राजीव गांधी खेल रत्न के लिए विनेश फ़ोगाट और मनिका बत्रा के नामों पर सिफ़ारिश

खेल रत्न भारत का सर्वोच्च खेल सम्मान है। खेल मंत्रालय ने अर्जुन पुरस्कार के लिए भी 29 एथलीटों की सिफ़ारिश की है।

लेखक विवेक कुमार सिंह ·

अनुभवी भारतीय पहलवान विनेश फ़ोगाट (Vinesh Phogat) और स्टार टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा (Manika Batra) के नामों पर खेल मंत्रालय ने प्रतिष्ठित राजीव गांधी खेल रत्न (Rajiv Gandhi Khel Ratna) पुरस्कार के लिए सिफारिश की है। ये भारत का सर्वोच्च खेल पुरस्कार है।

उनके अलावा, खेल मंत्रालय की 12-सदस्यीय चयन समिति ने क्रिकेटर रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और पैरा हाई-जम्पर मरियप्पन थंगावेलु (Mariyappan Thangavelu) को खेल रत्न के लिए सिफारिश की है। इस समिति में पूर्व भारतीय क्रिकेटर वीरेन्दर सहवाग (Virender Sehwag) और हॉकी कप्तान सरदार सिंह ( Sardar Singh) शामिल थे।

ये सिर्फ दूसरी बार है जब एक साथ चार एथलीटों के नामों को सबसे बड़े खेल सम्मान के लिए भेजा गया है। 2016 में शटलर पीवी सिंधु (PV Sindhu), जिमनास्ट दीपा कर्माकर (Dipa Karmakar), शूटर जीतू राय (Jitu Rai), और पहलवान साक्षी मलिक (Sakshi Malik) को खेल रत्न से सम्मानित किया गया था।

विनेश फोगाट और मनिका बत्रा ने 2018 से शानदार प्रदर्शन किया है

टोक्यो खेलों के लिए क्वालिफाई करने वाली एकमात्र महिला पहलवान, विनेश फोगाट के नाम की जून में रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) ने सिफारिश की थी, जबकि मनिका बत्रा के नाम की टेबल टेनिस फेडरेशन ऑफ इंडिया (TTFI) ने सिफारिश की है।

53 किग्रा भारवर्ग में ओलंपियन पहलवान विनेश फोगाट हाल में भारत के सबसे सफल पहलवानों में से एक हैं, जिन्होंने 2018 एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक और 2020 के एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता।

मनिका बत्रा अपने 2018 सीज़न के बाद से भारतीय टेबल टेनिस की पोस्टर गर्ल रही हैं।

दिल्ली की इस पैडलर ने जकार्ता में 2018 एशियाई खेलों में ऐतिहासिक मिश्रित युगल का कांस्य पदक जीता। उससे पहले उन्होंने 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में एकल और साथ ही टीम इवेंट में स्वर्ण पदक जीता। ऐसा करने वाली वो भारत की पहली महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी हैं

मनिका बत्रा 2018 राष्ट्रमंडल खेलों में सिंगल्स और टीम इवेंट में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली खिलाड़ी हैं।

पैरा एथलीट थंगावेलु को 2016 के रियो पैरालंपिक्स में टी-42 हाई-जंप में अपने स्वर्ण पदक जीतने के बाद, सबसे बड़े खेल पुरस्कार के लिए सिफारिश की गई थी।

अतानु दास और दिविज शरण को अर्जुन पुरस्कार के लिए सिफारिश

मंत्रालय ने खेल रत्न के सिफारिशों के अलावा, अर्जुन पुरस्कार के लिए एक लंबी सूची भी जारी की है। 29 सदस्यीय सूची में तीरंदाज़ अतानु दास (Atanu Das) और टेनिस खिलाड़ी दिविज शरण (Divij Sharan) शामिल हैं।

ओलंपिक पदक जीतने वाली भारत की पहली महिला पहलवान, साक्षी मलिक और पूर्व विश्व चैंपियन वेटलिफ्टर मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) के नाम की अर्जुन पुरस्कार के लिए, उनके राष्ट्रीय महासंघों ने सिफारिश की है।

हालांकि, साक्षी और मीराबाई ने पहले खेल रत्न पुरस्कार जीता है, इसलिए अर्जुन के लिए उन पर विचार करने का अंतिम निर्णय खेल मंत्री किरेन रिजिजू (Kiren Rijiju) द्वारा लिया जाएगा।