भारतीय महिला टीम ने एफआईएच क्वालिफायर में हासिल किया ओलंपिक टिकट

भारतीय महिला टीम ने अमेरिका को एग्रीगेट में 6-5 से हराकर ओलंपिक टिकट हासिल कर लिया है।

लेखक रितेश जायसवाल ·

भारतीय महिला टीम ने अमेरिका को एग्रीगेट में 6-5 से हराकर ओलंपिक टिकट हासिल कर लिया है।

भारतीय महिला हॉकी टीम ने भुवनेश्वर के कलिंगा स्टेडियम में अपना दूसरा ओलंपिक क्वालीफायर मुकाबला अमेरिका के खिलाफ खेला। जिसमें भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा। शनिवार को खेले गए इस मुकाबले में अमेरिका ने भारत को 4-1 से शिकस्त दी। इस मैच में भारत की ओर से इकलौता गोल कप्तान रानी रामपाल ने मारा।

हालांकि, इस हार के बावजूद भारतीय टीम ने टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए टिकट हासिल कर लिया है। ऐसा इसलिए क्योंकि भारतीय टीम अमेरिका को एग्रीगेट में 6-5 से हराने में कामयाब रही है। ओलंपिक के लिए भारतीय टीम ने लगातार दूसरी बार क्वालिफाई किया है। 

एग्रीगेट में भारत ने 6-5 से हराया

भारतीय महिला हॉकी टीम ने शुक्रवार को खेले गए पहले ओलंपिक क्वालिफायर में अमेरिका को 5-1 से करारी शिकस्त दी थी। वहीं, शनिवार को खेले गए दूसरे मुकाबले में भारत को 1-4 से हार का मुंह देखना पड़ा।

ऐसे में दोनों मैचों के गोल मिलाकर या कहें एग्रीगेट में भारत 6-5 से अमेरिका को हराने में कामयाब रहा। जिसके चलते भारत ने 2020 में होने वाले टोक्यो ओलंपिक के लिए टिकट हासिल कर लिया है।

रानी का गोल बना ओलंपिक टिकट

हॉकी के दूसरे क्वालिफायर में भारतीय टीम शुरू से ही दबाव में नज़र आई। अमेरिका ने दमदार शुरुआत करते हुए 5वें मिनट में ही गोल मारकर अपना खाता खोल दिया।

जिसके बाद पूरे मैच में मेहमान टीम भारतीय खिलाड़ियों पर हावी नज़र आई।

फाइनल क्वार्टर में रानी रामपाल के गोल के बाद जश्न मनाती हुई भारतीय टीम। फोटो क्रेडिट: हॉकी इंडिया

अमेरिका ने लगातार एक के बाद एक चार गोल दागते हुए अपनी जीत पक्की कर ली।

भारत की तरफ से कप्तान रानी रामपाल ने 49वें मिनट में एक शानदार गोल किया। जो एग्रीगेट में अमेरिका को 6-5 से हराकर ओलंपिक टिकट दिलाने में मददगार साबित हुआ।