असम सरकार का फैसला, ढिंग एक्सप्रेस हिमा दास बनीं DSP

भारतीय एथलीट हिमा दास की नज़र ओलंपिक गेम्स में क्वालिफाई करने पर है और वह डोमेस्टिक सीज़न में पूरे जोश के साथ दौड़ती दिखेंगी।

लेखक जतिन ऋषि राज ·

ग्लोबल ट्रैक खिताब जीतने वली हिमा दास (Hima Das) को असम सरकार ने पुलिस उप अधीक्षक का पद दे दिया है।

चीफ मिनिस्टर सर्बानंद सोनोवाल (Sarbananda Sonowal) के साथ हुई मीटिंग के बाद इस खबर की घोषणा की गई है। यह पद हिमा को स्टेट की स्पोर्ट्स नीति के अंतर्गत दिया गया है। ग़ौरतलब है कि खिलाड़ियों को क्लास-I और क्लास-II के पद दिए जाते हैं और वह पुलिस, एक्साइज और ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट में से होते हैं।

हिमा जब DSP का कार्यकाल संभालेंगी तो बाकी ओलंपिक गेम्स, एशियन गेम्स और कॉमनवेल्थ गेम्स के मेडल विजेताओं को असम सरकार की तरफ से क्लास-I डिपार्टमेंट का भार दिया जाएगा। इस खबर की सूचना इंडस्ट्री मिनिस्टर चंद्रा मोहन पटोवारी (Chandra Mohan Patowary) ने दी है।

8वीं नेशनल और इंटरनेशनल रेस वॉकिंग चैंपियनशिप से शुरू होगा और यह इवेंट रांची में इसी वीकेंड पर आयोजित किया जाएगा। ढिंग एक्सप्रेस मार्च में होने वाले फेडरेशन कप से पहले भारतीय ग्रां प्री में दिख सकती हैं।

20 वर्षीय हिमा दास का अभी टोक्यो ओलंपिक गेम्स में क्वालिफाई करना बाकी है और इसी वजह से वह डोमेस्टिक प्रतियोगिताओं में ज़्यादा से ज़्यादा हिस्सा लेने की कोशिश करेंगी और जुलाई-अगस्त के महीने तक अपने ग्रेड को ऊंचा भी रखने का पूरा प्रयास करेंगी।

ज़्यादातर 400 मीटर में भाग लेने वाली इस भारतीय रनर ने 2018 वर्ल्ड अंडर 20 चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता था और तब से लेकर अब तक उन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा।

धावक ने अपनी लय को बरकरार रखते हुए 2018 एशियन गेम्स के 400 मीटर इवेंट में सिल्वर मेडल अपने नाम किया था और एशियाड में वह 4x400 मीटर मिक्स्ड रेलत टीम का हिस्सा भी रहीं थी और उन्होंने अव्वल स्थान भी बुक किया था।

चोट किसी भी खिलाड़ी को रोकने के लिए काफी होती है और हिमा के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। इस कौशलपूर्ण धावक को चोट के चलते वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशियो से बाहर होना पड़ा था और अब वह ओलंपिक के सीज़न में दोबारा वापसी करने की कोशिश में लगी हुई हैं।

निजी सर्वश्रेष्ठ 50.79 सेकंड के साथ हिमा दास ने नेशनल रिकॉर्ड स्थापित किया हुआ है और वह क्वालिफाइंग स्टैण्डर्ड (51.35) के लिए और भी बेहतर होने का प्रयास करेंगी।

असम की रनर भारतीय स्प्रिंटर दुती चंद (Dutee Chand) के साथ 4x100 मीटर रिले में टीम बनाकर ट्रैक पर उतरेंगी और ऐसे में इस इवेंट में भारत का टोक्यो गेम्स में क्वालिफाई करना आसान हो सकता है।