सुनहरा भविष्य: 6 भारतीय शटलर BWF जूनियर रैंकिंग के टॉप-10 में शामिल

उभरते हुए खिलाड़ी वरुण कपूर और सामिया इमाद फ़ारूक़ी बॉयज़ और गर्ल्स सिंगल्स रैंकिंग में वर्ल्ड नंबर-2 पर हैं।

लेखक सैयद हुसैन ·

पिछले कुछ दशकों में पीवी सिंधु (PV Sindhu) और साइना नेहवाल (Saina Nehwal) जहां भारतीय बैडमिंटन में क्रांति लाए हैं, तो नई पीढ़ी भी उन्हीं के नक़्श-ए-क़दमों पर चलने के लिए तैयार है।

ताज़ा बैडमिंटन वर्ल्ड फ़ेडरेशन (BWF) जूनियर रैंकिंग में कुछ ऐसी ही तस्वीर देखने को मिली है, जहां 6 भारतीय जूनियर शटलरों ने अलग-अलग श्रेणियों में टॉप-10 में जगह बनाई है।

BWF ने कोरोना वायरस (COVID-19) को देखते हुए 17 मार्च 2020 को सभी रैंकिंग को फ़्रीज़ कर दिया था, लेकिन इसके बाद उन्होंने रोलिंग रैंकिंग सिस्टम को लागू किया है – जिसके तहत अर्जित किए गए सभी अंकों को जोड़ा जाता है लेकिन कटता कोई अंक नहीं है, जब तक कि रैंकिंग फिर अनफ़्रोज़ेन न हो जाए।

17 वर्षीय वरुण कपूर (Varun Kapur) और सामिया इमाद फ़ारूक़ी (Samiya Imad Farooqui) भारत की ओर से बॉयज़ और गर्ल्स सिंगल्स रैंकिंग में सबसे ऊपर हैं। दोनों ही अपनी अपनी श्रेणी में वर्ल्ड नंबर-2 पर है।

कपूर ने पिछले साल पुर्तगाल इंटरनेशनल में ख़िताबी जीत दर्ज की थी जो उनकी छठी टाइटल थी। तो वहीं हैदराबाद की सामिया जो अंडर-15 एशियन चैंपियन भी रह चुकी हैं, उन्होंने अपनी करियर रैंकिंग में 6 स्थानों की छलांग के साथ सर्वश्रेष्ठ मुक़ाम पर हैं।

गर्ल्स सिंगल्स कैटेगिरी में इसके अलावा तीन और भारतीय शटलर टॉप-10 में मौजूद हैं – तसनीम मीर, नंबर-4 (Tasneem Mir), ट्रीसा जॉली, नंबर-8 (Treesa Jolly) और अदिति भट्ट, नंबर-10 (Aditi Bhatt)। तसनीम ने इस दौरान 8 स्थानों की छलांग लगाई तो जॉली और भट्ट को 11 पायदान का फ़ायदा हुआ।

जॉली और भट्ट इसके साथ-साथ डबल्स कैटेगिरी में भी क्रमश: आठवें और नौवें स्थान पर क़ाबिज़ हैं। इन सबके साथ साथ जो छठी भारतीय शटलर टॉप-10 में शामिल हैं वह हैं तनिशा क्रास्टो (Tanisha Crasto) – जो संयुक्त तौर पर 9वें स्थान पर हैं।

भारतीय जूनियर शटलरों की इन उपलब्धियों पर बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया (BAI) के अध्यक्ष हिमान्ता बिस्वा (Himanta Biswa) ने भी ख़ुशी ज़ाहिर की।

“ये देखकर गर्व होता है कि भारतीय जूनियर शटलर भी लाजवाब प्रदर्शन कर रहे हैं। इस रैंकिंग से उन्हें इस कठिन साल में काफ़ी प्रोत्साहन मिलेगा और आगे भी अच्छा करने की ललक होगी।“

आपको ये भी बताते चलें कि बॉयज़ में एस शंकर मुथुस्वामी सुब्रामनियम (S. Sankar Muthusamy Subramanian) बॉयज़ सिंगल्स में 11वें स्थान पर रहे, जबकि तान्या हेमंत (Tanya Hemanth) गर्ल्स सिंगल्स रैंकिंग में 12वें स्थान पर हैं। भारतीय बैडमिंटन के प्रमुख कोच पुलेला गोपीचंद (Pullela Gopichand) की बेटी गायत्री गोपीचंद (Gayatri Gopichand)भी गर्ल्स सिंगल्स रैंकिंग में 15वें पायदान पर हैं।

एक और भारतीय अयान राशिद (Ayan Rashid) भी तसनीम मीर के साथ मिक्स्ड डबल्स में 11वें स्थान पर हैं, जबकि मिक्स्ड डबल्स में ही तनिशा क्रास्टो 19वें स्थान पर क़ाबिज़ हैं।

प्रमुख तस्वीर: फ़ेसबुक/BAI