुषों की टीटी टीम अगले महीने पुर्तगाल में होने वाले वर्ल्ड ओलंपिक क्वालिफिकेशन इवेंट की तैयारी के लिए चेन्नई पहुंच गई है।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

पुर्तगाल के गोंडोमार में 22 से 26 जनवरी तक होने वाले वर्ल्ड ओलंपिक क्वालिफिकेशन पर अपनी नज़र जमाए हुए भारतीय पुरुष टेबल टेनिस टीम चेन्नई के जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में एक प्रशिक्षण शिविर में तैयारी करने में व्यस्त है।

एक ओर जहां अचंता शरत कमल, मानव ठक्कर, और देश की सर्वोच्च रैंक वाली महिला पैडलर मनिका बत्रा पहले ही चेन्नई में इकट्ठा हो चुके हैं। वहीं 2018 कॉमनवेल्थ गेम्स चैंपियन साथियान गनासेकरन, हरमीत देसाई और एंथनी अमलराज के भी जल्द ही शिविर में शामिल होने की उम्मीद है।

टीम क्वालिफिकेशन में बेहतर करने के लिए उत्सुक

देश के शीर्ष रैंक के पुरुष पैडलर साथियान ने भी 2020 ओलंपिक में एकल प्रतियोगिता के लिए क्वालिफाई किया है, लेकिन वह 22 दिसंबर से कोरिया में प्रशिक्षण ले रहे हैं। ऐसे में राष्ट्रीय टीम के साथ उनके 30 दिसंबर को शामिल होने की उम्मीद है।

कुछ हफ्ते पहले ओलंपिक चैनल से बात करते हुए, भारतीय पैडलर ने कहा कि “नए साल में हमारा मुख्य उद्देश्य यह सुनिश्चित करना होगा कि पुरुषों की टीम ओलंपिक कट करने में कामयाब रहे"।

उन्होंने कहा, “मैंने एकल के लिए क्वालिफाई कर लिया है। लेकिन हम टीम क्वालिफिकेशन स्पर्धा में भी जगह बनाना चाहते हैं, क्योंकि भारत ने कभी भी एक टीम के रूप में ओलंपिक नहीं खेला है। भारतीय टीम वास्तव में अच्छा कर रही है और हम बहुत सकारात्मक हैं। इसलिए उन सभी अच्छी चीजों के साथ, हम जल्द से जल्द क्वालिफाई करने के लिए आश्वस्त हैं।” उन्होंने कहा, “न केवल ओलंपिक में जगह बनाना, बल्कि पदक जीतना भी काफी रोमांचक होगा।”

युगल पर ध्यान केंद्रित

इसी बीच, चेन्नई में ही टीम युगल जोड़ी पर भी ध्यान केंद्रित करेगी जिससे कि वे अगले महीने ओलंपिक क्वालिफिकेशन में अच्छी स्थिति में रहे। पुर्तगाल के इवेंट में चार एकल और एक युगल टाई शामिल होंगे। साथियान या शरथ कमल में से दो एकल खेलेंगे, हालांकि दोनों युगल के लिए जोड़ी बनाने की स्थिति में नहीं होंगे।

शरथ कमल ने स्पोर्टस्टार वेबसाइट से बात करते हुए कहा, “युगल सबसे महत्वपूर्ण होगा, क्योंकि टाई की शुरुआत इसी के साथ होगी। हम युगल को लेकर चिंतित हैं क्योंकि आम तौर पर साथियान और मैं जोड़ी बनाते हैं। लेकिन इस (ओलंपिक क्वालिफिकेशन) टूर्नामेंट में हम एक साथ नहीं खेल सकते, क्योंकि हम में से एक को दो एकल खेलने होंगे। ऐसे में अब हमें सभी क्रम परिवर्तन और संयोजनों का अभ्यास करने की आवश्यकता है।”