भारतीय महिला तीरंदाज़ों को जून 2021 में मिलेगा ओलंपिक में क्वालिफ़ाई करने का आख़िरी मौक़ा

दीपिका कुमारी ही इकलौती भारतीय तीरदांज़ हैं, जिन्होंने अब तक टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफ़ाई किया है।

भारतीय महिला तीरंदाज़ी टीम के पास टोक्यो ओलंपिक में क्वालिफ़ाई करने के लिए अगले साल जून 2021 में होने वाला पेरिस स्टेज ऑफ वर्ल्ड कप आख़िरी मौक़ा होगा।

भारत ने अगले साल होने वाले ओलंपिक के लिए तरुणदीप राय (Tarundeep Rai), अतानु दास (Tarundeep Rai) और प्रवीण जाधव (Pravin Jadhav) के तौर पर पुरुषों की तीरंदाजी में पूर्ण कोटा हासिल कर लिया है जबकि दीपिका कुमारी (Deepika Kumari )वर्तमान में देश की एकमात्र महिला तीरंदाज हैं जिन्होंने कोटा अर्जित किया है।

दीपिका कुमारी के एक कोटा प्राप्त करने का मतलब है कि व्यक्तिगत महिला रिकर्व में उनकी भागीदारी के अलावा, यह मिश्रित टीम स्पर्धा में भारत के प्रवेश की गारंटी है, जिसमें कम से कम एक पुरुष और एक महिला को एक टीम के रूप में प्रतिस्पर्धा करने की आवश्यकता होती है।

पुरुषों के विपरीत, भारतीय महिला तीरदांज पिछले जून में हुई विश्व चैंपियनशिप में ज्यादा कोटा हासिल करने में नाकाम रहीं थीं।

भारतीय महिला तीरंदाज़ी टीम को ओलंपिक कोटा हासिल करने का आख़िरी मौक़ा जून 2021 में पेरिस में होने वाले वर्ल्ड कप में मिलेगा 
भारतीय महिला तीरंदाज़ी टीम को ओलंपिक कोटा हासिल करने का आख़िरी मौक़ा जून 2021 में पेरिस में होने वाले वर्ल्ड कप में मिलेगा भारतीय महिला तीरंदाज़ी टीम को ओलंपिक कोटा हासिल करने का आख़िरी मौक़ा जून 2021 में पेरिस में होने वाले वर्ल्ड कप में मिलेगा 

क्वालिफाई करने का आखिरी मौका

महिला तीरंदाजों के लिए क्वालिफाई करने का आखिरी मौका इस साल होने वाले बर्लिन स्टेज ऑफ वर्ल्ड कप में था, जिसे कोविड-19 महामारी के कारण स्थगित कर दिया गया। इसके साथ ही ओलंपिक की तिथि को भी आगे बढ़ाना पड़ा।

हालांकि वर्ल्ड आर्चरी ने अब क्वालिफाई करने के लिए नई मानदंड सूची की घोषणा की। राष्ट्रीय ओलंपिक समितियों को अंतिम क्वालिफायर को छोड़कर सभी स्थानों पर जीते गए स्थानों की पुष्टि करने के लिए नई समय सीमा 1 जून, 2021 निर्धारित की है। वहीं अंतिम क्वालिफायर के लिए 2 जुलाई 2021 को अस्थायी रूप से निर्धारित किया गया है।

ओलंपिक के लिए प्रवेश की समय सीमा अब अगले साल 5 जुलाई तक बढ़ा दी गई है, 28 जून 2021 तक प्रतिभागी ज्यादा से ज्यादा स्कोर हासिल कर क्वालिफाई कर सकते हैं। पहले ये अवधि अप्रैल 2020 से 30 जून 2020 तक थी।

पिछले महीने ही स्पोर्ट्स ग्लोबल गवर्निंग बॉडी वर्ल्ड आर्चरी ने घोषणा की थी कि 2020 में कोई भी योग्यता कार्यक्रम नहीं होगा और रैंकिंग भी फ्रीज होगी।

इस बयान में कहा गया था कि “कार्यकारी बोर्ड ने 30 अप्रैल को कॉन्फ्रेंस कॉल के माध्यम से बताया कि टोक्यो ओलंपिक 2020 के नए क्वालिफिकेशन कैलेंडर को मजूंरी दे दी गई है। अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक समिति द्वारा सभी बदलाव किए गए हैं।”

इसके अलावा कहा गया कि "यह 2021 तक खेलों को स्थगित करने और कई क्वालिफाइंग टूर्नामेंट रद्द करने के कारण जरूरी था। साल 2020 में कोई ओलंपिक स्पर्धा नहीं होगी, उनका आयोजन अब साल 2021 में किया जाएगा।”

अब कोटा नियमों के तहत दीपिका कुमारी टोक्यो के लिए क्वालिफाई करने वाली एकमात्र भारतीय महिला तीरंदाज हैं, जिसका मतलब है कि केवल 2 और ही महिला तीरदांज ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व कर पाएंगी।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!