भारतीय डबल्स बैडमिंटन कोच फ्लैंडी लिम्पेले ने कोच के पद से दिया इस्तीफ़ा

सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी से पिछले सीज़न में बेहतर प्रदर्शन करवाने वाले इस इंडोनेशियाई ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

भारतीय बैडमिंटन को एक झटका लगा है, युगल कोच फ्लैंडी लिम्पेले (Flandy Limpele) ने भारतीय राष्ट्रीय सेट अप से इस्तीफ़ा दे दिया है।

बैडमिंटन एसोसिएशन ऑफ इंडिया (BAI) द्वारा जारी एक बयान में बताया गया कि इंडोनेशियाई कोच ने अपने पद से हटने के पीछे व्यक्तिगत कारणों का हवाला दिया है।

"पारिवारिक कारणों के कारण, भारतीय युगल कोच, फ्लैंडी लिम्पेले ने अपने पद से हटने का फैसला किया है और भारतीय बैडमिंटन टीम के लिए युगल कोच के रूप में अपने वर्तमान पद से इस्तीफ़ा दे दिया है। लिम्पेले 7 मार्च को अपने घर वापस चले गए थे।’’

एथेंस में 2004 ओलंपिक में पुरुषों के डबल्स में कांस्य पदक जीतने वाले 46 वर्षीय, भारतीय बैडमिंटन डबल्स सेट अप का एक अभिन्न हिस्सा थे, जो पिछले सीज़न में प्रमुखता से अपनी ज़िम्मेदारी निभाई थी।

जहां सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी (Satwiksairaj Rankireddy) और चिराग शेट्टी (Chirag Shetty) की युगल जोड़ी ने पुरुषों के शीर्ष 10 में जगह बनाने के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया, तो वहीं अश्विनी पोनप्पा (Ashwini Ponappa) और एन सिक्की रेड्डी (N Skikki Reddy) की महिला युगल जोड़ी ने 2019 में शानदार प्रदर्शन किया था।

इस सीजन में ओलंपिक में जगह बनाने के लिए सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी कोशिश में लगी है, ऐसे में फ्लैंडी लिम्पेले का कोच के पद से हटना किसी बड़ा झटके से कम नहीं है।

इस बीच किसी भी नए कोच के बारे में कोई बात नहीं कही गई है, हालांकि नामरीह सुरोतो और ड्वी क्रिस्टियावान हैदराबाद में राष्ट्रीय शिविर का नेतृत्व करेंगे।

एक बयान में कहा गया है कि "फिलहाल युगल टीम को हैदराबाद में विशेषज्ञ प्रशिक्षकों की एक टीम द्वारा प्रशिक्षित किया जा रहा है - नामरीह सुरोतो और ड्वी क्रिस्टियावान (विदेशी कोच), विजय दीप, प्रज्ञा गद्रे और अरुण विष्णु के साथ मुख्य राष्ट्रीय कोच, पुलेला गोपीचंद इस प्रशिक्षण टीम के साथ हैं।

भारतीय टीम को लगा झटका

एक साल से भी कम समय में भारतीय बैडमिंटन सेट अप को छोड़ने वाले फ्लैंडी लिम्पेले तीसरे विदेशी कोच हैं।

पिछले सीजन में पीवी सिंधु (PV Sindhu) को विश्व चैंपियनशिप खिताब दिलाने में अहम योगदान निभाया वाले दक्षिण कोरियाई किम जी ह्यून ने सितंबर में पद छोड़ दिया था, जबकि पिछले युगल कोच टान किम हर ने पिछले मार्च में अपने पद से इस्तीफ़ा दे दिया था।

जहां बाद में तान किम हर (Tan Kim Her) जापानी टीम में के साथ जुड़ गए थे, जबकि किम जी ह्यून (Kim Ji Hyun) चीनी ताइपे में एक क्लब के साथ शामिल हो गए हैं।

इस बीच अनुभवी इंडोनेशियाई कोच अगुस द्वी सैंटोसो (Agus Dwi Santoso) 10 मार्च को हैदराबाद पहुंचेंगे। सैंटोसो 2020 के ओलंपिक में भारतीय बैडमिंटन एकल टीम में शामिल होने के लिए तैयार हैं।

क्या आपको यह आर्टिकल पसंद आया? इसे अपने दोस्तों के साथ साझा करें!