घर पर ट्रेनिंग करने से मिलती है सकारात्मक ऊर्जा: बी साई प्रणीत

भारतीय शटलरों की प्रगति की नियमित निगरानी उनके प्रशिक्षकों द्वारा ऑनलाइन की जाती है, जो प्रतिदिन एथलीटों को कॉल करते हैं।

भारतीय टॉप रैंक पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी बी साई प्रणीत (B Sai Praneeth) को लगता है कि घर पर नियमित ट्रेनिंग करना पोजिटिव माइंडसेट रखने में मदद करता है।

कोरोना महामारी के कारण पूरे देश में लॉकडाउन लगा हुआ है और एथलीटों को घर में रहते हुए करीब एक महीने का वक्त हो गया है। ऐसे में बैडमिंटन वर्ल्ड फेडरेशन (Badminton World Federation) ने तो जुलाई के अंत तक सभी टूर्नामेंट को रद्द कर दिया है।

वहीं भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी भी कई हफ्तों से अपनी नियमित ट्रेनिंग नहीं कर पा रहे हैं। अब लॉकडाउन खत्म होने के बाद उन्हें फिर से अपनी फिटनेस जल्द से जल्दी हासिल करनी होगी।

27 साल के इस खिलाड़ी को लगता है कि घर पर प्रैक्टिस करने से शरीर कड़ी ट्रेनिंग और चुनौती के लिए तैयार रहेगा।

ओलंपिक चैनल से बातचीत के दौरान भारतीय स्टार ने बताया कि हम घर पर उस तरह की ट्रेनिंग नहीं कर सकते, जैसे की हम जिम में करते हैं लेकिन यह हमें सकारात्मक रखने में मदद करती है। इसके साथ ही हमें कड़ी ट्रेनिंग के लिए खुद को तैयार भी रख पा रहे हैं।”

भारतीय एथलीट अपने कोच के साथ जूम एप पर रोजाना वीडियो कॉल करते हैं और अपनी प्रगति के बारे में सूचना देते हैं। प्रणीत ने कहा कि “हम अपने कोच से रोजाना फोन पर बात करतें हैं और वह व्यक्तिगत तौर पर सभी को सलाह देते हैं। खुद को मानसिक तौर पर मजबूत रखने के लिए हम योग का भी सहारा लेते हैं।”

भारतीय खिलाड़ी ने बताया कि सब कुछ सामान्य होने के बाद भी लय में आने के लिए दो से ढाई महीने का वक्त लगेगा”। अभी बीडबल्यूएफ इवेंट कब आयोजित कब करेगा ये किसी को पता नहीं है।

इस खिलाड़ी ने बताया कि “शारीर को दोबारा उसी स्तर को हासिल करने में भी वक्त लगेगा, मुझे लगता है कि फिटनेस हासिल करने में भी एक से डेढ महीने का वक्त लगेगा।”

ओलंपिक के लिए क्वालिफिकेशन

बी साई प्रणीत को टोक्यो ओलंपिक की ज्यादा चिंता की जरुरत नहीं है क्योंकि वह लगभग इसके लिए क्वालिफाई कर चुके हैं। यह खिलाड़ी ‘रेस टू टोक्यो- बीडबल्यूएफ ओलंपिक क्वालिफिकेश’ रैंकिंग में 5,527 पॉइंट के साथ 13वें स्थान पर काबिज़ है।

हालांकि, BWF ने विश्व रैंकिंग को फिलहाल नजरअंदाज कर दिया है और ओलंपिक क्वालिफिकेशन की कट-ऑफ तारीख 26 अप्रैल, 2020 से बढ़ाकर 25 अप्रैल, 2021 कर दी है। बी साई प्रणीत को लगता है कि स्पोर्ट्स फेडरेशन के पास ओलंपिक और टूर्नामेंट को स्थगित करने के सिवाय और कोई चारा नहीं था, उन्होंने ये भी माना कि खिलाड़ियों ने इसके लिए काफी मेहनत की है।

भारतीय स्टार खिलाड़ी ने कहा कि “कई ऐसे भी खिलाड़ी हैं, जिन्होंने खुद का पैसा लगा कर ट्रैवल किया होगा। सभी का मानना था कि इस साल ओलंपिक होगा और कट-ऑफ की तारीख 26 अप्रैल 2020 होगी। बीडबल्यूएफ ने घोषणा की है कि वे एक उचित क्वालिफिकेश प्रक्रिया को फॉलो करेंगे और मुझे भी उम्मीद है कि वे सही काम ही करेंगे।”

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!