आर्चरी वर्ल्ड कप हुआ रद्द, जानिए भारतीय आर्चर राहुल बनर्जी को इस बात की खुशी क्यों है?

लॉकडाउन के चलते लगभग सभी भारतीय अर्चारों को घर पर ही अभ्यास करना पड़ रहा है, जिसमें राहुल बनर्जी भी शामिल हैं।

आर्चरी वर्ल्ड कप, साल में एक बार खेली जाने वाली प्रतियोगिता रद्द कर दी गई है। भारतीय दिग्गज आर्चर राहुल बनर्जी (Rahul Banerjee) ने इस फैसले का पूरी तरह से सम्मान किया है। राहुल का मानना है कि प्रतियोगिता के इस समय रद्द हो जाने से हमे आगे की तैयारी करने के अतिरिक्त समय मिल जाएगा।

टोक्यो 2020 की बात की जाए तो भारत ने 4 कोटा स्थान हासिल कर लिए हैं और उन खिलाड़ियों के नाम हैं अतानु दास (Atanu Das), तरुणदीप राय (Tarundeep Rai) और प्रवीन जादव (Pravin Jadhav)। वहीं वूमेंस रिकर्व इवेंट में दीपिका कुमारी (Deepika Kumari) ने अपनी जगह पक्की कर ली है। राहुल बनर्जी भी चीज़ों के सामान्य होने का इंतज़ार कर रहे हैं ताकि वह टोक्यो के लिए क्वालिफाई कर सकें।

मार्च के महीने में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप की वजह से सभी खेलों को रोक दिया गया था लेकिन अब स्पोर्ट्स एसोसिएशन दोबारा से खेल को धीमे-धीमे शुरू करने के पक्ष में नज़र आ रही है।

दूसरी तरफ वर्ल्ड आर्चरी ने देशों को छोटे-छोटे अंतरराष्ट्रीय इवेंट को होस्ट करने के लिए प्रेरित किया है। एशियन गेम्स के मेडल विजेता और ओलंपियन राहुल बनर्जी को यह निर्णय सही लगा और ओलंपिक चैनल से उन्होंने इस पर कहा, “देश के हालत की वजह से हम लोग पिछले कुछ महीनों से अभ्यास नहीं कर रहे हैं।”

“कुछ देशों ने ट्रेनिंग और तैयारियां शुरू भी कर दी हैं। कोरिया में एक बार फिर ओलंपिक के ट्रायल्स हो रहे हैं। लेकिन भारत जैसे बहुत से देश हैं जिनमें अभी हालात के सुधरने का इंतज़ार करना चाहिए।”

लंदन 2012 में भारतीय आर्चर राहुल बनर्जी मेडल जीतने की एक बड़ी उम्मीद थे 
लंदन 2012 में भारतीय आर्चर राहुल बनर्जी मेडल जीतने की एक बड़ी उम्मीद थे लंदन 2012 में भारतीय आर्चर राहुल बनर्जी मेडल जीतने की एक बड़ी उम्मीद थे 

जहां नेशनल फेडरेशन ने सभी इवेंट्स को रद्द या स्थगित कर दिया है, वहीं 30 प्रतिशत ऐसे भी हैं जो सावधानी बरतते हुए यातायात करने के लिए भी तैयार हैं। हालांकि हमें यह भी याद रखना होगा कि वर्ल्ड आर्चरी ने 1 सितम्बर से वर्ल्ड रैंकिंग को दोबारा से खोलने का फैसला कर लिया है और यह 1 अप्रैल 2021 तक ऐसे ही चलेगी। अब जब नई रैंकिंग सामने आएंगी तो ऐसे में किसी के भी अंक नहीं काटे जाएंगे।

घर में किया अभ्यास

राहुल बनर्जी का मानना है कि भारतीय अर्चेरों को अभी राहत नहीं है और उन्हें अभ्यास के लिए अभी और इंतज़ार करना होगा।

उन्होंने आगे कहा, “हमे अभी आर्चरी एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया ने कोई अपडेट नहीं दिया है आखिरी अपडेट में हमें कहा गया था कि इवेंट जुलाई के अंतिम भाग से शुरू होगा। नेशनल गेम्स भी इस साल के अंत में होने थे, लेकिन अब सब कुछ स्थगित कर दिया गया है।”

33 वर्षीय भारतीय आर्चर घर पर ही अभ्यास कर खुद को और ज़्यादा सक्षम बना रहे हैं। राहुल बनर्जी ने आगे कहा, “मेरे घर के ड्राइंग रूम में एक छोटा सा लक्ष्य है और मैं उसी पर निशाना साधता हूं। ज़्यादातर हम 10 फॉर्म ट्रेनिंग करते हैं। लेकिन जब तक हम डिस्टेंस ट्रेनिंग नहीं करते तब तक हमारी प्रोग्रेस के बारे में अंदाज़ा लगाना मुश्किल है।”

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!