वॉलीबॉल

ओलंपिक क्वालिफिकेशन में बिना किसी जीत के ख़त्म हुआ भारतीय स्पाइकर्स का सफर

पुरुषों के टोक्यो वॉलीबॉल क्वालिफिकेशन इवेंट में विनीत कुमार की अगुवाई वाली भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया से 1-3 से मिली शिकस्त

लेखक अरसलान अहमर ·

चीन के जियांगमेन में चल रहे मेंस कॉन्टिनेन्टल वॉलीबॉल क्वालिफ़िकेशन इवेंट में भारतीय वॉलीबॉल टीम का सफर हार के साथ समाप्त हो गया। गुरूवार को हुए मुकाबले में उसे ऑस्ट्रेलिया के हाथों 1-3 से हार सामना करना पड़ा।

हालांकि इस मुकाबले के नतीजे का भारतीय टीम पर कोई फ़र्क नहीं पड़ने वाला था क्योंकि भारतीय स्पाइकर्स पहले ही लगातार दो हार के साथ प्रतियोगिता के साथ-साथ ओलंपिक क्वालिफ़िकेशन से भी बाहर हो गए थे। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मैच में अपनी प्रतिष्ठा के लिए खेल रही भारतीय टीम ने अच्छी शुरुआत करते हुए पहले सेट को 27-25 से अपने नाम किया। लेकिन जैसे-जैसे मुकाबला आगे बढ़ता गया 2019 एशियन सीनियर मेंस वॉलीबॉल चैंपियनशिप की उपविजेता टीम ने मैच में अपनी पकड़ बनानी शुरु कर दी और इस मैच को 25-27, 25-21, 25-21, 25-22 से अपने नाम कर लिया। 

इस हार के साथ प्रतियोगिता में भारतीय टीम का सफर यहीं समाप्त हो गया। आपको बता दें ऑस्ट्रेलिया से मिली हार से पहले टीम को क़तर और दक्षिण कोरिया से शिकस्त का सामना करना पड़ा था।

भारत के सी जेरोम विनिथ ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 11 प्वाइंट अर्जित किए। फोटो क्रेडिट: FIVB

सधी हुई शुरुआत

प्रतियोगिता में बिना कुछ खोने के डर से खेल रही भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अच्छी शुरुआत की। अमित और अजितलाल ने शानदार खेल का मुज़ाहिरा पेश करते हुए कोर्ट में अपने हुनर का प्रमाण पेश किया।

अमित ने शानदार खेल के साथ भारत के लिए मैच में सबसे अधिक 13 अंक बटोरे। इसमें से उन्होंने 12 अंक अटैक के ज़रिए अर्जित किए जबकि 1 अंक उनको अपनी सर्व से हासिल हुआ। अमित के अलावा केरल की जोड़ी चंद्रा और विनिथ दोनों ने 11-11 अंक हासिल किए।

इन खिलाड़ियों के अलावा जी एस आखीन ने भी अपना शानदार खेल जारी रखा। बुधवार को दक्षिण कोरिया के खिलाफ बेहतरीन ऑलराउंड प्रदर्शन करने वाले इस खिलाड़ी ने इस मुकाबले में 9 अंक अर्जित किए।

मेंस कॉन्टिनेन्टल वॉलीबॉल क्वालिफ़िकेशन इवेंट में भारत के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी थॉमस एडगर ने किया शानदार प्रदर्शन। फोटो क्रेडिट: FIVB

ऑस्ट्रेलिया ने दिखाया दम

पहले सेट में मिली हर के बावजूद ऑस्ट्रेलिया टीम ने हिम्मत नहीं हारी और मुकाबले में शानदार वापसी करते हुए अगले तीनों सेटों को अपने नाम कर फतेह हासिल की।

ऑस्ट्रेलिया के लिए उनके अनुभवी खिलाड़ी थॉमस एडगर ने अपनी टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई। एडगर ने शानदार खेल के साथ ऑस्ट्रेलिया के लिए मैच में कुल सबसे अधिक 27 अंक बटोरे। इसमें से उन्होंने 25 अंक अटैक के ज़रिए अर्जित किए जबकि 2 अंक उनको अपनी सर्व से हासिल हुआ।

एडगर के साथ सैमुअल वॉकर और जॉर्डन रिचर्ड्स ने भी टीम की जीत में अहम भूमिका अदा की। इन दोनों ने क्रमश: 20 और 12 अंक अपनी टीम की झोली में डाले।

इस जीत के साथ अब ऑस्ट्रेलिया पूल बी में दूसरे स्थान पर पहुंच चुका है लेकिन सेमी-फाइनल में जगह बनाने के लिए उसे क़तर और दक्षिण कोरिया के बीच होने वाले नतीजे का इंतज़ार करना पड़ेगा।