ओलंपिक क्वालिफायर के लिए जनवरी में होगा कुश्ती का ट्रायल 

रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया चयन बैठक में एशियाई ओलंपिक क्वालिफायर और अगले साल के लिए निर्धारित एशियाई चैंपियनशिप के लिए करेगी भारतीय टीम का फैसला।

लेखक ओलंपिक चैनल ·

मार्च 2020 में होने वाले एशियाई ओलंपिक क्वालिफायर के लिए भारतीय कुश्ती टीम का फैसला जनवरी के पहले सप्ताह में सेलेक्शन ट्रायल के बाद किया जाएगा। हालांकि फेडरेशन ने अभी तारीखों की पुष्टि नहीं की है, लेकिन अनुमान के तौर पर ट्रायल्स 10-11 जनवरी को आयोजित किए जाने की संभावना है।

गौरतलब है कि चार कोटा स्थान (पुरुषों की फ्री स्टाइल 57 किग्रा, 65 किग्रा, 86 किग्रा, और महिलाओं की फ्रीस्टाइल 53 किग्रा) पहले ही पक्के कर लिए गए हैं। भारतीय टीम अब मार्च 27 से 29 तक चीन के ज़ियान में होने वाले क्वालिफायर्स में शेष श्रेणियों में भी जगह पक्की करने की उम्मीद कर रही है।

एशियाई प्रतियोगिता में भारतीय पुरुष फ्रीस्टाइल 74 किग्रा, 97 किग्रा और 125 किग्रा भार वर्ग व महिलाएं 50 किग्रा, 57 किग्रा, 62 किग्रा, 68 किग्रा, 76 किग्रा और ग्रीको-रोमन सभी भार वर्ग में एक जगह पक्की करने की कोशिश करेंगे। यदि वे महाद्वीपीय क्वालिफिकेशन में जगह पक्की करने में असफल रहते हैं तो भारतीयों के पास अप्रैल 2020 में बुल्गारिया के सोफिया में वर्ल्ड ओलंपिक क्वालिफायर में टोक्यो 2020 के लिए कोटा स्थान हासिल करने का एक और मौका होगा।

साक्षी मलिक: भारत की इस कुश्ती स्टार ने पुरानी विचारधारा को नकारा

"रियो 2016 ओलंपिक में कांस्य पदक हासिल करके साक्षी मलिक ने भारतीय महिला पहल...

भारतीय प्रतिभागिता

उम्मीद जताई जा रही है कि WFI पिछले महीने आयोजित सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में सभी गोल्ड मेडल विजेताओं, अंडर-23 वर्ल्ड कुश्ती चैंपियनशिप के पदक विजेताओं और उन पहलवानों को शामिल करने के लिए संदेश पत्र भेजा जाएगा जिन्हें मेडिकल इमरजेंसी के कारण नेशनल्स छोड़ना पड़ा।

इस सूची में विभिन्न गैर-ओलंपिक भार वर्ग के कुश्ती खिलाड़ी भी शामिल हो सकेंगे, लेकिन उन्हें 2020 के टोक्यो खेलों में जगह पक्की करने के लिए ओलंपिक वर्ग श्रेणी से प्रतिभागिता करनी होगी।

ट्रायल्स के दौरान कुछ रोमांचक मुकाबले देखने को मिल सकते हैं। जिनमें दो बार के ओलंपिक पदक विजेता सुशील कुमार और गौरव बालियान के बीच मैच हो सकता है। बालियान, जिन्होंने दक्षिण एशियाई खेलों में एक और गोल्ड मेडल जीतने से पहले सीनियर नेशनल चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता, उन्हें अपने पहले ओलंपिक में हिस्सा लेने के लिए भारतीय दिग्गज खिलाड़ी से मुकाबला करना होगा।

Sushil Kumar makes a comeback

The double Olympic medallist is returning to competition at India's Nationa...

महिला वर्ग में, रियो ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साक्षी मलिक, पूजा ढांडा और सरिता मोर पर भी नजरें रहेंगी, वे सभी ओलंपिक वर्ष में भारतीय टीम का हिस्सा बनने के लिए लड़ेंगी।

एशियाई सपना

अगले महीने होने वाले चयन परीक्षणों में एशियाई चैंपियनशिप के लिए टीम का फैसला किया जाएगा। महाद्वीपीय इवेंट 18-23 फरवरी को नई दिल्ली में होने की संभावना है।

WFI ने महाद्वीपीय इवेंट के लिए 65 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में शीर्ष ड्रा रेसलर बजरंग पुनिया को छूट दी है, साथ ही इस साल की शुरुआत में ही विश्व चैंपियनशिप में ओलंपिक के लिए कोटा स्थान हासिल कर चुके दीपक पुनिया (86 किग्रा) और रवि दहिया (57 किग्रा) की जोड़ी को भी छूट दी है।