खेल रत्न के लिए नीरज चोपड़ा और विनेश फ़ोगाट के नामों की सिफ़ारिश 

भारोत्तोलक मीराबाई चानू और टेनिस खिलाड़ी दिविज शरण को अर्जुन पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया है।

अनुभवी भारतीय पहलवान विनेश फोगाट (Vinesh Phogat) को देश के सर्वोच्च खेल सम्मान, प्रतिष्ठित खेल रत्न पुरस्कार के लिए रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) द्वारा सिफारिश की गई है।

पिछले साल देश की शीर्ष रैंक की महिला पहलवान इस पुरस्कार से चूक गई थीं। जिसे बजरंग पुनिया (Bajrang Punia) ने इसे जीता था। जिसकी वजह से लगातार दूसरी बार विश्व चैंपियनशिप की कांस्य पदक विजेता के नाम की सिफारिश की गई है।

राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार एक पदक, एक प्रमाण पत्र और नकद पुरस्कार प्रदान करता है।

विश्व चैंपियनशिप पदक के आधार पर टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करने वाली देश की एकमात्र महिला खिलाड़ी, विनेश फ़ोगाट ने जकार्ता में 2018 एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक और इस वर्ष की शुरुआत में एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता है।

नीरज चोपड़ा की फिर से AFI ने की सिफ़ारिश 

एक और भारतीय एथलीट जो लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा है, वह नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) हैं, जिन्हें खेल रत्न पुरस्कार के लिए सिफारिश की गई है।

केवल 22 साल के इस जेवेलिन थ्रोअर को पहले ही तीन बार देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार के लिए राष्ट्रीय महासंघ द्वारा सिफारिश की जा चुकी है।

नीरज चोपड़ा को 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक के बाद अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने के बाद, उन्हें 2018 में खेल रत्न के लिए सिफारिश की गई थी।

कोहनी की चोट के साथ 2019 सीज़न के अधिकांश समय बाहर बैठने के बाद इस प्रतिभाशाली एथलीट ने अपनी पहली ही प्रतियोगिता में 87.86 मीटर के थ्रो के साथ वापसी की और टोक्यो ओलंपिक में अपना स्थान पक्का किया।

View this post on Instagram

Passion 🎯

A post shared by Neeraj Chopra (@neeraj____chopra) on

मिराबाई चानू अर्जुन पुरस्कार के लिए नामांकित 

खेल रत्न पुरस्कार और पद्म श्री पुरस्कार जीतने के बाद भारतीय भारोत्तोलन महासंघ (IWLF) ने अब अर्जुन पुरस्कार के लिए मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) की सिफारिश की है।

मीराबाई चानू ने प्रेस ट्रस्ट ऑफ़ इंडिया (PTI) से कहा कि, "मुझे पता है कि खेल रत्न सबसे बड़ा सम्मान है, लेकिन मैं पहले अर्जुन पुरस्कार से चूक गई थी और मैं ये सम्मान भी हासिल करना चाहती हूं। कभी-कभी आप सब कुछ हासिल करना चाहते हैं। अर्जुन पुरस्कार प्राप्त करना खिलाड़ियों को अच्छा लगता है।”

स्टार वेटलिफ्टर को यूएसए में 2017 वेटलिफ्टिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में अपने स्वर्ण पदक के बाद दो पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था।

उनके अलावा, राष्ट्रीय महासंघ ने रगाला वेंकट राहुल (Ragala Venkat Rahul) और पूनम यादव (Punam Yadav) के नामों की भी अर्जुन पुरस्कार के लिए सिफारिश की है।

रगाला वेंकट राहुल जूनियर सर्किट पर लय में नज़र रहे हैं, जहां 23 वर्षीय ने दो राष्ट्रमंडल चैंपियनशिप और एक राष्ट्रमंडल खेल स्वर्ण सहित कई पदक जीते हैं।

2018 के राष्ट्रमंडल खेलों में पूनम यादव भी स्वर्ण पदक जीतने के बाद सुर्खियों में रही थीं।

टेनिस में अंकिता रैना (Ankita Raina) और दिविज शरण (Divij Sharan) को अर्जुन पुरस्कार के लिए ऑल इंडिआ टेनिस एसोसिएशन (AITA) द्वारा सिफारिश की गई है।

टोक्यो ओलंपिक में भारत के संभावित टेनिस प्रतिनिधियों में से एक, 34 वर्षीय दिविज शरण ने 2018 एशियन गेम्स में पुरुषों के डबल्स का स्वर्ण पदक जीता और अगले ही साल दो एटीपी खिताब अपने नाम किया।

अंकिता रैना फेड कप में अपने प्रभावशाली प्रदर्शन के बाद टेनिस में देश की सनसनी बनकर उभरी हैं, जहां भारतीय टीम इतिहास में पहली बार विश्व ग्रुप प्ले-ऑफ में पहुंची थी। 2018 एशियन गेम्स में अंकिता रैना ने कांस्य पदक हासिल किया था।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!